Health and Fitness

चमकदार त्‍वचा पाने के लिए इस तरह करें बादाम तेल का इस्‍तेमाल

Friday, December 15 2017

चमकदार त्‍वचा पाने के लिए इस तरह करें बादाम तेल का इस्‍तेमाल

त्‍वचा-की-देखभाल » चमकदार त्‍वचा पाने के लिए इस तरह करें बादाम तेल का इस्‍तेमाल चमकदार त्‍वचा पाने के लिए इस तरह करें बादाम तेल का इस्‍तेमाल Skin 35 Almond oil Beauty Benefits, बादाम तेल से ऐसे निखारें त्वचा | DIY | BoldSky महिलाएं कॉस्‍मेटिक ट्रीटमेंट पर खूब पैसा खर्च करती हैं। गोरी रंगत पाने के लिए महिलाएं ना जाने कैसी-कैसी ट्रीमेट करवाती हैं लेकिन अगर आप केमिकल्‍स का प्रयोग कम कर देसी नुस्‍खों से चमकदार और खूबसूरत त्‍वचा पाना चाहती हैं तो आज हम आपको बेहतरीन नुस्‍खों के बारे में बता रहे हैं। आज हम आपको बादाम तेल से त्‍वचा को होने वाले फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। बादाम के तेल में विटामिन ए और अन्‍य होते हैं जो त्‍वचा को कई फायदे पहुंचाते हैं। ये त्‍वचा के रोमछिद्रों को साफ कर उसे चमकदार बनाता है। ये प्राकृतिक तेल त्‍वचा के हर तरह के विकार को दूर करता है। चलिए जानते हैं कि बादाम तेल के साथ किन चीज़ों को मिलाकर इसका दोगुना लाभ पाया जा सकता है। 1- बादाम तेल के साथ शहद - आधा टीस्‍पून बादाम तेल और शहद लें। - इसे रातभर के लिए चेहरे पर लगा रहने दें। - सुबह गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। - सप्‍ताह 2- बादाम तेल के साथ एलोवेरा जैल - आधा टीस्‍पून बादाम तेल में 1 टीस्‍पून एलोवेरा जैल मिलाएं। - 5-10 मिनट तक इससे त्‍वचा पर मसाज करें। - माइल्‍ड क्‍लींज़र और गुनगुने पानी से त्‍वचा को साफ कर लें। - सप्‍ताह 3- बादाम तेल के साथ गुलाब जल - आधा चम्‍मच बादाम के तेल में 1 टीस्‍पून गुलाबजल मिलाएं। - इसे रातभर के लिए चेहरे पर लगा रहने दें। - सुबह त्‍वचा को हल्‍के क्‍लींज़र और गुनगुने पानी से धो लें। - सप्‍ताह में 3-4 बार इसे होममेड मास्‍क का प्रयोग करें। 4- दूध के साथ बादाम तेल - आधा टीस्‍पून बादाम तेल में 2 टीस्‍पून दूध लें और उसे मिक्‍स करें। - इसे क्‍लींज़र की तरह चेहरे पर लगांए। - चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। - इस फेशियल क्‍लींज़र का प्रयोग सप्‍ताह में दो बार करें। 5- बादाम तेल के साथ ब्राउन शुगर - एक टेबलस्‍पून बादाम तेल में एक टीस्‍पून ब्राउन शुगर डालें। - इससे त्‍वचा पर स्‍क्रब की तरह मसाज करें। - गुनगुने पानी से त्‍वचा को धो लें। - सप्‍ताह में एक बार इस होममेड स्‍क्रब का इस्‍तेमाल करें। 6- बादाम तेल के साथ एलुम पाउडर - एक टीस्‍पून बादाम तेल में 1/3 टीस्‍पून एलुम पाउडर मिलाएं। - इससे त्‍वचा पर हल्‍के हाथों से मसाज करें। - गुनगुने पानी से त्‍वचा को साफ कर लें। - महीने में दो बार इस मास्‍क का प्रयोग करें। 7- बादाम तेल और नीबू का रस - आधी टीस्‍पून बादाम तेल में एक टीस्‍पून नीबू का रस मिलाएं। - इसे चेहरे पर लगाकर 15 मिनट के लिए छोड़ दें। - गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। - सप्‍ताह में 2-3 बार इस मिश्रण का प्रयोग करें। 8- बादाम तेल और ग्रीन टी - आधी टीस्‍पून बादाम तेल में 1 टीस्‍पून ग्रीन टी लें। - इससे हल्‍के हाथों से त्‍वचा पर मसाज करें। - इसे त्‍वचा से हटाने के लिए हल्‍के क्‍लींज़र का प्रयोग करें। - सप्‍ताह में एक बार इस पैक का प्रयोग करने से त्‍वचा चमकदार बनेगी। 9- बादाम तेल और रोज़हिप ऑयल - आधा टीस्‍पून बादाम तेल में रोज़हिप ऑयल की दो से तीन बूंदें डालें। त्‍वचा पर लगाएं। - 5-10 मिनट के बाद हल्‍के क्‍लींज़र और गुनगुने पानी से त्‍वचा को धो लें। 10- बादाम तेल और खीरा - खीरे के कुछ टुकड़े लेकर उसे मसल लें और इसमें 1 टीस्‍पून बादाम तेल डालें। - इस पेस्‍ट को चेहरे पर लगाकर 1 मिनट तक छोड़ दें। - गुनगुने पानी से चेहरा साफ कर लें। - सप्‍ताह में दो बार इस पेस्‍ट के प्रयोग से त्‍वचा में चमक आएगी। English summary 10 Ways To Use Almond Oil To Get Radiant And Dewy Skin Women spend a lot of money on cosmetic treatment. Women do not know how to make a white color, but if you want to reduce the use of chemicals to get glossy and beautiful skin from home remedies, then today we are telling you about the best prescriptions.

