Health and Fitness

साइनस से आराम पाना है तो सेब के सिरके का ऐसे करें इस्तेमाल

Saturday, October 28 2017

साइनस से आराम पाना है तो सेब के सिरके का ऐसे करें इस्तेमाल

अगर देखा जाए तो आजकल साइनस के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढती ही जा रही है और इसका कारण है सर्दियों में होने वाला स्मोग और प्रदूषण। हमारे खोपड़ी में कई सारे छिद्र होते हैं जिन्हें साइनस कहते हैं, जो सिर को हल्का रखने के साथ ही सांस लेने में मदद करते हैं। अगर इन छिद्रों में बलगम यानी म्यूकस भर जाता है तो हमें सांस लेने में दिक्कत होने लगती है और इसी को साइनोसाइटिस कहते हैं। आम बोलचाल की भाषा में इसे साइनस भी कहते हैं। यह समस्या उन लोगों में ज्यादा होती है जिनकी नाक की हड्डी बढ़ जाती है या फिर जो लोग एलर्जिक होते हैं। इन लोगों में यह समस्या कई दिनों तक बनी रहती है। अगर आपको साइनस की समस्या है तो आप अपने घर में ही सेब के सिरके की मदद से इसका उपचार कर सकते हैं। सेब के सिरके में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होने के साथ इसमें कैल्शियम, विटामिन A, E, B1 और B2 होते हैं जोकि साइनस कें इलाज में सहायक होते हैं। ये उन छिद्रों में मौजूद म्यूकस को बाहर निकालकर सांस लेने में आसानी पैदा करते हैं। लेकिन यह और भी अच्छा होता है जब आप सेब के सिरके में पानी और दूसरी अन्य चीजें भी मिला देते हैं। आइये हम आपको बताते हैं कि आप सेब के सिरके में और क्या मिला सकते हैं। सेब का सिरका और पानी: इसको बनाने के लिए आप दो चम्मच सेब का सिरका और 8 औंस पानी मिला सकते हैं। इसे आप ¾ कप सेब का सिरका और 16 औंस पानी मिलाकर बढ़ा भी सकते हैं। इस मिश्रण का सेवन करने से आपको साइनस में आराम मिलेगा। सेब का सिरका और गर्म पानी: दो चम्मच सेब का सिरका और एक कप गर्म पानी मिलाकर आप इस मिश्रण को तैयार कर सकते हैं। रोजाना इसका सेवन करने से यह आपके छिद्रों में मौजूद म्यूकस को आसानी से बाहर निकाल देगा और आपको आराम मिलेगा। सेब का सिरका और शहद: इसके लिए आप दो चम्मच सेब का सिरका, 8 औंस गर्म पानी और एक चम्मच शहद का एक मिश्रण बनाइये। चूंकि शाहद में एंटी-इन्फ्लामेट्री गुण होता है जिसकी वजह से यह आपके गले में होने वाली खिचखिच को दूर करता है। इस मिश्रण का आप सेवन कर सकते हैं जिससे आपको साइनस में लाभ मिल सके। सेब के सिरके का भाप: इसके लिए आप आधा कप सेब का सिरका और आधा कप पानी को लेकर कुछ मिनट तक इसे गर्म करें और अपने सिर को तौलिये से ढककर उसका भाप लें। ऐसा आप दिन में कई बार करें इससे आपको साइनस में बहुत ज्यादा आराम मिलेगा और सांस लेने में आसानी होगी। सेब का सिरका और डीकंजेस्टंट: इसके लिए आप ¼ चम्मच नींबू के रस को ¼ कप सेब के सिरके में मिलाकर कुछ देर तक गर्म करें इसके बाद इसमें ½ चम्मच अदरक का पाउडर और 3 चम्मच शहद डाल दें। इसके बाद इसे एक गिलास में रखकर एक या दो चम्मच का सेवन करें, इससे आपके छिद्रों में मौजूद म्यूकस ढीला होकर बाहर निकलेगा और आप आराम से सांस ले पायेंगे। अगर आप साइनस से परेशान हैं तो घबराइये नहीं ऊपर बताये गये तरीकों को अमल में लाये जिससे आपको साइनस में आराम मिलेगा।

आपकी नाभि का शेप बताता है आपकी पर्सनेलिटी के बारे में ?

Saturday, October 28 2017

आपकी नाभि का शेप बताता है आपकी पर्सनेलिटी के बारे में ?

क्या कोई चीज आपकी पर्सनेलिटी के बारे में बता सकती है ? ये बात आपको यूं भले ही अजीब लगे, लेकिन ये सच्चाई है। इस लेख के जरिए हम आपको वो आसान तरीका बताने जा रहे है कैसे आप व्यक्ति के नाभि के आकार के जरिए उसकी पर्सनेलिटी को जज यानि उसका मूल्यांकन कर सकते है। ऐसा कहा जाता है नाभि का शेप व्यक्ति की पर्सनेलिटी से जुड़े कई सारे सीक्रेट उजागर करता है। नेवल शेप की स्टडी ओम्फेलोमेंसी के नाम से जानी जाती है और इसका उपयोग किसी व्यक्ति की पर्सनेलिटी का अनुमान लगाने के लिए किया जाता है। तो आइए विभिन्न प्रकार की नाभि की शेप पर गौर करें और इससे जुड़ी पर्सनेलिटी की विशेषताओं के बारे में जानें। राशियों के हिसाब से ये है

गोल आकार की नाभि

अगर आपकी गोल, गहरी नाभि है, तो ये आपके आशावादी पर्सनेलिटी का संकेत है। आप ऐसे व्यक्ति जो चीजों का सकारात्मक पक्ष देखते है। उदाहरण के तौर पर, आप अंधेरे में उजाले की किरण तलाशेंगे। आप कम्यूनिकेशन में अच्छे है, आप अच्छे विचार रखते है और अपने सभी रिश्तों को अच्छे से निभाते है। इसके अलावा, आप स्वभाव से खुशमिजाज है।

बड़ी नाभि

अगर आपकी नाभि बड़ी और गहरी है, तो ये आपकी उदार पर्सनेलिटी का संकेत है। आप ऐसे व्यक्ति है जिसकी उदारता की कोई सीमा नहीं है। आप लोगों के साथ अच्छे से पेश आते है। इसके अलावा, आप उम्र के साथ अधिक बुद्धिमान हो सकते है और आप अपनी स्किल को भी अच्छे से मैनेज करते है।

छोटी नाभि

छोटी नाभि आपके व्यक्तित्व के गहरे पहलू के संकेत देता है। आप उस प्रकार के व्यक्ति के रूप में जाने जाते है जो राज को बेहतर ढंग से छुपा सकें। लोगों के डार्कर साइड यानि छिपे पक्ष को आप बहुत सहजता से समझ जाते है क्यूंकि ये आपकी स्वाभाविक प्रकृति है। आप मिस्टीरियस पर्सनेलिटी है, जिस कारण आपको समझना मुश्किल है।

उभरी हुई नाभि

ऐसा कहते है कि उभरी हुई नाभि एक मजबूत इच्छाशक्ति वाली पर्सनेलिटी का संकेत है। आप ऐसे व्यक्ति है जो हठीले लगते है। लेकिन सच्चाई ये है कि आप अपने विचारों पर दृढ़ रहने में विश्वास रखते है। प्यार आपके लिए एक मसला है, क्यूंकि समान विचारधारा वाले व्यक्ति को खोजने में आपको थोड़ा समय लगेगा, लेकिन जिस पल आप उन्हें ढूंढ लेंगे, तो वो साथ आपके लिए हमेशा के लिए बन जाएगा।

उपरी नाभि

ये नाभि का आइडियल शेप है। ये हेल्दी बर्थ और हेल्दी माइंड का संकेत है। आप जो भी काम करते है उसमें खुशमिजाज, उत्साही और सक्रिय है। आपका उत्साह शीघ्र प्रभावी है। आप अपने दिल में छुपे लक्ष्य रखते है जिन्हें आप अपनी जिंदगी में पूरा करना चाहते है।

