टाइम पर खाएं या भूख लगने पर खाएं? जानें भोजन के नियम

डाइट-फिटनेस » टाइम पर खाएं या भूख लगने पर खाएं? जानें भोजन के नियम टाइम पर खाएं या भूख लगने पर खाएं? जानें भोजन के नियम Diet Fitness Published: Wednesday, January 31, 2018, 13:00 [IST]
चूंकि हम सब अलग अलग टाइम पर अलग अलग चीजें खाते हैं इसलिए हर एक आदमी का खाने का एक ख़ास तरीका होता है।
कुछ लोग जब भूख लगती है तब खाते हैं और कुछ लोग जब उनका खाने का समय होता है तब खाते हैं। हालांकि ये दोनों तरीके ना तो अच्छे होते हैं और ना ही बुरे होते हैं, सबके अपने अपने लाभ और नुकसान होते हैं।
खाना हम सबके लिए जरुरी होता है लेकिन इसे हम सब अलग अलग तरीके खाते हैं। हमारे शरीर को उर्जा के नुकसान और मेटाबोलिज्म को धीरे होने से रोकने के लिए हर 3 से 4 घंटे पर न्यूट्रीशन की जरुरत होती है। यहाँ हम आपको समय पर खाने और भूख लगने पर खाने के फायदों और नुकसान के बारे में बताने जा रहें हैं। भूख लगने पर खाने के फायदे:
1- आपके शरीर की जरूरतें पूरी होती हैं:
जब आपको भूख लगती है तब आपका दिमाग ठीक से काम करना बंद कर देता है इसलिए इस समय खाना अच्छा होता है क्योंकि इससे आपके शरीर को जरुरी न्यूट्रीयेंट्स मिल जाते हैं जिनकी उन्हें जरुरत होती है। 2- बॉडी न्यूट्रीयेंट्स को अच्छे से अवशोषित करती है:
भूख लगने पर अगर आप संतुलित डाइट खाते है तो उसमे मौजूद विटामिन, मिनरल्स, फाइबर और फैट आसानी से आपके शरीर में अवशोषित होते हैं और आपको ऊर्जा मिलती है। भूख लगने पर खाने के नुकसान:
1- आपको सही न्यूट्रीयेंट्स नहीं मिलते हैं:
जब आपको भूख लगती है तो आप ये नहीं सोचते कि आपके लिए क्या सही है और क्या गलत है। आपको जो मिला आप उसे ही खाने लगते है इससे आपको सही न्यूट्रीयेंट्स नहीं मिलते हैं। 2- आप ज्यादा खा लेते हैं:
जब आपको भूख लगती है तब आप यह ध्यान नहीं रखते हैं कि आपको कितना खाना है और आप खाते ही जाते हैं। इस वजह से आप बहुत ज्यादा खा लेते हैं जिससे आपको कई सारी दिक्कतें भी हो सकती हैं। 3- तनाव के कारण आप भूखे हो सकते हैं:
अगर आपको खाने के एक या दो घंटे के बाद ही भूख लगती है तो इसका कारण आपका तनाव हो सकता है। तनाव आपके खाने के तरीके को प्रभावित करता है। इसलिए आप अपने को तनाव फ्री रखने की कोशिश करें। टाइम पर खाने के फायदे:
1- बॉडी शेड्यूल फॉलो करने के लिए प्रशिक्षित होती है:
सही टाइम पर सही चीज खाने से आप ज्यादा नहीं खाते है और आपके पाचन तंत्र पर बहुत ज्यादा स्ट्रेस नहीं पड़ता है और आप स्वस्थ रहते हैं। 2- एसिडिटी और थकान नहीं होती है:
अगर आप खाने के लिए शेड्यूल फॉलो नहीं करते हैं तो आपको पेट से जुड़ी कई सारी समस्याएं होने की संभावना बढ़ जाती हैं। इसलिए समय पर खाने से आपको थकान और पेट की समस्यायें नहीं होती हैं जिससे आपको ऊर्जा मिलती है। 3- शरीर को अवशोषण का समय मिलता है:
अगर आप अपने समय के अनुसार ही खाते है तो आपके शरीर को न्यूट्रीयेंट्स को सही ढंग से अवशोषण करने का समय मिल जाता है जिससे आपका शरीर स्वस्थ रहता है। शेड्यूल पर खाने के नुकसान:
1- भूख ख़त्म हो जाती है:
कभी कभी आपको समय से पहले भूख लगती है और ऐसे में आप अपने टाइम को फॉलो करते है जिससे आपकी भूख ख़त्म हो जाती है और आपको कई सारी पेट की दिक्कतें हो सकती हैं। 2- आप पूरा खाना नहीं खाते हैं:
कभी कभी कई कारणों से आपको भूख नहीं होती है और आप अपने टाइम के अनुसार खाने लगते हैं जिससे आप सम्पूर्ण भोजन नहीं कर पाते हैं। इस वजह से आपको पूरे न्यूट्रीयेंट्स नहीं मिलते हैं। 3- आप जल्दी थक जाते हैं:
कभी कभी आप हल्का खाना खाते है जोकि जल्दी पच जाता है और आपको भूख लग जाती है लेकिन आप अपने खाने के टाइम का इंतज़ार करते हैं। ऐसे में आपको कमजोरी और थकान हो सकती है। English summary Should You Eat On Time Or When You're Hungry? Having a set schedule of eating can help provide structure for some people to help them lose weight. However, eating at set times, or set snacks in between meals, isn’t best for everyone. Story first published: Wednesday, January 31, 2018, 13:00 [IST]