सर्दी के मौसम त्‍वचा को जवां रखेंगें ऑलिव ऑयल के ये फेस मास्‍क

Friday, December 15 2017

सर्दी के मौसम त्‍वचा को जवां रखेंगें ऑलिव ऑयल के ये फेस मास्‍क

त्‍वचा-की-देखभाल » सर्दी के मौसम त्‍वचा को जवां रखेंगें ऑलिव ऑयल के ये फेस मास्‍क सर्दी के मौसम त्‍वचा को जवां रखेंगें ऑलिव ऑयल के ये फेस मास्‍क Skin 20 Olive Oil 4 uses For Skin | त्वचा के लिए जैतून तेल के 4 इस्तेमाल | DIY | Boldsky ऑलिव ऑयल में प्रचुर मात्रा में प्राकृतिक चीज़ें होती हैं और इसी वजह से सदियों से इसका प्रयोग त्‍वचा संबंधित विकारों में किया जाता है। ऑलिव ऑयल में जैसे फाइटोस्‍टेरॉल, पॉलीफेनॉल और विटामिन ई ऑयल होता है। ऑलिव आयॅल त्‍वचा की मुश्किल से मुश्किल समस्‍या और रोग को ठीक करने में सक्षम होता है। इस प्राकृतिक तेल का प्रयोग सालभर में कभी किया जा सकता है हालांकि, सर्दी के मौसम में त्‍वचा के रूखेपन और अन्‍य त्‍वचा संबंधित समस्‍याओं में ये ज्‍यादा फायदा पहुंचाता है। ऑलिव ऑयल के गुण आपकी त्‍वचा को पोषण देकर उसे मॉइश्‍चराइज़ करते हैं और हर समय त्‍वचा को हाइड्रेट रखते हैं। सर्दी में ऑलिव ऑयल का प्रयोग करने का सबसे आसान तरीका है, सोने से पहले त्‍वचा पर इससे मसाज करना। हालांकि, इसका प्रयोग करने के और भी कई तरीके हैं जिनसे आपकी त्‍वचा पूरे मौसम में खूबसूरत दिखाई देगी। आज हम आपको ऑलिव ऑयल के कुछ ऐसे फेस मास्‍क के बारे में बता रहे हैं जिनसे आपको दोगुना लाभ मिलेगासर्दी के मौसम में त्‍वचा को रूखेपन से बचाने के लिए इन फेस मास्‍क का आप प्रयोग कर सकते हैं। ऑलिव ऑयल + शहद शहद और ऑलिव ऑयल के मेल से त्‍वचा को बहुत ज्‍यादा फायदा मिलता है। इससे आपकी त्‍वचा सुंदर और चमकदार दिखती है। बनाने का तरीका - एक टीस्‍पून शहद और ऑलिव ऑयल लें। चेहरे पर लगाएं और उसे 10 मिनट तक चेहरे पर ही लगा रहने दें। - गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। - बेहतर परिणाम के लिए सप्‍ताह ऑलिव ऑयल + केला केले में प्रचुर मात्रा में विटामिन बी6 होता है और इसे ऑलिव ऑयल के साथ मिलाकर लगाने से त्‍वचा को अद्भुत लाभ मिलता है। ये त्‍वचा को पोषण देने के साथ-साथ उसे मॉइश्‍चराइज़ भी करता है। बनाने का तरीका - केले का मैश कर उसमें एक टेबलस्‍पून ऑलिव ऑयल डालें। - इस पेस्‍ट को चेहरे और गर्दन पर लगाएं और 20 मिनट तक लगा रहने दें। - हल्‍के गुनगुने पानी से चेहरा और गर्दन साफ कर लें। - हर सप्‍ताह इस मिश्रण का प्रयोग करने से त्‍वचा में चमत्‍कारिक बदलाव नज़र आएगा। ऑलिव ऑयल + मेथीदाना ये फेस मास्‍क विशेष तौर पर एंटी एजिंग गुणों से युक्‍त है। सर्दी के मौसम में इस फेस मास्‍क को लगाकर बढ़ती उम्र के निशान जैसे झुर्रियों और रेखाओं को हटाया जा सकता है। बनाने का तरीका - एक कटोरी में पानी भरें और उसमें एक मुट्ठी मेथीदाना रातभर के लिए भिगो दें। सुबह इसको पीस लें। - अब इस पेस्‍ट में एक टीस्‍पून ऑलिव ऑयल डालें। - इस मिश्रण से त्‍वचा पर मसाज करें और 5 मिनट के लिए इसे लगा रहने दें। - अब चेहरे को माइल्‍ड फेस वॉश और गुनगुने पानी से साफ कर लें। ऑलिव ऑयल + सफेद अंडा ये प्राकृतिक ऑलिव ऑयल फेस मास्‍क त्‍वचा में कसाव लाता है और सर्दी के मौसम में ठंडी हवाओं से त्‍वचा को बूढी होने से बचाता है। बनाने का तरीका - एक कटोरी में अंडे का सफेद भाग लें और उसमें 1 टेबलस्‍पून ऑलिव ऑयल डालें। - इन दोनों चीज़ों को एक स्‍मूद पेस्‍ट के रूप में तैयार कर लें। - इस पेस्‍ट को चेहरे और गर्दन पर लगाएं। - इसे 10 मिनट तक सूखने दें और इसके आद माइल्‍ड फेशियल क्‍लींजर लगाएं। अब हल्‍के गुनगुने पानी से इसे धो लें। - बेहतर परिणाम के लिए सप्‍ताह में एक बार इसका प्रयोग जरूर करें। ऑलिव ऑयल + एवेकैडो इस होममेड ऑलिव ऑयल फेस मास्‍क से सर्दियों के दिनों में त्‍वचा हाइड्रेट और मॉइश्‍चराइज़ रहती है। बनाने का तरीका - एक एवेकैडो को मैश कर इसमें दो टीस्‍पून ऑलिव ऑयल डालें। - इस पेस्‍ट को चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट तक इसे सूखने दें। - अब हल्‍के गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। - महीने में 2 से 3 बार इस फेस मास्‍क से त्‍वचा की देखभाल करें। ऑलिव ऑयल + ग्‍लिसरीन ऑलिव ऑयल और ग्‍लिसरीन का ये मेल सर्दियों में त्‍वचा को सुंदर बनाता है और त्‍वचा विकारों को दूर करता है। बनाने का तरीका - एक टेबलस्‍पून ऑलिव ऑयल में ½ टीस्‍पून ग्‍लिसरीन मिलाएं। - इसे चेहरे और गर्दन पर लगाएं। - 10 मिनट के बाद हल्‍के गुनगुने पानी से चेहरा और गर्दन धो लें। - इस फेस मास्‍क के मासिक प्रयोग से त्‍वचा खिली खिली और जवां दिखेगी। English summary All-natural Olive Oil Face Masks For Winter Here we’ve listed some of the face masks that you can prepare by mixing olive oil with other equally beneficial ingredients.