अंडाकार नाभि

अगर आपकी नाभि अंडाकार है, तो इसका मतलब आप सक्रियता और अति-संवेदनशीलता से जुड़े है। आप ऐसे व्यक्ति है जो खाली नहीं बैठ सकते और आपके लिए हमेशा कुछ ना कुछ करते रहना जरूरी है। कई बार आप आसानी से बोर हो जाते है और हमेशा किसी नई चीज की तलाश करते है। वहीं दूसरी ओर, आप नाजुक भी है। आप चीजों को गहराई से महसूस करते है और आप आसानी से हर्ट हो सकते है।

चौड़ी नाभि

इस प्रकार की नाभि उन लोगों से संबद्ध होती है जिनमें हमेशा खुद का बचाव करने की प्रवृति होती है। आप ऐसे व्यक्ति है, जो आसानी से किसी पर विश्वास नहीं करते। वहीं दूसरी ओर, वे लोग जिन्हें आप अपनी निजी जिंदगी से जोड़ते है, वे आपकी दुनिया होते है और आप उनकी हर तरह से रक्षा करते है। वफादारी और विश्वास आपकी पर्सनेलिटी की प्रमुख विशेषताएं है। सामने वाला व्यक्ति आपके साथ जिस तरह से पेश आता है उसी के आधार पर आपका रवैया निर्धारित होता है।

रिवर्सड वाई-शेप की नाभि

ये दुर्लभ नाभि शेप है, लेकिन अगर आपकी नाभि का शेप ये है, तो इसका मतलब आप पर्दे के पीछे रहते है और सभी काम करते है। आप ऐसे व्यक्ति नहीं है, जो प्रसिद्धि पाने की अपेक्षा रखते है, क्यूंकि आप अपनी ताकत के बारे में अच्छे से जानते है। सफलता आपके लिए बहुत व्यक्तिगत है और आपकी खुशी भी। तो अगर आप किसी व्यक्ति की पर्सनेलिटी से जुड़े सीक्रेट जानना चाहता है तो उसकी नाभि पर गौर करें और उसके शेप के आधार पर उसकी पर्सनेलिटी को जज करें।

इन घरेलू नुस्खों से दूर होंगी आंखो की समस्याएं और बढ़ेगी रोशनी

Saturday, October 28 2017

इन घरेलू नुस्खों से दूर होंगी आंखो की समस्याएं और बढ़ेगी रोशनी

ये दुनिया कितनी सुंदर है और इसको देखने में भी बहुत अच्छा लगता है। हम नजारे लेते है और खुश होते है। इन सबके पीछे सिर्फ एक ही वजह है और वो है आपकी आंखे लेकिन सोचों अगर आपकी आंखे ही ना रहें तो क्या होगा। जी हां आंखें भी प्रकृति द्वारा हमें दिया गया एक ऐसा ही अनमोल उपहार है जिससे हम दुनिया की सुंदरता का अवलोकन कर आनंदित होते हैं। आपकी आंखें हैं अनमोल, ये टिप्स अपनाकर अपनी आंखें रखें सलामत इसलिए इनकी सुरक्षा एवं स्वास्थ्य के लिए सजग रहना हमारे लिये प्राथमिकता पर होना चाहिए। लेकिन कई बार आंखों की समस्याएं हमें आ घेरती हैं। ऐसी ही एक समस्या है आई स्टाई। दरअसल आई स्टाई आंखों में होने वाला एक प्रकार का इंफेक्शन है जिसमें पलक पर या आंख के निचले भाग में एक लाल रंग की चोट जैसी दिखती है। क्यों आजकल के युवा है दुबलेपन का शिकार, इन चीजों को करना आज ही बंद कर दें हालांकि ये स्टाई हानिरहित होते हैं, इनमें वे खुजली या दर्द भी हो सकता है। इन सारी समस्याओं से आपको बचना चाहिए क्योंकि आंखे बहुत ज्यादा जरूरी हिस्सा होता है। इस समय आपकी आंखों के लिए कोई भी लापरवाही आपके लिए खतरनाक साबितो हो सकती है। इसको सुरक्षित रखने के लिए नेचुरल तरीके अपनाएं जा सकते है। आपको आंखो की एलोवेरा आंखों की समस्‍याओं के लिए एक सरल और प्रभावशाली घरेलू उपचार है। स्टाई को ठीक करता है यह स्टाई को भी ठीक करता है उपचार के लिए एलोवेरा जूस को शहद और एल्डरबेर्री चाय के साथ मिलाकर इस द्रव्य मिश्रम से आंखों को दिन में दो बार धोने से न सिर्फ आंखों से आई स्टाई की समस्या दूर होती है बल्कि आंखें साफ और सुंदर भी होती हैं। इसलिए आपको एलेवेरा का इस्तेमाल करना चाहिए। आपको बता दें कि आप इसकी सहायता से किस तरह अपनी आंखों को स्वस्थ रख सकते है। आप आम दिनों में भी इसकी मदद से आंखों को साफ और रोग मुक्त रख सकते हैं। इसके प्रयोग के लिए किसी साफ-सुथरे मिट्टी या फिर स्टील के पात्र में दो चम्मच त्रिफला चूर्ण रात्रि एक गिलास पानी में भिगो कर, प्रात: स्वच्छ हाथों से खूब मलकर साफ कपड़े में छान लें। अब इस जल से आंखों को धीरे-धीरे छींटे मारकर धोना चाहिए जिससे प्राकृतिक पोषण मिलता है। इससे आपकी आंखों को आराम के साथ साथ रोशनी भी बढ़ती है।

गुलाब जल

आपको बता दें कि आंखो के लिए हमेशा गुलाबजल को अच्छा माना जाता रहा है और आंखों में संक्रमण के लिए गुलाबजल अच्‍छा उपचार होता है। संक्रमण या स्टाई से बचने के लिए 2 से 3 बूंदें गुलाबजल आंखों में डालने से तीन दिन के अंदर ही संक्रमण को प्रभावी ढंग से ठीक किया जा सकता है। इसके प्रयोग से आपकी आंखे हमेशा जवां रहेगी। आंखों को तरोताजा बनाता है गुलाब जल ना सिर्फ आंखो की बीमारियों को ठीक करने में मदद करता है बल्कि ये आंखों को साफ रखने के साथ साथ अन्हें तरो-तजा बनाता है उनकी थकान भी दूर करता है। इससे आंखो की दिनभर की थकान उतर जाती है और आप फ्रेश महसूस करते है।

धनिए के बीजों से उपचार

आपकी आंखो में अगर किसी भी तरह की कोई समस्या है या आपको स्टाई की समस्या है तो आपको इसके इलाज के लिए धनिये के बीज बहुत प्रभावी होते हैं। उपचार के लिए सबसे पहले पानी में धनियों के कुछ बीज डालें और उबाल लें। अब बीडों को पानी से छानकर बाहर कर दें और इस पानी से आंखों को धोएं। स्टाई की समस्या दूर हो जाएगी अगर आपने इस तरह से अपनी आखों का उपचार कर लिये तो इस उपचार को दिन में कई बार दोहराएं, जल्द ही स्टाई की समस्या दूर हो जाएगी। ये आपकी आंखो के लिए बहुत उपयोगी है। इससे आंखों का इलाज करें और स्वस्थ रहें।

लहसुन के रस से इलाज

आपने घर में लहसुन तो खाया ही होगा। ये छोटा दिखने वाला लहसुन बहुत बड़े काम का होता है। लहसुन के रस में जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो आई स्टाई को दूर करने में मददगार होते हैं। उपचार के लिए ताजा लहसुन का रस स्टाई पर लगाएं, लेकिन ध्यान रहे कि कैसे भी यह रस आंख के भीतर न जा पाए। सूख जाने पर इसे हल्के कुनकुने पानी से धो दें। इससे आपकी आंखो की रोशनी भी नहीं जाती है और आपकी आंखो से समस्या भी खत्म हो जाती है।

ग्रीन टी के बैग से करें इलाज

आपके स्वास्थ्य के लिए तो ग्रीन टी बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है। लेकिन क्या आपको पता है कि इसको हम दवा की तरह भी इस्तेमाल कर सकते है। यह आंखों में एलर्जी के लिए भी फायदेमंद होता है। आई स्टाई को ठीक करने के लिए एक कुनकुने टी बैग को स्टाई की जगह रख दें और ठंडा होने तक वहीं रखा रहने दें। आंखो का दर्द दूर होता है आपको बता दें कि इसका इस्तेमाल करने से आपकी आंखो का दर्द भी दूर हो जाता है और आपकी आंखो को आराम मिलता है। इसके लिए आपको पानी में दो ग्रीन टी के पैकेट डालें और इसको ठंडा होने दें। इसके बाद उसको आंखो में रखें। फिर आंखों को धो ले आपकी समस्या खत्म हो जाएगी।

OMG...यहां पर लाशें बनाती है शारीरिक संबंध, लाइन में लगकर देखते है लोग

Saturday, October 28 2017

OMG...यहां पर लाशें बनाती है शारीरिक संबंध, लाइन में लगकर देखते है लोग

आपने दुनिया में कई तरह की बातें सुनी होगी जो आपको हैरान करने के लिए काफी होती है। ऐसे में आपके पास कई लोग ऐसे होते है जो उन बातों को मानते है और कुछ लोग उसको मजाक में लेते है। आपने कई सारी ऐसी चीजें भी देखी या सुनी होंगी जिसकी बातों पर विश्वास करने का मन नही होता है। लेकिन वो बातें सच होती है। आपने ये तो सुना होगा कि इंसान संभोग करता है और यही नहीं ये प्रक्रिया जानवर भी करते है। आप ये सोच रहें होंगे कि बातें तो जब जानते है इसमें कौन सी नई बात है। यहां पर हुई थी खून की बारिश, इस राज का पता लगाने में फेल हो गए सारे वैज्ञानिक तो आपके बता दें कि अगर आप ये बातें मानते है तो अगर आपसे ये कहा जाए कि एक ऐसी जगह भी है जहां मरे हुए लोग यानि डेड बॉडी शारीरिक संबंध बनाते है तो आपको यकीन नहीं होगा। लेकिन ये हकीकत है। आइए जानते है कि वो कौन सी जगह है..

कैलिफोर्निया का मामला

आपको बता दें कि ये चौकाने वाला मामला अमेरिका के कैलिफोर्निया में देखने को मिला है। इस बात पर भरोसा करने का विश्वास तो नहीं होता है पर ये सच है। इस बात का पता चलते ही वहां लोगों की भीड़ लगी हुई है। आखिर क्या है इसकी सच्चाई आइए जानते है। आइए बताते है कि इस चौकाने वाली बात के पीछे क्या राज है। दरअसल यहां पर एक प्रदर्शनी लगाई लगाई गई है और इसकको लोग देखने आ रहे है। लोग इस तरह की प्रदर्शनी पहली बार देख रहे है लो लोगों को इसमें नई बात दिख रही है। लाश बनाती है संबंध आपको बता दें कि ये बात आपको चौंका देगी। इस प्रदर्शनी को इस तरह से लगाया गया है कि इसमें लाशों को संबंध बनाते हुए दिखाया गया है। इस तरह की प्रदर्शनी देखकर लोग आश्चर्यचकित है। कई लोगो के लिए रोमांचक है तो कई लोगों ने इसकी निंदा भी की है। जर्मनी के विवादित वैज्ञानिक आपको बता दें की इस प्रदर्शनी के पीछे पूरा क्रेडिट जर्मनी के एक विवादित वैज्ञानिक और इसकी पत्नी को दिया जाता है। दरअसल उसने अपनी पत्नी के साथ मिलकर इस अजीबो-गरीब प्रदर्शनी का आयोजन किया है। इसके लिए कई बातें की जा रही है। बालिग लोग ले सकते है टिकट इस प्रदर्शनी की खास बात ये है कि इसमें बालिग लोगों की ही इन्ट्री है और इसके लिए उन्होने इसके कड़े सुरक्षा इंतेजाम किए है। इसकी फीस भी काफी मंहगी है। इसको देखने के लिए करीब 20 डॉलर चुकाने पड़ रहे है। इसके बावजूद लोगों की यहां भीड़ लगी हुई है। एक अंग्रेजी अखबार ने इस बात का खुलासा किया है कि यहां इस बिना कपड़ों की लाशों के गुप्तांगो और उनको संबंध बनाते हुए दिखाए जाना गलत है। इस अखबार के मुताबिक ऐसा करना सही नही है इससे समाज पर गलत असर पड़ता है 10 लाख से ज्यादा लोग आ चुके है आपको बता दें कि इसमें कमाल की बात तो ये है कि इस प्रदर्शनी को देखने के लिए अब तक करीब 10 लाख लोग जा चुके है। ये बात इस प्रदर्शनी को हिट बना रही है और ये सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

अब जामुन की गुठलियां करेगी गंदे पानी की सफाई

Friday, October 27 2017

अब जामुन की गुठलियां करेगी गंदे पानी की सफाई

हैदराबाद:

हैदराबाद स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान के शोधार्थियों का कहना है कि खाने में बेहद स्वादिष्ट लगने वाले गूदेदार जामुन की गुठलियों का इस्तेमाल कर भूजल से फ्लोराइड की मात्रा कम करके उसे इस्तेमाल के लायक बनाया जा सकता है. आईआईटी हैदराबाद के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के सहायक प्रोफेसर चन्द्र शेखर शर्मा की अगुवाई में एक दल ने जामुन की गुठलियों से बनाये गये एक्टिवेटेड कार्बन का इस्तेमाल करके पानी में फ्लोराइड के स्तर को कम करने में सफलता हासिल की है.अनेक राज्यों के भूजल में फ्लोराइड की अधिकता एक गंभीर समस्या है और इससे स्वास्थ्य संबंधी अनेक समस्यायें पैदा होती हैं. आईआईटी दल के इन निष्कर्षो को हाल में ही जनरल ऑफ इनवायरमेंटल केमिकल इंजीनियरिंग में प्रकाशित किया गया है. शोधार्थियों ने जामुन की गुठलियों के पाउडर को अत्यधिक छिद्रयुक्त कार्बन सामग्री में बदल दिया .इसके बाद इसकी कार्यक्षमता बढ़ाने के लिये उच्च तापमान पर संसाधित किया गया. शर्मा ने यहां एक विज्ञप्ति में बताया कि सबसे पहले इस सामाग्री का परीक्षण प्रयोगशाला में तैयार सिंथेटिक फ्लोराइड पर किया गया. इसके बाद इसका परीक्षण तेलंगाना के नालगोंडा जिले के भूजल के नमूनों पर किया गया. इस क्षेत्र के भूजल में फ्लोराइड की समस्या देश में सबसे ज्यादा है. उन्होंने बताया कि इससे मिले परिणामों में पाया गया कि इस प्रक्रिया के बाद एक लीटर पानी में फ्लोराइड की मात्रा घटकर 1.5 मिलीग्राम से भी कम रह गयी. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार यह स्वीकार्य मात्रा है. शर्मा का कहना है कि देश के 17 राज्यों में भूजल में फ्लोराइड की समस्या है.फ्लोराइड मिला हुआ पानी पीने के काम नहीं आता है.

मैथी+ इन होम रेसिपी से बालों को बनाएं चमकदार और मजबूत

Friday, October 27 2017

मैथी+ इन होम रेसिपी से बालों को बनाएं चमकदार और मजबूत

मेथी के दानों के लाभ के बारे में तो वैसे सबको मालूम होता ही है, लेकिन आपको मालूम है कि मैथी न सिर्फ सेहत बल्कि सौंदर्य के लिहाज से भी काफी गुणकारी है। अगर आपको बालों को लेकर किसी भी तरह की समस्‍या है। चाहें वो ड्रेंडफ की समस्‍या हो या बाल ज्‍यादा टूट रहें हैं। बस इन आसान से नुस्‍खों से बालों की आप हर तरह की समस्‍या से निजात पा सकते हैं। मेथी में मौजूद पोषक तत्व ना सिर्फ बालों को मजबूती देते हैं बल्कि इन्हें घना भी बनाते हैं। आइए मेथी के सेवन से बालों को मिलने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।