सफेद मूसली है मर्दों की हर सेक्स समस्याओं का इलाज, जानिए

Friday, December 15 2017

सफेद मूसली है मर्दों की हर सेक्स समस्याओं का इलाज, जानिए

Updated: 11:33 आपके शरीर में कई समस्याएं तो अक्सर होती है रहती है पर अगर आपको सेक्स संबंधित समस्या या किसी भी तरह का यौन रोग हो जाता है तो आपकी वैवाहिक लाइफ बिल्कुल शर्मिंदगी भरी हो जाती है। अगर आपको ऐसी दिक्कत है तो आपको घबराना नहीं है। भारत प्राचीन काल से ही सांस्कृतिक धरोहर के साथ जड़ी-बूटियों के लिए भी प्रसिद्ध रहा है। यहां विभिन्न औषधीय पौधे पाए जाते हैं। इसी लिये यहां विभिन्न चिकित्सा पद्धतियों जैसे, आयुर्वेद, यूनानी, प्राकृतिक चिकित्सा आदि प्राचीन काल से ही न केवल चलन में हैं बल्कि विज्ञान और तकनीक के विकास के बाद भी इनकी प्राथमिकता कम नहीं हुई है। सफेद मूसली भी ऐसी ही एक जड़ी-बूटी है, जो शारीरिक क्षमता बढ़ाने के लिये काफी मशहूर है। हालांकि इसके गुणों को लेकर कोई वैज्ञानिक साक्ष्‍य मौजूद नहीं हैं। लेकिन आपको बता दें कि मर्दों की समस्या को जड़ से हटाने के लिए ये काफी फायदेमंद होता है। आइए जानते है सफेद मूसली के लाभ... नपुंसकता अगर आपकी शादी के कई साल हो गए है और अभी तक आप पिता नहीं बने है तो हो सकता है कि ये आपके नपुंसकता के लक्षण है। इसके लिए आपको घबराना नहीं है बल्कि आपको इसका इलाज करने के लिए सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए। इससे आपकी ये समस्या खत्म हो जाएगी। शीघ्रपतन की समस्या अगर आपकी सेक्स लाइफ सिर्फ इसलिए बोरिंग हो चुंकी है कि आप अपने पार्टनर को परम सुख नहीं दे पा रहे है और आपको शीघ्रपतन की समस्या है तो आपको इसके लिए कौंच के बीज, सफेद मूसली और अश्वगंधा के बीजों को बराबर मात्रा में मिश्री के साथ मिलाकर बारीक चूर्ण बनाकर एक चम्मच चूर्ण सुबह और शाम एक कप दूध के साथ लेना है। ऐसा करने से आपकी समस्या समाप्त हो जाएगी। शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाता है आपको बता दे कि सफेद मूसली के सेवन आपके वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है। इससे आपको कई तरह की समस्याओं से आराम मिल जाती है। आपको इसका प्रयोग करना चाहिए। कामोत्तेजना आपके सेक्स लाइफ में फीके हो रहे मजे को ये दोबारा जगाता है। ये आपके शरीर से कामोत्तेजना बढ़ाता है। आपके लिए काफी फायदेमंद है। वीर्य में कमी अगर आपके वीर्य में कमी है तो आपको इसके लिए सफेद मूसली का सेवन करना है। इससे आपका वीर्य गाढ़ा होने के साथ साथ बढ़ भी जाता है। आपको इसका सेवन जरूर करना चाहिए। ये आपकी कई समस्याओं के लिए लाभदायक है। यौन दुर्बलता आपको अगर सेक्स करते समय या उसके बाद किसी भी तरह की कमजोरी लगती है तो आपको इसके लिए सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए। आपको यौन दुर्बलता से बचाता है। शारीरिक कमजोरी आपको अगर शारीरिक कमजोरी रहती है तो आपको सफेद मूसली का सेवन करना है इससे आपकी ये समस्या खत्म हो जाती है। आपको इसका प्रयोग करना चाहिए। पेशाब में दर्द अगर आपको पेशाब करने में दर्द होता है तो हो सकता है कि सेक्स की वजह से आपको कोई समस्या हुई हो। इसके लिए आपको सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए। ये आपके लिए सही है। तनाव आपको अगर तनाव रहता है तो इसके लिए सफेद मूसली काफी फायदेमंद है। इसके इस्तेमाल से आपको तनाव में आराम मिल जाता है। मधुमेह अगर आपको मधुमेह हो जाता है तो आपको सेक्स में समस्याएं होना लाजमी है। इसके लिए आपको सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए। English summary Safed Musli Benefits for Impotence Cure, Male Sexual Health Many problems in your body are often frequent but if you have sex related problems or any kind of sexual dysfunction then your marital life becomes very embarrassed. If you have such a problem then you do not have to panic.