मैथी में मौजूद तत्‍व

इसमें काफी मात्रा में प्रोटीन मौजूद होता है, जो गंजेपन को खत्म करने में मदद करता है. इसके अलावा, इसमें मौजूद पोटैशियम समय से पहले बालों को सफेद होने से बचाता है। वहीं, lecithin बालों के जड़ों को मजबूत बनने में मदद करता है। बनाए बालों को मजबूत और घना मेथी दाने को पानी में 24 घंटे के लिए भिगो कर रख दें, अब इसे निचोड़ कर पानी से निकाल लें और इस मेथी दाने के पानी से बालों को धोएं। इस पानी को लगभग 3 घंटे तक अपने बालों में रहने दें और फिर गुनगुने पानी से बालों को धो लें। बेहतर रिजल्ट के लिए ऐसा हर रोज़ करें। बालों को बढ़ने में करे मदद इसके लिए आपको मेथी दाने से बने हेयर मास्क की मदद लेनी होगी, मेथी दाने को पीसकर पेस्ट तैयार कर लें और इसमें नारियल का दूध मिलाएं। इस पेस्ट को अपने बाल और स्कैल्प पर लगाएं, आधे घंटे बाद शैम्पू से बालों को धो लें। बालों का गिरना और टूटना करे कम. दो चम्मच मेथी दाने लें और इन्हें अच्छी तरह पीस लें, इसमें में अब एक चम्मच नारियल तेल या ऑलिव ऑयल मिलाएं। इस पेस्ट को उस जगह पर लगाएं जहां से आपके बाल सबसे ज़्यादा झरते हैं या खराब हो चुके हैं। 10 मिनट बाद बालों को धो लें। हेयर मास्‍क इस तरह मेथी बालों की हर समस्या को दूर करने में लाभकारी सिद्ध होती है। क्योकि मेथी रसोईघर में सामान्य रूप से मिलने वाली खाद्य सामग्री है तो आप इसे बाजार से आसानी से प्राप्त कर सकते हो। इसका इस्तेमाल जितना आसान है उतनी ही कम कीमत में ये आपको मिल जाती है. तो बालों को स्वस्थ रखने के लिए मेथी से अच्छा और सस्ता कुछ और नही है। डैंड्रफ से दिलाए छुटकारा कुछ मेथी दाने लें और थोड़ी देर इन्हें पानी में भिगो कर रख दें. बाद में इस भीगे मेथी दाने को पीसकर पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट में एक चम्मच नींबू का रस अच्छी तरह मिला लें और अब इस पेस्ट को अपने स्कैल्प पर लगाएं. हफ्ते में ऐसा तीन बार करें और पाएं डैंड्रफ से हमेशा के लिए छुटकारा. बनाएं कंडीशनर 8 से 10 ग्राम भीगे मेथी दाने लें और इन्हें पीसकर कर बारीक पेस्ट तैयार कर लें। अब इस पेस्ट को अपने पूरे बाल और स्कैल्प पर लगाएं. सूख जाने के बाद बालों को अच्छी तरह धो लें। बस और क्या? पाएं सॉफ्ट और सिल्की बाल। सिर से अत्यधिक तेल हटाता है मेथी के बीज में प्राकृतिक मॉइस्चर के अलावा सिर में मौजूद अतिरिक्त तेल को हटाता है। इसके लिए 2-3 चम्मच मेथी के बीज का पाउडर लें और उसमें 1-2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर पेस्ट बनाएं। अब अंगुलियों का इस्तेमाल करते हुए यह पेस्ट सिर पर लगाएं और 12 मिनट बाद इसे धो दें। इससे आपके बाल बिना तेल के सॉफ्ट और सिल्की हो जाते हैं। बालों को सीधा करता है बालों हर महिला के बालों की कीमती धरोहर होती है, और हम सब इन्‍हें पोषण और मजबूती देने में समय निकाल देते हैं। रात में 4 tablespoons मेथी के बीज भिगोकर इसका पेस्‍ट बना लें। इसे पर्याप्त नारियल के दूध के साथ मिलाकर इसे सिर और जड़ों पर लगाएं। फिर इसे टॉवेल और शॉवर केप से कवर कर लें। इसके बाद इसे सुखने दें और फिर जादू देखिएं। जड़ों से खुजली दूर करता है एक कप पानी में मैथी के बीज भिगोकर उसका अगले दिन पेस्‍ट बनाएं। अब इसमें अंडे की जर्दी मिलाएं। इसके बाद इस पेस्‍ट को अपने बालों में लगाएं और 30 मिनट के लिए छोड़ दें, इसके बाद शैम्‍पू से बाल धो ले ताकि अंडे की बदबू चली जाएं। ये हेयर मास्‍क बालों की मुलायम बनाएंगा और पसीने को दूर करेगा साथ ही जड़ो से खुजली की समस्‍या से निजात दिलाएंगा।

तू रहता कहां क्या तेरा पता | In the Search of Destiny and it's Destination

Sunday, October 29 2017

तू रहता कहां क्या तेरा पता | In the Search of Destiny and it's Destination

बुरा काम करने वाला पहले यह भली प्रकार देखता है कि मुझे देखने वाला या पकड़ने वाला तो कोई यहाँ नहीं है ? जब वह भली-भाँति विश्वास कर लेता है कि उसका पाप कर्म किसी की भी दृष्टि या पकड़ में नहीं आ रहा है तभी वह अपने काम में हाथ डालता है। इस प्रकार जो व्यक्ति अपने आप को परमात्मा की दृष्टि या पकड़ से बाहर मानते हैं वे ही गलत काम करने को तत्पर हो सकते हैं। पाप कर्म करने का स्पष्ट अर्थ यह है कि वह व्यक्ति ईश्वर का मानने का दिखावा भले ही करता हो पर वास्तव में वह परमात्मा के आस्तित्व से इन्कार करता है। उसके मन को इस बात पर भरोसा नहीं होता है कि ईश्वर हर जगह मौजूद है। जो व्यक्ति पुलिस के चपरासी को भी देखकर भय से थर-थर कापा करते हैं वे लोग इतने दुस्साहसी नहीं हो सकते कि परमात्मा की आँखों के आगे, न करने योग्य काम करें, उसके कानून को तोड़े, उसके धैर्य की परीक्षा लें और उसका अपमान करें। ऐसा दुस्साहस तो सिर्फ वही कर सकता है जो यह समझता हो कि ईश्वर कहने, सुनने भर की चीज है। वह पोथी पत्रों में, मन्दिर मठों में,नदी, तालाबों में या कहीं स्वर्ग नरक में भले ही रहता हो, पर हर जगह वह नहीं है। मैं उसकी दृष्टि और पकड़ से बाहर हूँ। जो लोग परमात्मा की सर्व व्यापकता पर विश्वास नहीं करते, वे ही नास्तिक है। इन नास्तिकों में कुछ तो भजन या पूजा बिल्कुल नहीं करते, कुछ करते हैं। जो नहीं करते हैं वे सोचते हैं व्यर्थ का झंझट मोल लेकर उसमें समय गंवाने से क्या फायदा? जो पूजन भजन करते हैं वे भीतर से तो न करने वालों के समान ही होते हैं पर व्यापार बुद्धि से रोजगार के रूप में ईश्वर की खाल ओढ़ लेते हैं। कितने ही लोग ईश्वर के नाम के बहाने ही अपने जीविका चलाते हैं हमारे देश में न जाने कितने आदमी ऐसे हैं जिनकी कमाई, पेशा और रोजगार ईश्वर के नाम पर है। यदि ये लोग यह प्रकट करें कि हम ईश्वर को नहीं मानते तो उसी दिन उनकी ऐश आराम देने वाली बिना परिश्रम की कमाई हाथ से चली जायेगी। इसलिए इन्हें ईश्वर को उसी प्रकार ओढ़े रहना पड़ता है। जैसे जाड़े से बचने के लिए गर्मी देने वाले कम्बल को ओढ़े रहते हैं जैसे ही वह जरूरत पूरी हुई वैसे ही कम्बल को एक कोने में पटक देते हैं। एेसे लोग अपना उद्देश्य पूरा होते ही अपने असली रूप में आ जाते हैं। एकान्त में पापों से खुलकर खेलते हुए उन्हें जरा भी झिझक नहीं होती है। लोगों को धोखा देकर अपना स्वार्थ साधना, छल, प्रपंच, माया, दंभ, भय, अत्याचार, कपट और धूर्तता से दूसरों के अधिकारों को अपहरण कर स्वयं सम्पन्न बनना नास्तिकता का स्पष्ट प्रमाण है। जो पाप करने का दुस्साहस करता है वह आस्तिक नहीं हो सकता, भले ही वह आस्तिकता का कितना ही बड़ा प्रदर्शन क्यों न करता हो आस्तिकता का दृष्टिकोण बनते ही मनुष्य भीतर और बाहर से निष्पाप होने लगता है। वह सबसे नम्रता का मधुरता का स्नेह का आदर का सेवा का सरलता शुद्धता और निष्कपटता से भरा हुआ व्यवहार करता है। वह अपने स्वार्थों की उतनी परवाह नहीं करता है, खुद कुछ कष्ट भी उठाना पड़े तो उठाता है पर दूसरों का बुरा और अहित कभी नहीं करता है । Share this:

जानिए क्यों रोजाना पीना चाहिए 1 गिलास आंवले का जूस

Sunday, October 29 2017

जानिए क्यों रोजाना पीना चाहिए 1 गिलास आंवले का जूस

तंदुरुस्‍ती » जानिए क्यों रोजाना पीना चाहिए 1 गिलास आंवले का जूस जानिए क्यों रोजाना पीना चाहिए 1 गिलास आंवले का जूस आंवला को सारे पोषक तत्वों का पॉवर हाउस माना जाता है क्योंकि इसमें लगभग सभी पोषक तत्व बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। आंवला तो फायदा करता ही है लेकिन इसका जूस स्वास्थय के लिए और भी अधिक फायदेमंद होता है। अगर आप आंवले का जूस पीते हैं तो त्वचा में निखार के साथ साथ आपको और भी अविश्वसनीय औषधीय लाभ मिलेंगे। चूंकि इसमें बहुत ज्यादा मात्रा में विटामिन C होता है इसलिए यह ढेर सारी बीमारियों को दूर रखता है और बॉडी के इम्यून सिस्टम को भी बढ़िया रखता है। गौर करने वाली ये बात है कि आंवला में किसी भी फल और सब्जी की तुलना में प्रचुर मात्रा में एंटी-आक्सीडेंट गुण होते हैं जिसकी वजह से इसका जूस हेल्थ टॉनिक के बराबर ही कारगर होता है। तो आइये हम यहाँ आंवले के जूस से होने वाले कुछ फायदों के बारे में जानते हैं।

1. फैट को ख़त्म करता है:

आंवले के जूस को पीने से आपका मेटाबोलिज्म और प्रोटीन बनने की प्रक्रिया तेज हो जाती है। यह आपके शरीर से टॉक्सिक पदार्थों को बाहर निकालकर आपके शरीर के फैट को कम करता है।

2. कब्ज़ में आराम:

आंवले के जूस का इस्तेमाल करने से आपका पेट अच्छे से साफ़ होता है जिससे आपको कब्ज़ आदि की दिक्कत नही होती है। ध्यान रहे इस जूस का सेवन आप बहुत अधिक मात्रा में ना करें।

3. ब्लड को शुद्ध रखता है:

आंवले का जूस शरीर के विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर आपके ब्लड को शुद्ध रखता है जिससे आपका हीमोग्लोबिन और लाल रक्त कणिकाएं अधिकता में बनते है। इसमें एंटी-आक्सीडेंट गुण होने की वजह से यह ब्लड को शुद्ध रखकर आपकी त्वचा को भी फ्रेश रखता है।

4. आँखों के लिए अच्छा है:

आंवले के जूस का सेवन करने से आपकी आँखों की रोशनी अच्छी रहती है क्योंकि इसमें विटामिन C पाया जाता है जोकि आँखों की मसल्स के लिए अच्छा होता है। इसलिए आप रोजाना इसका सेवन करें।

5. ह्रदय के लिए अच्छा होता है:

अगर आप रेगुलर बेसिस पर आंवले के जूस का सेवन करते हैं तो आपको ह्रदय संबंधी बीमारियाँ जैसे हार्ट अटैक, स्ट्रोक आदि नहीं होंगी क्योंकि यह आपके बॉडी का कोलेस्ट्राल लेवल एकदम ठीक रखता है और आपका ह्रदय और तेजी से काम करता है।

6. हड्डियों को मजबूती देता है:

आंवले के जूस का इस्तेमाल करने से आपके शरीर में कैल्शियम की कमी नहीं होती है क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन C बॉडी को कैल्शियम प्रदान करता है जिससे आपको हड्डियों से जुडी समस्याएं नहीं होती हैं।

7. मासिक धर्म में आराम:

आंवले के जूस के इस्तेमाल से महिलाओं में होने वाले मासिक धर्म में बहुत राहत मिलती है क्योंकि यह उन्हें जरूरी विटामिन और मिनरल्स देने के साथ ही शरीर से टॉक्सिक पदार्थों को बाहर निकालता है।

8. अस्थमा में आराम:

अगर आपको अस्थमा की शिकायत है तो आप आंवले के जूस में कुछ बूंदे शहद की डालकर पियें जिससे आपको अस्व्थ्मा और सांस संबंधी समस्यायों में आराम मिलेगा।

9. कैंसर में बचाव:

आजकल लोगों में कैंसर को लेकर एक भय का माहौल है लेकिन आप अगर आंवले के जूस का सेवन करते हैं तो आपको कैंसर होने की सम्भावना कम होगी क्योकि इस जूस में सुपरऑक्साइड डिसम्यूटेज नामक एंटी-आक्सीडेंट होता है जोकि फ्री रेडिकल को ख़त्म करके कैंसर को दूर रखता है।

10. डायबिटीज नियंत्रित करता है:

अगर आपको डायबिटीज है तो आपको चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है, आप आंवले के जूस का सेवन करें आपको आराम मिलेगा, क्योंकि आंवले में मौजूद क्रोमियम आपके ब्लड ग्लूकोस लेवल को नियंत्रित करके इन्सुलिन के स्राव को बढाता है। अगर आप इस जूस में शहद और थोडा हल्दी का इस्तेमाल कर लें तो यह डायबिटीज के लिए और भी अच्छा हो जाता है। आंवला जूस एक शानदार औषधि है जोकि आपको कई सारी बीमारियों से दूर रखकर आपको स्वस्थ रहने में मदद करता है। इसलिए आप हेल्थ से सम्बंधित टेबलेट का क्यों इस्तेमाल करें जब आपके पास आंवला मौजूद है।

पैदा हुई इंसानी चेहरे वाली बिल्ली, दंग कर रही है वायरल फोटो

Saturday, October 28 2017

पैदा हुई इंसानी चेहरे वाली बिल्ली, दंग कर रही है वायरल फोटो

आजकल कई ऐसी चीजें देखने में आ रही है जिनके ऊपर हम यकीन नहीं कर सकते है। आपको बता दें कि कई ऐसे हादसे भी हो जाते है जो जिसपर हम यकीन नहीं कर सकते है। कुदरत लगातार ऐसे करिश्मे दिखा रही है जो आपको आश्चर्य में डालने के लिए काफी है। आपने ये जरूर सुना होगा कि एक बकरी ने बच्चे को जन्म दिया और उसकी शक्ल इंसानो के बच्चों की तरह थी। हां आपने जरूर सुना होगा एक बार तो आपको लगता है कि इस बात पर विश्वास कर लिया जाए पर कभी लगता है कि ऐसा नहीं हो सकता है। अनोखी मोहब्बत...इस लड़की ने रोबोट से किया शादी करने का फैसला, एक साल से करती है प्यार आपको अगर ऐसे में ये कहा जाए कि एक बिल्ली का बच्चा इंसान की तरह दिखता है तो आप शायद यकीन नहीं करेंगे पर ये सच है। आइए जानते है इस हैरान कर देने वाली बात के बारे में। आखिर ये कहां हुआ और इसमें कितनी सच्चाई है जानिए... एक बिल्ली की शक्ल इंसानी बच्चे की तरह आपको बता दें कि एक बिल्ली ने बच्चे को जन्म दिया है बताया जा रहा है कि ये बिल्ली का बच्चा एकदम इंसान के नवजात बच्चे की तरह दिखता है। लोग इसको देख के दंग है। लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है इस बात की जानकारी अभी नहीं हुई है। सुनने में आ रहा है कि इंसानी चेहरे वाली इस बिल्ली के बच्चे की पैदा होने की खबर मलेशिया से आ रही है। इस बिल्ली कै चेहरा बिल्कुल इंसानों के बच्चों का तरह है। मलेशिया में लोगों ने इस बात की पुष्टि भी की है तो वहीं कई लोग इस बात को मानने से मना कर रहे है। लैब में रखी गई आपको बता दें कि इसके बारे में ये भी पता चला है कि इस बिल्ली को मलेशिया की किसी लैब में रखा गया है। क्योंकि पैदा होने के बाद से ही इसकी हालत बिल्कुल भी ठीक नहीं है। इस कारण ये दुर्लभ बिल्ली को लैब में रखा गया है। पुलिस ने बचाया अफवाह आपको बता दें कि इस बारे में पुलिस का तो कुछ और ही मानना है। दरअसल जो बिल्ली मलेशिया में पैदा हुई है इस बारे में जब पुलिस से पूछा गया तो पुलिस ने इस बात को अफवाह बताया है। अब इसकी हकीकत क्या है इसका पता तो बाद में ही चलेगा। पुलिस ने बताया कि ये हमाके क्षेत्र का मामला है और ऐसी कोई जानकारी उनको नहीं मिली है। सोशल मीडिया में है वायरल हालांकि मलेशिया की पुलिस कुछ भी कह रही हो लेकिन इस बिल्ली की फोटो सोशल मीडिया में धमाल मचाए हुए और जमकर वायरल हो रही है। लोग इसके बारे में बाते कर रहे है। कि एक इंसानी चेहरे वाली बिल्ली का जन्म हुआ है। ऐसी दिख रही है बिल्ली आपको बता दें कि ये बिल्ली की शक्ल इंसान के बच्चों की तरह है और इसकी स्किन भी एकदम इंसानो की तरह ही है। ऐसा पता चला है कि इसकी फोटोज इंटरनेट पर बेंची जा रही है। ऐसी दुर्लभ शक्ल बिल्ली को पहली बार देखा गया है।