सर्दियों में मसालों का सेवन और इन हर्ब्स से आप रहेगे फिट और फाइन

Friday, December 15 2017

सर्दियों में मसालों का सेवन और इन हर्ब्स से आप रहेगे फिट और फाइन

डाइट-फिटनेस » सर्दियों में मसालों का सेवन और इन हर्ब्स से आप रहेगे फिट और फाइन सर्दियों में मसालों का सेवन और इन हर्ब्स से आप रहेगे फिट और फाइन Diet Fitness Updated: 13:07 सर्दियों का सीजन आ चुका है और ऐसे मे आपको काफी सावधान रहने की आवश्यकता होती है। अगर आप ऐसा नहीं करते है तो आपको की तरह की समस्याएं हो सकती है। बदलते मौसम के साथ हमारे शरीर को भी उसी हिसाब से अपने आपको ढालना पड़ता है जो कई बार नहीं हो पाता है और हम किसी ना किसी बीमारी के शिकार हो जाते है| इन संक्रमणों और ठंड के दुष्प्रभाव से अपने आपको बचाने के लिए आपको कुछ उपाय पहले से ही करने होंगे, जैसे की मौसम के अनुरूप सही चीजें खाने से शरीर अंदर से मजबूत होगा और बीमारियों से बचाव होगा | कुछ मसाले और हर्ब्स ऐसे हैं जो आपको सर्दी के प्रकोप से बचा सकते है और बीमारी को रोकने में भी आपकी सहायता करते है तथा शरीर की रोग प्रतिरक्षा को भी बढ़ाते हैं। गर्म मसाले ठंड में किसी वरदान से कम नहीं होते हैं। आज आपको इन मसालों के सर्दियों में क्या फायदे है उसके बारे में बताएंगें। आइए जानते है... तेजपत्ता सर्दियों में आपके लिए तेजपत्ता का सेवन करना काफी लाभदायक होता है। अगर आप खाने में मसालों के साथ इसका इसका सेवन करते है तो आपको सर्दी, जुखाम, और नाक बहने जैसी समस्याएं हो सकती है। जायफल आपके लिए जायफल का सेवन करना सर्दियों में बहुत अच्छा होता है। इसके सेवन से आपको शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है। क्योंकि इसका तासीर गर्म होती है और ये आपके शरीर के लिए अच्छा है। काली मिर्च आपके लिए काली मिर्च की सेवन करना सर्दियों में बहुत अच्छा होता है। इसके सेवन से आपको मेटाबॉलिजम बढ़ता है। इसको आपको पीसकर दूध के साथ सेवन करना है। इससे आपको लाभ मिलेगा। दालचीनी आपको दाल चीनी का सेवन सर्दियों में करना चाहिए। इससे आपको कई रोगो से लड़ने में आराम मिलेगा। आपको इसको गर्म पानी के साथ सुबह सुबह लेना है। ये आपके लिए काफी अच्छा है। लौंग सर्दियों में अगर आपको किसी भी तरह की दर्द और सूजन की समस्या होती है तो आपको इसके लिए लौंग का सेवन करना चाहिए। इससे आपको इन तरह की समस्याओं से आराम मिल जाएगी। इलायची आपके लिए सर्दियों में इलायची का सेवन करना काफी अच्छा होता है। अगर आप इलायची का सेवन करते है तो आपका रक्त साफ होता है। आपको इसके लिए इलायची का सेवन करना चाहिए। चक्र फूल आपको बता दें कि आपके लिए चक्र फूल का सेवन सर्दियों में करना चाहिए। इससे आपको गले के दर्द में आराम मिलता है और आपको सर्दी में भी आराम मिलता है। केसर आपको अगर ठंड से राहत पाना है तो इसके लिए आपको दूध के साथ केसर का सेवन करना चाहिए। इससे आपको ठंड से आराम मिलती है। ये आपकी सेहत के लिए काफी अच्छा होता है। हल्दी अगर आप दूध और हल्दी का सेवन करना चाहते है तो आपको इसका सेवन करना चाहिए। इससे आपको सर्दियों में ठंड से आराम मिलती है। आपको इसका सेवन करना चाहिए। तुलसी आपको सर्दियों में तुलसी का सेवन जरूर करना चाहिए। तुलसी गर्म होती है और आपको सर्दी जुकाम और गले की खरास जैसी समस्याओं से आराम दिलाती है। English summary The Best Winter spices and Herbs to Grow Winter season has arrived and in this way you need to be very careful. If you do not do this then you may have problems like. With the changing season, our body has to mold itself in the same way that does not happen many times.

इन प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को नाश्ते में शामिल कर घटाएं वजन

Friday, December 15 2017

इन प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को नाश्ते में शामिल कर घटाएं वजन