ये है दुनिया के सबसे बदनाम शिक्षक, शिक्षा को किया कलंकित

Saturday, October 28 2017

ये है दुनिया के सबसे बदनाम शिक्षक, शिक्षा को किया कलंकित

यह बहुत दुखी करने वाला है जब आपके बच्चे का सामना किसी बुरे टीचर से होता है। कई टीचर इतने बुरे होते हैं कि वे आपके बच्चे को नुकसान पहुंचाते हुये भी नहीं सोचते। आज हम आपको बताएंगें दुनिया के सबसे बुरे टीचर्स, जिन्‍होंने शिक्षक के नाम को कलंकित किया, इन टीचर्स को दूसरी बार पढ़ाने का लाइसेंस भी छीन लिया है। अच्छी बात ये है कि इनमें से अधिकतर टीचर अब जेल में हैं। ये 19 भयानक अध्यापक हैं जिन्हें कभी फिर से पढ़ाने नहीं देना चाहिए। टीचर ने छात्रों को स्पर्म कूकीज़ खिलाये दो दशकों तक प्राथमिक स्कूल का अध्यापक मार्क ब्रेण्ड्ट 30 छात्रों को आँखों पर पट्टी बांधकर स्पर्म में डूबे बिस्किट खिलाता। उसे तब पकड़ा गया जब एक फोटो टेक्नीशियन ने उसकी बच्चों की आँखों पर पट्टी बांधी हुई फोटो खींच ली और संस्था से संपर्क किया। ब्रेण्ड्ट अभी आजीवन कारावास काट रहा है। ठीक है, आपने बुरे टीचर्स के बारे में पढ़ा। लेकिन इसका एक और पहलू भी है। टीचर ने बच्चों को फर्श पर खाने को मजबूर किया एक पाँचवी कक्षा के बच्चे द्वारा अंजाने में फर्श पर पानी डालने के बाद एक वाइस प्रिंसिपल ने उसे और 14 अन्य बच्चों को फर्श पर खाना खाने को मजबूर किया। इस दौरान अन्य छात्रों ने उनका मज़ाक उड़ाया। जब उसने बच्चों को यह सब उसने पेरेंट्स को सब बताने के लिए कहा तो उसे निकाल दिया गया। उस पर 75,000 डॉलर का जुर्माना भी लगा। 7 और बच्चों ने भी मुकदमा किया और जीता। वाइस प्रिन्सिपल का ट्रांसफर दूसरी स्कूल में कर दिया गया। मैथ (गणित) के टीचर ने मैथ नहीं पढ़ाई एक रेडिटर ने बयाया कि उनका एक टीचर था जिसने मैथ नहीं पढ़ाई। वह प्रॉब्लम को बोर्ड पर लिख देता और कंप्यूटर पर विडियो गेम खेलने लग जाता। उसने कभी बच्चों के जवाब नहीं देखे और सभी को 100% दे देता। इसके अलावा, आश्चर्य की बात है कि उसे प्रि -एलजेबरा से एलजेबरा में मूव कर दिया गया था लेकिन उसको नहीं पता था वो क्या कर रहा है। रेडिटर के अनुसार जब एक स्टूडेंट टीचर से उलझ रहा था तो उसने उसका गला दबाया और कक्षा से बाहर फेंक दिया। उसे निकाल दिया गया। एक स्थानापन्न टीचर ने स्टूडेंट्स को बताया संता नहीं है यूके में एक टीचर ने स्टूडेंट्स को बताने का निर्णय लिया कि संता का कोई अस्तित्व नहीं है। इससे कई पेरेंट्स नाराज हुये। बच्चों की आशाओं और सपनों को बर्बाद करने के लिए प्रिन्सिपल ने उसे निकाल दिया। हो सकता है यह अतिशयोक्ति हो लेकिन उसे नौकरी से निकाल दिया गया। नशे में पढ़ाने के कारण टीचर को अरेस्ट किया गया साउथर्न केलिफोर्निया में, टोन्या नेफ़ कक्षा में आया और नशे में पढ़ाना शुरू किया। जब स्कूल प्रशासन को पता चला कि उसने ड्रिंक कर रखी है तो उसे तुरंत नर्स के पास ले जाया गया और तुरंत अरेस्ट किया गया। उस पर जुर्माना भी लगाया गया। सेलिब्रेटी के बच्‍चों के चक्‍कर में कॉमन बच्‍चों को अनदेखा किया एक रेडिटर ने इस बारे में बताया। उसने प्रसिद्ध बच्चों को किसी भी चीज के साथ भागने के लिए कहा। किसी के देखने के कारण उसे शर्मिंदगी भी झेलनी पड़ी। वह कूल बच्चों के साथ हैंग आउट करना चाहता था। टीचर ने अपने स्टूडेंट्स की कामोत्तेजक किताब छापी लियोनोरा रुस्ट्रामोव भी शिक्षकों पर धब्बा है। उसने अपने दो स्टूडेंट्स पर कहानियाँ गढ़ते हुये कामोत्तेजक रोमांस का उपन्यास लिखा और उसे प्रकाशित किया। उसे निकाल दिया गया। इसका पता नहीं है इस कथा का वो भी हिस्सा थी या नहीं। टीचर ने बच्चे को कोन पहनाकर शर्मिंदा किया फ्लोरिडा की टीचर मुश्किल में पड़ गई जब उसने बच्चों को डॉग कोन पहनाया। उसने इसे ‘कोन ऑफ शेम' कहा। बच्चों ने कहा कि वह बिना कारण के केवल उन्हें अपमानित करने के लिए ऐसा करती थी। टीचर ने बच्चों की फोटो फेसबुक पर डाली शिकागो की एक टीचर ने सात साल की स्टूडेंट के बालों का फोटो लिया और उसे फेसबुक पर डाल दिया। एक हेयरस्टाइल में जॉली रेंचर कैंडीज के रंगीन टुकड़े थे। इसके बाद उसने फोटो फेसबुक पर डाली और उसके दोस्तों ने भी मज़ाक उड़ाया। जब स्टूडेंट की माँ ने यह देखा तो स्कूल को तुरंत शिकायत की। अब लड़की के पेरेंट्स ने टीचर पर मुकदमा भी किया है। स्कूल इस बात की जांच कर रही है कि क्या टीचर ने कोई कानून तोड़ा है। टीचर ने स्टूडेंट के मुंह पर टेप लगा दिया कोलोरेडो की टीचर ने अपने आठवीं के बच्चे के मुंह को टेप से बंद कर दिया था। यदि बच्चे चुप नहीं हो रहे हैं तो मुंह पर टेप लगाना कितना सही है। टीचर को स्टूडेंट्स के स्तन छूने के कारण अरेस्ट किया गया ओलकाहोमा में 69 साल के टीचर विलियम पॉटर ने स्टूडेंट के साथ यौन हिंसा की। जब स्टूडेंट ने शिकायत की कि टीचर ने तीन बार स्तनों को छुआ और सेक्स के लिए कहा। यदि आरोप साबित होता है तो उसे 10 साल की जेल होगी। टीचर ने स्टूडेंट्स के सामने लैप डांस किया एक भावनात्मक आवेश में आप आशा कर सकते हैं कि तो टीचर एक दूसरे के साथ जिम में लैप डांस करें। विनपेग में चर्चिल हाई स्कूल में ऐसा ही हुआ। लैप डांस बहुत देर तक हुआ। कूल्हों पर मारना जैसे चीजें भी यहाँ हुई। बच्चे 13 साल या इसके आस-पास के थे उन्हें यह बहुत भद्दा लगा। बच्चों ने इसे रिकॉर्ड किया और इंटरनेट पर डाल दिया। टीचर्स को बिना सेलरी के भेज दिया गया। टीचर ने स्टूडेंट को खाली हाथों से पेशाब साफ करने को कहा फ्लोरिडा की एक टीचर ने स्टूडेंट को खाली हाथों से पेशाब साफ करने को कहा। यूरिनल में पेपर टावल में भरे थे और किसी के पेशाब में डूबे थे। यह तब हुआ जब उसने ऐसा करने के लिए स्कूल ऑफिस में आकर साबुन मांगा। उसके हाथ पूरी तरह पेशाब में डूब गए। टीचर 15 साल की स्टूडेंट से सेक्स करते पाई गई कैथरीन मरे टेक्सास में एक पंद्रह वर्षीय छात्र का अंग्रेजी ट्यूटर थी। उसने प्रेम पत्र लिखकर इज़हार किया, इसके बाद उनमें अफेयर शुरू हो गया। उस 15 साल के लड़के के भाई द्वारा बिस्तर पर पाये जाने पर उनके इस कारनामे का पता चला। उसे गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में, लड़के ने बताया कि उन्होने कई बार स्कूल में, घर में और होटल में कई बार सेक्स किया था। फ्लोरिडा की टीचर ने 6 स्टूडेंट्स को दूसरे स्टूडेंट पर हमला करने को कहा रेड्राइव्स विलियम्स उसकी टीचर ड्रू डेहार्ट ने कहा - "मैं आठवीं के बच्चे तुम्हारे पास भेजूँगी, तुम नहीं बच पाओगे"। सतर्कता कैमरे में रिकॉर्ड हुआ कि वह चल रही है और 6 स्टूडेंट्स ने विलियम्स पर हमला कर दिया। डेहार्ट को निकाल दिया गया और उसने इसके लिए माफी भी नहीं मांगी। इसका क्या उद्देश्य था पता नहीं चला है। टीचर ने स्टूडेंट को सेक्स प्रस्ताव दिया एरिजोना के टीचर जेम्स जियानोपोलस एक कम उम्र के स्टूडेंट को सेक्स के लिए उकसाने के लिए अरेस्ट किया गया। पुलिस को 15 साल के बच्चे के कई मैसेज मिले। इनमें से कई में सेक्स प्रस्ताव था। फ्लोरिडा टीचर ने स्टूडेंट से सेक्स किया और बच्चे का गर्भपात करवाया 17 साल के लड़के से 20 से 30 बार सेक्स करने और प्रेग्नेंट होने पर गर्भपात कराने वाली टीचर जेनिफर क्रिस्टाइन फीचर को तब अरेस्ट किया गया जब लड़के की माँ को पता लग गया था। लड़के की माँ को उनके रिश्ते पर शक हुआ और पुलिस को जाँचने को कहा। फीचर ने उसकी माँ को बताया कि वह उनके लड़के से प्यार करती थी और उसे कोई अफसोस नहीं है। फीचर सेंट्रल फ्लोरिडा एयरोस्पेस एकेडमी में इंग्लिश टीचर थी। दो छात्रों से यौन हिंसा करने पर टीचर को अरेस्ट किया गया एंडरा कर्डोसा केलिफोर्निया में रिवरसाइड एलीमेंट्री में टीचर थी। उसने दो बच्चों से यौन हिंसा की। एक बच्चे ने फोन पर इसकी रिकॉर्डिंग बनाई और संस्था को सौंपी। कर्डोसा को जेल भेजा गया। उसे इस अपराध के लिए 10 साल की जेल हुई।