डाइट-फिटनेस » इन प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को नाश्ते में शामिल कर घटाएं वजन इन प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को नाश्ते में शामिल कर घटाएं वजन Diet Fitness Updated: 14:04 एक पुरानी कहावत है नाश्ता राजा की तरह, लंच राजकुमार की तरह और रात का खाना गरीब की तरह खाना चाहिए। यह कहावत आज भी सच मानी जाती है। दिन की अच्छी शुरूआत के लिए हेल्दी ब्रेकफास्ट किसी भी उम्र के व्यक्ति के लिए काफी जरूरी होता है। यह हमें पूरे दिन एक्टिव रखता है और ऊर्जा प्रदान करता है। लेकिन ज्यादातर लोग एक बड़ी गलती कर जाते हैं और अपना वजन घटाने के लिए वे सुबह का नाश्ता ही छोड़े देते हैं। ऐसे लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि सुबह का नाश्ता छोड़ने से वजन घटता नहीं बल्कि और बढ़ता है। कुछ लोगों को सुबह काम पर जाने की जल्दी रहती है और वे नाश्ते के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं। ऐसे लोग नाश्ता न करके सीधे दोपहर का खाना ही खाते हैं। इसका प्रभाव उनके शरीर पर दिखने लगता है। जब नाश्ते की बात आती है तो नाश्ते में प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करन चाहिए और नाश्ते को दिन के सभी खानों में सबसे अधिक प्राथमिकता देनी चाहिए। रात के भोजन के बाद हम सुबह होने तक कुछ नहीं खा पाते हैं। इसलिए हमारे शरीर का ब्लड ग्लूकोज कम हो जाता है और हमें पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती है। हेल्दी ब्रेकफास्ट ग्लूकोज लेवल और ऊर्जा को बनाए रखने में मदद करता है। नाश्ते में जरूरी पोषक तत्व जैसे कैल्शियम, आयरन, विटामिन, प्रोटीन और फाइबर को शामिल करना आवश्यक है। यहां हम आपको कुछ प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें नाश्ते में शामिल कर आप अपना वजन कम कर सकते हैं। 1. अंडे: अंडा प्रोटीन का बढ़िया स्रोत है। विशेषरूप से अंडे की जर्दी में अधिक मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अंडे को सही तरीके से खाने से अधिक फायदा पहुंचता है। रोजाना नाश्ते में एक उबला अंडा खाने से हमें पर्याप्त प्रोटीन मिल जाती है। जो लोग उबले अंडे खाना नहीं पसंद करते वे नारियल के तेल या ऑलिव ऑयल में सब्जियों के साथ अंडे को फ्राई करके खा सकते हैं। इसके अलावा पनीर और पालक मिलाकर अंडे का ऑमलेट खाना भी काफी फायदेमंद होता है। 2. टोफू: टोफू प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत है। इसे आप अपने ब्रेकफास्ट में शामिल कर सकते हैं। गोभी के सूप के साथ हल्का फ्राई किया हुआ टोफू नियमित नाश्ते में खाएं। इससे वजन कम नहीं बढ़ता है। 3. ग्रीक दही: ग्रीक दही में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पायी जाती है। लेकिन नाश्ते में कम वसा वाली ग्रीक दही का सेवन करना चाहिए। ग्रीक दही कैल्शियम का भी अच्छा स्रोत है। कम वसा युक्त ग्रीक दही को गेहूं के अंकुरित बीज के साथ नाश्ते में खाने से आप लंबे समय तक एनर्जेटिक बने रहेंगे और आपका वजन भी कम होगा। 4. केला और मट्ठा प्रोटीन शेक: अगर सुबह आपको काम पर जाने की जल्दी रहती है तो नाश्ते के लिए एक गिलास बादाम दूध या केला मट्ठा प्रोटीन शेक सबसे बेहतर विकल्प है। केले में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, फाइबर और पोटैशियम पाया जाता है। इससे सिर्फ आपका पेट ही नहीं भरेगा बल्कि यह आपको आवश्यक मात्रा में ऊर्जा और स्टैमिना भी प्रदान करता है। 5. अमरूद: सभी फलों में अमरूद ही एक ऐसा फल है जिसमें प्रोटीन काफी अधिक मात्रा में पायी जाती है। अमरूद में कैलोरी कम होती है और यह विटामिन सी और फाइबर से युक्त होता है। नाश्ते में एक कटोरी कटे अमरूद को खाने से यह सिर्फ आवश्यक ऊर्जा ही नहीं देता बल्कि वजन घटाने में भी मदद करता है। 6. पीनट बटर : पीनट बटर में मोनोअनसैचुरेटेड नामक अच्छी वसा पायी जाती है। इसे नियमित नाश्ते में लेने से जल्दी भूख नहीं लगती जिससे आप बार-बार जंक फूड खाने से बच जाते हैं और आपका वजन संतुलित रहता है। 7. चिया बीज : चिया बीज में अधिक मात्रा में प्रोटीन, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम और अन्य जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। चिया सीड नाश्ते के लिए सबसे सर्वोत्तम आहार है। इन पोषक तत्वों के अलावा चिया सीड में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है जिसे अच्छी वसा के नाम से भी जानते हैं। ओटमील बनाते समय आप इसमें एक चम्मच चिया सीड मिला सकते हैं। यह देर तक भूख नहीं लगने देता है और वजन को भी संतुलित रखता है। 8. बादाम: नाश्ते में बादाम जरूर खाना चाहिए। बादाम सिर्फ वजन कम करने में ही मदद नहीं करता बल्कि यह दिमाग को भी स्वस्थ रखता है। बादाम में अधिक मात्रा में प्रोटीन और हेल्दी फैट पाया जाता है। यह शरीर के अतिरिक्त चर्बी को कम कर वजन संतुलित रखता है। English summary Add These Protein-rich Foods For Breakfast To Lose Weight An old saying is like breakfast king, like lunch prince and dinner should be eaten as poor. This maxim is still considered true. For a good start of the day, a healthy breakfast is very important for a person of any age. It keeps us active all day and provides energy.

#ALERT: सेक्‍स के बाद जलन और तेज खुजली होती है तो ये हैं कंडोम की एलर्जी के लक्षण, पढ़ें

Friday, December 15 2017

#ALERT: सेक्‍स के बाद जलन और तेज खुजली होती है तो ये हैं कंडोम की एलर्जी के लक्षण, पढ़ें

Published: 14:19 अनचाहे गर्भ को रोकने के लिये और यौन बीमारियों से बचाव के लिये कंडोम का इस्‍तेमाल आज पूरी दुनिया कर रही है। ज्‍यादातर लोग कंडोम का इस्‍तेमाल बिना परेशानी के कर लेते हैं। इसक का कोई साइड इफेक्‍ट नहीं होता है लेकिन बहुत से लोगों को लेटेक्‍स एलर्जी हो सकती है और कभी कभी कुछ प्रकार के कंडोम परलगी चिकनाई से भी परेशानी हो सकती है। कंडोम अच्छी क्वालिटी का हीं खरीदें, सस्ते कंडोम से यौनांगों में संक्रमण भी हो सकता है। अगर आपको भी लगता है कि कंडोम पहनने से आपको किसी किस्‍म की एलर्जी हो रही है तो आपको अपना ब्रांड बदल लेना चाहिये। कंडोम पहनने से पहले इन 18 बातों के बारे में पढ़ ले! जिन लोंगो को यौन संबन्‍ध बनाने के बाद लिंग में जलन होती है, दरअसल उन्‍हें पता ही नहीं होता कि उन्‍हें कंडोम से एलर्जी हो गई है। इसे अनदेखा ना करें। अधिकतर लोग लेटेक्स कॉन्डम का उपयोग करते हैं। लेटेक्स एक पदार्थ है जिससे एलर्जी होने की संभावनाएं होती हैं। जानें, क्‍या करें जब कंडोम उसके अंदर फंस जाए आज हम आपकी ये परेशानी दूर करने वाले हैं और बताने वाले हैं कि अगर आपको कंडोम से एलर्जी हो रही है तो उसके संकेतो को कैसे पहचाने और उस दौरान क्‍या करें। 1. जनानांगों में रैश लेटेक्स कॉन्डम से अगर आपको एलर्जी हो रही है तो यह आपको 8 घंटे के बाद देखने को मिलेगी। इसमें आपके जेनाइटल के पास रैशेज हो जाएंगे। ये रैशेज हल्के या अधिक भी हो सकते हैं। इन रैशेज में आपको जलन, खुजली हो सकती है और ये लाल या गुलाबी रंग के दिखते हैं। 2. फुंसियां और छाले कंडोम की वजह से प्राइवेट पार्ट पर फुंसियां और छाले हो सकते हैं। यह एलर्जी latex or spermicide दृारा हो सकती है, जिसमें इंसान को काफी सूजन और छरछराहट महसूस होती है। 3. आंखों में पानी आना कंडोम दृारा लेटेक्‍स एलर्जी से आंखों में पानी आने लगता है और दिक्‍कत बढने लगती है। 4. जनानांगों में जलन अगर आपको लेटेक्स कॉन्डम से एलर्जी है तो आपको जनानांगों में जलन महसूस हो सकती है। यह काफी सामान्य लक्षण है। यह जलन महिलाओं को वेजाइना के अंदर और पुरुषों को लिंग के ऊपर महसूस हो सकती हैं। 5. भयंकर एलर्जी होने पर लो बीपी की समस्‍या अगर आपको काफी ज्‍यादा एलर्जी हो गई है तो आपका बीपी भी डाउन हो सकता है। अगर इसका ट्रीटमेंट जल्‍दी नहीं किया गया तो यह काफी नुकसानदेह हो सकता है। 6. मतली आना spermicide या latex वाले कंडोम से कई लोंगो का तो सिर घूमने लगता है या फिर चक्‍कर आने लगता है। बहुत से लोग इस लक्षण को पहचान ही नहीं पाते और उनको लगता है कि उन्‍हें पाचन संबन्‍धी कोई समस्‍या हो गई है और वे उसका इलाज ही नहीं करवाते। 7. खुजली भी हो सकती है किसी भी एलर्जी के होने पर सबसे पहले दिखने वाला संकेत खुजली ही है। खुजली होने के कारण आप काफी असहज और परेशान हो सकते हैं। कॉन्डम से एलर्जी होने पर आपको जनानांगों में हल्की खुजली हो सकती है। महिलाओं को वेजाइना में या वेजाइना के आसपास खुजली हो सकती है जबकि पुरुष लिंग की ऊपरी त्वचा में खुजली अनुभव कर सकते हैं। 8. ओरल सेक्‍स से भी हो सकती है एलर्जी अगर आपने लेटेक्‍स के कंडोम पहने हैं तो आपकी पार्टनर को ओरल सेक्स के कारण आपको होंठों, जीभ या गले में भी एलर्जी हो सकती है। 9. सांस लेने में परेशानी एनाफाईलैक्सिस एक गंभीर एलर्जिक रिएक्शन है जिसके दौरान आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने की जरुरत होती है ताकि इसका समय रहते उपचार कराया जा सके। इस दौरान आपको सांस लेने में परेशानी, होंठों, जीभ और गले में सूजन, धड़कन का तेज होना और सीने में दर्द जैसे संकते दिख सकते हैं। 10. एलर्जी होने पर कौन सा कंडोम करें उपयोग अगर आपको लेटेक्‍स से एलर्जी है तो आपको पॉलीयुरेथेन के बने कंडोम का उपयोग करना चाहिये। इसके अलावा तेल वाले लुब्रिकेंट्स का प्रयोग नहीं करना चाहिये। तेल से लेटेक्‍स घुल जाता है और कंडोम को नुकसान पहंचता है। English summary What are the symptoms of condom allergy Here is a list of some of the most unusual symptoms of condom allergy that you must be aware of, have a look. Story first published: 14:19 [IST] Dec 15, 2017 कीअन्यखबरें