GIRLS... अगर पीरियड आने से पहले पेट फूल जाता है तो करें ये काम

Saturday, October 28 2017

GIRLS... अगर पीरियड आने से पहले पेट फूल जाता है तो करें ये काम

लड़कियों के लिये रोजाना पीरियड्स का आना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन जब वे आते हैं तो अपने साथ ढेरों प्रॉब्‍लम्‍स ले कर चले आते हैं। पीरियड्स के दौरान बहुत सी लड़कियों का पेट फूल जाता है, जिससे उनके कपड़े पेट पर टाइट आने लगते हैं। ऐसे में परेशान ना हों क्‍योंकि यह तो पीरियड्स के दौरान सबको ही होता है। भूल कर भी ना खाएं ये 7 चीजें अपने पीरियड में पीरियड्स के दौरान आपके शरीर में ढेर सारे हार्मोनल चेंज होते हैं। पेट में ब्‍लोटिग, एक प्रोजेस्‍ट्रॉन हार्मोन की वजह से होती है। साथ ही उन्हें इस समय ब्रेस्ट टेंडरनेस यानी ब्रेस्‍ट में सूजन और कड़ापन जैसी अन्यअसुविधाएं भी महसूस होती हैं। लक्षण सामान्य तौर पर 14वें दिन से आरंभ होते हैं और मासिक के बंद होने के बाद 7 दिनों तक खींच सकते हैं। पेट की ब्‍लोटिंग पीरियड्स आने के बाद खुद ही चली जाती है। पेट में अगर हो बिल्‍कुल पीरियड जैसा पेन, तो जरुर पढे़ इसके कारणों को अगर आपका भी पेट पीरियड्स आने से पहले फूल जाता है यानी ब्‍लोट हो जाता है तो आज हम आपको कुछ ऐेसे आसान 10 उपाय बताएंगे, जिससे आपको इस प्रॉब्‍लम से छुटकारा मिल सकता है।

प्रोटीन और पोटैशियम वाले आहार खाना शुरु कर दें

हाई प्रोटीन फूड जैसे केला, खरबूज, टमाटर और अस्‍परैगस जैसी चीजों को अपनी डाइट में शामिल कर लें। ये चीजें आपके हार्मोन लेवल को कम करेंगी जो पेट को फुलाता है और मस्‍ल्‍स को मरोड़ता है। इसके अलावा अपने खाने में प्रोटीन लेना ना भूलें।

गैस बनाने वाले फूड से दूरी बना कर रखें

हो सकता है कि अपको बींस, ब्रॉक्‍ली या पत्‍तागोभी खाने में अच्‍छे लगते हों, लेकिन इन दिनों इनका त्‍याग कर दें क्‍योंक इस दौरान आपकी बॉडी खाने को ठीक से पचा नही पाती जिसके चलते पेट में गैस बनने लगती है।

एक्‍सरसाइज को रूटीन में रखें

एक्‍टपर्ट का मानना है कि पीरियड्स में आपको एक्‍सरसाइज जरुर करनी चाहिये जिससे पेट की सूजन ना हो। वो लड़कियां जो आरामदायक जिंदगी जीती हैं, उनका पाचन तंत्र काफी कमजो हो जाता है। इसके अलावा पसीना बहाने से आपको कब्‍ज की भी परेशानी नहीं होगी। आप चाहें तो योगा भी कर सकती हैं।

कॉफी और शराब से करें तौबा

पीरियड्स में तो शराब और कॉफी को हाथ भी नहीं लगाना चाहिये क्‍योकि जहां शराब पीने से ब्रेस्‍ट में सूजन आती है वहीं, दूसरी ओर कॉफी के सेवन से पेट गड़बड़, डीहाइड्रेशन होता है।

गर्म पानी का सेवन बढ़ा दें

गर्म पानी पीने के फायदे यूँ तो कई हैं लेकिन पीरियड्स के दौरान इसे पीना आपके लिये फायदेमंद है। इन दिनों जब भी पानी पिएं तो ठंडे की जगह पर गुनगुने पानी का सेवन करें तो आपका पेट कभी नहीं फूलेगा।

सौंफ का सेवन करें

सौंफ में एंटी माइक्रोबियल (anti-microbial) गुण होते हैं, जिसकी वजह से ये पेट दर्द और गैस को दूर रखती है। यह पेट की मांसपेशियों की अकडन को दूर करके आपके पेट का फूलना ठीक करते हैं।

अदरक का सेवन करें

अदरक का प्रयोग गैस और पेट फूलने की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है क्योंकि इसमें कई कार्यशील तत्व मौजूद रहते हैं। अदरक लेने का बढिया तीका है कि इसके 5 से 6 कटे हुए टुकड़े लें और इन्हें 1 कप उबलते पानी में उबाल लें। फिर इसे छान लें और थोड़ा ठंडा कर के धीरे धीरे पिएं। आप अगर इसका स्‍वाद बढाना चाहती है तो इसमें शहद और नींबू की कुछ बूंद मिला लें।

दवाइयों की भी ले सकती हैं मदद

अगर घरेलू उपचार से आपकी ब्‍लोटिंग नहीं जाती है और आपको परेशानी महसूस हो रही है तो आप को डॉक्‍टर से परामर्श करना चाहिये। आप को वह बर्थ कंट्रोल या डियोरेटिक देंगे, जिससे पेट की सूजन थोड़ी कम होगी। पर हां, अगर ब्‍लोटिंग बहुत ज्‍यादा है तो ही दवाएं खाएं।

शुगरी ड्रिंक से दूर रहें

अगर आपको कोल्‍ड्रिंक या अन्‍य बाजारू जूस अच्‍छे लगते हैं तो पीरियड्स आने के 1 हफ्ते पहले इससे दूर रहें वरना और आपको भी ज्‍यादा ब्‍लोटिंग हो सकती है। इस दौरान केवल पानी पिएं और वो भी दिन मे 8 गिलास।

नींद लीजिये

नींद लेने से आपके शरीर की थकान दूर होगी और आपका शरीर जल्‍दी रिकवर करेगा। अच्‍छा होगा कि आप रातभर जागने की बजाए पूरे 8 घंटों की नींद लें।

इन तरीकों से नाइटक्रीम्स बनाएं घर पर, आपकी त्वचा बन जाएगी जवान

Friday, October 27 2017

इन तरीकों से नाइटक्रीम्स बनाएं घर पर, आपकी त्वचा बन जाएगी जवान

आप अगर सुंदर और निखरी त्वचा पाना चाहती है तो आपको बहुत से जतन करने पड़ते है। आप कहीं ब्यूटी पार्लर जाती है तो कहीं बाजार से बहुत सारे प्रोडक्ट खरीदकर लाती है। आपको बता दें कि नाइट क्रीम का प्रयोग करके आप जल्दी अपनी त्वचा निखार सकती है। एक अच्छी क्वालिटी नाईट खरीदने में आपके काफी पैसे खर्च हो सकते है। इन 10 चीजों को पपीते के साथ मिलकार लगाने से मिलेगा चमकता चेहरा एक ऐसी नाईट क्रीम जो पूरा पौषण दे, खोजना बहुत ही मुश्किल है। कुछ क्रीम त्वचा को गोरा करती है, कुछ बढती आयु के असर को कम करती है तथा बाकी आँखों की निचे के काले घेरों के लिए बनी है. इन सभी के लिए सिर्फ एक क्रीम खोजना बहुत ही मुश्किल काम है। बटरमिल्क पीने और चेहरे पर लगाने है के फायदे नहीं जानते होगें आज हम आपको कुछ ऐसी नाइटक्रीम्स के बारे में बताएंगे जिसको आप घर पर ही बना सकती है। इसके लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की भी जरूरत नहीं है। आइए जानते है कि घर पर कौन सी नाइटक्रीम्स बनाई जा सकती है।

जैतून के तेल से

आपको बता दें कि आप जैतून के लेत से भी नाइटक्रीम बना सकते है। इसके लिए आपको जैतून का तेल, नारियल तेल और मोम कम गर्मी पर एक सॉस पैन में एक साथ मिक्स करके गर्म करें जब तक यह पिघल नहीं जाता है। विटामिन ई कैप्सूल को कुचलने के बाद सॉस पैन में डाले। अब इसे ठंडा होने दें। इस क्रीम को आप रोज इस्तेमाल करें।

ग्लिसरीन नाइट क्रीम

सर्दियों में सबसे ज्यादा आपकी स्किन रूखी होती है इसलिए आपको यह क्रीम एक सर्दियों क्रीम के रूप में काम करेंगी। ग्लिसरीन त्वचा की नमी को बनाये रखने में मदद करेगी। नारियल तेल अपने रोधी गुण के कारण आपकी त्वचा को स्वस्थ्य बना देगा। गुलाब जल तथा बादाम का तेल से आपकी स्किन चहक उठेगी।

कोकोआ मक्खन स्किन क्रीम

आपके बता दें कि आप नाइटक्रीम के लिए कोकोआ मक्खन स्किन क्रीम का इस्तेमाल करें ये सूखी, सुस्त और फटी हुई त्वचा के लिए कोकोआ मक्खन बहुत अच्छा काम करता है। यह झुर्रियों के लिए सबसे अच्छा घर का बना रात क्रीम है। इसका प्रयोग आप रोज रात में करें ये आपकी त्वचा के लिए अच्छा है।

ग्रीन टी नाइट क्रीम

आपको बता दें कि ग्रीन टी जितनी पीने में फायदेमंद है उतनी ही यह क्रीम दोष और प्रदूषण की वजह से बुरे प्रभावों को दूर करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प प्रदान करती है। ग्रीन टी से त्वचा की अशुद्धियों को दूर करने में मदद मिलती है। इसमें मिला एलोवेरा आपके स्किन को जवान बनाए रखता है।

एलोवेरा से बनाएं नाइट क्रीम

अगर आपको मुंहासों की समस्या है तो आपको एलोवेरा से नाइटक्रीम बनाकर इस्तेमाल करना चाहिए।एलोवेरा मुँहासे के इलाज के लिए अच्छा काम करता है। आप घर पर इस क्रीम तैयार कर सकते है। इसका रोज उपयोग करना चाहिए।

दूध की नाइटक्रीम

अगर आपको बताया जाए कि दूध पीने के साथ साथ इसका उपयोग भी कर सकते है तो आपको बता दें कि त्वचा की सफाई, मॉइस्चराइजिंग, और पौषन इस क्रीम से आप ये सब पा सकते है। आपकी त्वचा में ताजगी लाने के लिए रात में इस क्रीम का प्रयोग करें।

सेब नाइटक्रीम

आप सेब तो जरूर खाती होंगी पर आप इससे नाइट क्रीम भी बना सकती है। एप्पल नाइट क्रीम से अपने त्वचा को पुनः जीवित कर सकते है। आपकी त्वचा को पोषण और वह सब दे जिसकी इसे जरूरत है। इसमें कई तरह के विटामिन्स भी पाए जाते है।

गोरा करने वाली नाइटक्रीम

हल्दी त्वचा की विभिन्न स्थितियों के लिए एक पुरानी उपाय है। चंदन और केसर से और भी निखार मिलता है। दही त्वचा को चिकनी बनाता है और बादाम आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है। इसको आप घर पर बना सकते है। ये काफी असरदार होता है।

एंटीएजिंग नाइट क्रीम

आपको बता दें कि इसके अलावा आप एवोकैडो की भी नाइटक्रीम बना सकते है। एवोकैडो में विटामिन और विभिन्न खनिज जैसे पोटेशियम और मैग्नीशियम शामिल हैं। आपकी त्वचा नरम और कोमल बनाने के लिए रात में इस क्रीम को लगाओ। इससे आपकी त्वचा बहुत ही अच्छी हो जाएगी।

बादाम के तेल की नाइट क्रीम

आपको बता दें कि बादाम आपके शरीर को पोषण देने के साथ आपकी स्किन के लिए भी बहुत अच्छा होता है। बादाम तेल से आप नाइटक्रीम बना सकते है इसके लिए आप मख्कन का भी प्रयोग करें। इससे आपकी त्वचा बहुत अच्छी और जवान दिखेगी।