प्राइवेट पार्ट में खुजली 1 मिनट में दूर करने के घरेलू उपाय

Friday, December 15 2017

प्राइवेट पार्ट में खुजली 1 मिनट में दूर करने के घरेलू उपाय

» प्राइवेट पार्ट में खुजली 1 मिनट में दूर करने के घरेलू उपाय प्राइवेट पार्ट में खुजली 1 मिनट में दूर करने के घरेलू उपाय Wellness Published: 15:55 Natural Treatment for Private Part Itching | प्राइवेट पार्ट की खुजली को ऐसे करें दूर | Boldsky प्राइवेट पार्ट में खुजली होना आम बात है फिर चाहे वह कोई पुरुष हो या महिला। ऐसे में जब आप कहीं बाहर होते हैं और तब आपके खुजली होती है तो यह स्थिति बहुत कष्टकारी हो जाती है। तो अब सवाल यह उठता कि आखिर क्यों गुप्त अंगों में खुजली होती है ? इसके कई कारण हैं जैसे जननांग मसा, मासिक धर्म का बंद हो जाना , संक्रमण, और त्वचा से संबंधित परेशानी। इसके आलावा यौन संबंध बनाते वक़्त स्वच्छता की अनदेखी करने से भी गुप्त अंगों में खुजली होती है। अब खुजली होने पर कुछ लोग के साथ यह भी समस्या है कि ज्यादा खुजलाने पर उस स्थान पर ज़ख़्म हो जाता है बाद में दर्द भी होने लगता है। यही वजह है कि इस समस्या का उपचार होना बहुत जरुरी है इसीलिए इससे निजात पाने के लिए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताने जा रहें हैं जिन्हें आज़माने से आपको जल्दी ही आराम मिलेगा। 1. रोज़मेरी की पत्तियां रोज़मेरी के कई सारे लाभ हैं। खुजली को कम करने के लिए रोज़मिरी की पत्तियां को 20 मिनट के लिए पानी में उबालें। फिर ठंडा होने के लिए रख दें। अब इस पानी से गुप्त अंगों को धोएं। इससे आपको काफी हद तक आराम मिलेगा। 2. एप्‍पल साइडर वेनिगर एप्‍पल साइडर वेनिगर में एंटी बैक्टेरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं। इसके लिए 2 चम्मच विनगर को एक गिलास पानी में मिलाएं और इसे रोज़ पियें। या फिर एक चम्मच एप्‍पल साइडर वेनिगर को 1 कप गर्म पानी में मिलाएं और इससे अपने गुप्त अंगों को धोएं। 3. तुलसी की पत्तियां तुलसी वैसे भी काफी लाभकारी औषधि है जिसका इस्तेमाल कई चीज़ों में होता है इसमें एंटी फंगल, एंटी बेक्टेरियल और ऐन्टीमाइक्रोबीअल गुण होते हैं। गुप्त अंगों में खुजली के लिए कुछ तुलसी की पत्तियां लें और उसे अपनी में 20 मिनट तक उबालें। अब इसे ठंडा होने के बाद पी जाएँ। 4. बोरिक एसिड बोरिक एसिड में एंटी फंगल गुण होते हैं जिससे किसी भी तरह के संक्रमण को ठीक किया जा सकता है। इसके लिए ¼ टेस्पून बोरिक एसिड को एक कप पानी में मिलाएं। इस पानी से रोज़ अपने गुप्त अंगों को धोएं। 5. टी ट्री आयल टी ट्री आयल में एंटी बेक्टेरियल गुण होते हैं जिससे खुजली में आराम मिलता है। इसके लिए टी ट्री आयल की 4-6 बूंदें अपने नहाने के पानी में मिलाएं और इसे से नहाएं। इसके आलावा आप टी ट्री आयल की 4-6 बूंदों में दो चमच्च एलोवेरा जेल मिलाएं और इस मिश्रण को अपने गुप्त अंग में अच्छे से लगाएं और थोड़ी देर के लिए छोड़ दें। सूखने के बाद इसे धो लें। 6. कैमोमाइल टी कैमोमाइल की तासीर ठंडी होती है जिसे लगाने से खुजली, जलन, और किसी भी तरह की सूजन से आराम मिलती है। इसके लिए 1 चम्मच कैमोमाइल टी लें और उसमें दो कप पानी मिलाएं और 5 मिनट के लिए उबालें। फिर इसे छान लें। अब इसमें 4 बूंदें टी ट्री आयल की मिलाएं और ठंडा होने दें। अब इस मिश्रण से दिन दो बार अपने गुप्त अंग को धोएं। 7. नारियल तेल अगर आपकी त्वचा में रुखापन रहता है तो अपने गुप्त अंगों में नारियल का तेल लगाएं। इससे आपकी त्वचा में नमी बनी रहती है। इसके लिए रोज़ अपने गुप्त अंगों नारियल का तेल लगाएं इसके आलावा आप एक मिश्रण तैयार करें उसके लिए 4 चम्मच नारियल के तेल में 6 कप पानी मिलाएं और इससे रोज़ अपने गुप्त अंगों को धोएं। 8. सी सॉल्ट सी सॉल्ट में किसी भी तरह के फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने में मदद करता है साथ ही यह दोबारा होने से भी रोकता है। इसके लिए 1 चम्मच नमक को 2 कप पानी में मिलाएं अब इस मिश्रण से अपने गुप्त अंगों को रोज़ धोएं। 9. नीम की पत्तियां नीम अपने औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है इससे कई तरह के बीमारी और संक्रमण को रोका जा सकता है। क्योंकि इसमें एंटी फंगल और एंटी बेक्टेरियल गुण पाएं जाते हैं। इसके लिए नीम की कुछ पत्तियों को अपने नहाने के पानी में मिलाएं और इससे नहाएं या फिर आप कुछ नीम की पत्तियों को पानी में 10 मिनट के लिए उबाल लें। अब इसे ठंडा होने दें फिर इसी पानी से अपने गुप्त अंग को धोएं। 10. दही दही में बेक्टेरिआ पाए जाते हैं जो आपकी सेहत के लिए अच्छे होते हैं यही नहीं इससे खुजली भी ठीक होती है। इसके लिए रोज़ सदा दही खाएं इससे आपके शरीर में अच्छे बैक्टीरिआ का संतुलन बना रहेगा। 11. लहसुन लहसुन में एंटी बेक्टेरियल और एंटी बायोटिक गुण होते हैं जिससे गुप्त अंगों में होने वाली खुजली को रोका जा सकता है। इसके लिए लहसुन के तेल में विटामिन ई के तेल की कुछ बूंदें मिलाएं और अपने गुप्त अंगों पर लगाएं। सूख जाने के बाद धो दें। English summary 11 Home Remedies For Itching In Private Parts Itching in the private part is a common and painful problem. If you have been often suffering from this problem, we will help you know the 11 home remedies. Story first published: 15:55 [IST] Dec 15, 2017 कीअन्यखबरें

रात में नहाने के है इतने फायदे कि आप भी शुरु कर देगे सोने से पहले स्नान करना

Saturday, December 16 2017

रात में नहाने के है इतने फायदे कि आप भी शुरु कर देगे सोने से पहले स्नान करना

तंदुरुस्‍ती » रात में नहाने के है इतने फायदे कि आप भी शुरु कर देगे सोने से पहले स्नान करना रात में नहाने के है इतने फायदे कि आप भी शुरु कर देगे सोने से पहले स्नान करना Wellness Updated: 12:38 आप सुबह सुबह तो जरूर नहाते ही होगे क्योंकि हमारे शरीर को स्वस्थ और स्वस्छ रखने के लिए नहाना बहुत जरूरी है। अमूमन देखा जाता है कि लोग ऑफिस जाते वक्त कॉलेज जाते वक्त या किसी तरह काम करते वक्त नहाते है। लेकिन क्या आप कभी रात में सोने पहले नहाते है। जीं हां आज हम आपको इस आर्टिकल में रात को नहाने के फायदे बता रहे हैं। अक्सर लोग दिन में ही काम करतें हैं और काम करके जब शाम को घर लौटकर आते हैं तब बहुत ही थक जाते हैं । पूरे दिन की थकान के बाद अच्‍छी नींद बहुत जरूरी है, लेकिन कई बार अधिक थकान के कारण नींद में खलल पड़ता है, सफेद मूसली है मर्दों की हर सेक्स समस्याओं का इलाज, जानिए ऐसे में रात में स्‍नान आपकी नींद को बेहतर बनाता है, आइए हम आपको इसके बारे में विस्‍तार से आठ फायदे बता रहें हैं। इनको जानने के बाद आर रात में नहाना शुरु कर देगे। पहला स्नान आपको बता दे कि दिन की शुरुआत करने से पहले भी नहाना बहुत आवश्यक है। इसलिए आपको दिन में भी नहाना चाहिए। अगर आप सुबह गर्म पानी से नहाते है तो आपको उतने फायदे नहीं होगे जितने ठंडे पानी से नहाने में होगे। ठंडे पानी से नहाने में आपका मन दिनभर ठंडा रहता है। अच्छी नींद अब आपको बता दें कि रात में सोने से पहले नहाने का बड़ा फायदा ये है कि आपको नींद काफी अच्छी आती है। आप दिनभर थक जाते है और जैसे ही आप स्नान करते है आपकी थकान चली जाती और आपके शरीर का टेंपरेचर सही हो जाता है। इससे आपको अच्छी नींद आती है। फैट कम हो जाता है जब आप रात में सोने से पहले नहाना शुरु करते है तो आपका मोटापा कम होने लगता है। ऐसा आयुर्वेद कहता है। इसलिए आपको अपने शरीर को फिट रखने के लिए भी रात में नहाना चाहिए ये आपके स्वास्थ के लिए भी अच्छा है। त्वचा में चमक आती है आपको बता दें कि दिन के मुकाबले जब आप रात में सोने से पहले नहाते है तो आपका शरीर बहुत अच्छा महसूस करता है। स्किन एक्सपर्ट बताते है कि रात में सोने से पहले नहाने से आपकी त्वचा में चमक आने लगती है। इससे आपके चेहरे में निखार भी बढता है। इम्यूनिटी बढ़ती है जब आप रात में सोने से पहले स्नान करते है तो आपका शरीर रिलैक्स होता है और आपके बल्ड सेल्स सही से काम करते है। इससे आपकी इम्यूनिटी बढ़ती है। आपको इसे जरूर अपनान चाहिए। मूड फ्रेश रहता है एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि अगर आप रात में नहाकर सोते है तो अगले दिन सुबह आपका मूड बिल्कुल फ्रेश रहता है। आपके दिमाग को शांत करने के लिए ये बहुत अच्छा है। हाई बीपी में कमी आती है अगर आपको हाई बीपी की समस्या है तो आपको नहाने से हाई बीपी में कमी आती है। आपको जरूर रात में नहाना चाहिए ये आपकी सेहत के लिए अच्छा है। शुगर के मरीजों को आराम आपको बता दें कि एक रिसर्च में पता चला है कि ब्लड शुगर वाले मरीजों को गर्म पानी से नहाना चाहिए। इससे उनके शुगर लेवल में कमी आती है। रात में सोने से पहले शुगर के मरीज गर्म पानी से जरूर नहाएं। English summary 8 benefits of a night shower You must be bathing in the morning in the morning because it is very important for you to take a bath and keep your body healthy. Generally it is seen that people take bath while working at college or in some way while attending office. But do you ever sleep before sleeping at night.

अपने बालों को खूबसूरत बनाने के लिए अपनाएं पपीते का ये हेयर मास्क

Monday, December 18 2017

अपने बालों को खूबसूरत बनाने के लिए अपनाएं पपीते का ये हेयर मास्क

बालों-की-देखभाल » अपने बालों को खूबसूरत बनाने के लिए अपनाएं पपीते का ये हेयर मास्क अपने बालों को खूबसूरत बनाने के लिए अपनाएं पपीते का ये हेयर मास्क Hair Care 10:07 अक्सर लोग इस बात को लेकर आश्चर्य-चकित रहते हैं कि उनकी दादी और नानी के बाल इतने सुन्दर, लम्बे कैसे होते हैं, जबकि वो ना तो कोई महंगे शैम्पू का इस्तेमाल करती हैं और ना ही सैलून जाती हैं। आपको बता दें कि वो नेचुरल चीजों जैसे नारियल, केला, एवोकैडो, जोजोबा, नींबू और पपीते का इस्तेमाल करती हैं। इस आर्टिकल में हम बालों की सुन्दरता के लिए पपीते के लाभों के बारे में बात करेंगे। आप अपने बालों को स्वस्थ रखने के लिए घर पर ही हेयर मास्क को बना सकते हैं। पपीते में ढेर सारे विटामिन जैसे विटामिन A, B और C होते हैं। विटामिन A आपके बालों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, विटामिन B आपके सिर को साफ़ करके डेड स्किन सेल्स को दूर करता है, जबकि विटामिन C बहुत अच्छा एंटी-आक्सीडेंट होता है जिससे आपके बाल तेजी से बढ़ते हैं। इसके अलावा पपीते में मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर और बीटा-कैरोटीन होते हैं जो बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। पपीता आपके बालों के लिए क्यों अच्छा है, हम आपको इसके 10 कारण बताते हैं। 1- बालों को घना बनाता है। 2- बालों को झड़ने से रोकता है। 3- बालों को पतला होने से रोकता है। 4- रूसी दूर करता है। 5- नेचुरल कंडीस्नर की तरह काम करता है। 6- बालों के विभाजन को नियंत्रित करता है। 7- बालों के प्रीमैच्योरिटी को रोकता है। 8- बालों में चमक देता है। 9- बालों में केमिकल बनने से रोकता है। 10- बालों को मजबूती देता है। इस आर्टिकल में हम आपको बालों को स्वस्थ रखने के लिए पपीते से बनने वाले हेयर मास्क के बारे में बताने जा रहें हैं। 1- पपीता और दही का हेयर मास्क: दही में प्रोटीन होता है जो बालों को स्वस्थ और मजबूत बनाता है। दही में मौजूद लैक्टिक एसिड बालों के डेड स्किन सेल्स को दूर करने का काम करता है। पपीता और दही का मिश्रण बालों के लिए बहुत बढ़िया होता है। इस्तेमाल करने का तरीका: कच्चे पपीते को छीलकर उसमें से बीज को निकाल दें। इसे छोटे छोटे टुकड़ों में काटकर ब्लेंडर में रखें। इसका पेस्ट बना लें। इसमें आधा कप दही मिला दें। फिर इन सबको अच्छे से मिला दें। फिर इसे अपने बालों की जड़ों में लगाएं। इसे 30 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। फिर अपने सिर को शैम्पू से धो लें। 2- पपीता और नारियल तेल का हेयर मास्क: नारियल में फैटी एसिड और विटामिन पाए जाते हैं जो बालों को बेहतर न्यूट्रीयेंट्स देने के साथ साथ उन्हें मजबूत और चमकदार बनाता है। नारियल तेल में पपीता मिलाने से आपके बाल सुन्दर दिखते हैं। इस्तेमाल करने का तरीका: कच्चे पपीते को छोटे छोटे टुकड़ों में काटकर इसमें से सारे बीज को निकाल लें। इसे ब्लेंडर में डालकर एक पेस्ट बना लें। फिर इसमें नारियल का तेल मिला लें। इस मिश्रण को अपने बालों में 30 मिनट तक लगाए रखें। और फिर शैम्पू से धो लें। 3- पपीता और शहद का हेयर मास्क: शहद बालों के झड़ने को रोकता है, इसके अलावा यह बालों में होने वाले इन्फेक्शन को दूर करता है और उन्हें पूरा न्यूट्रीशन देता है। एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-फंगल गुण होने की वजह से यह बालों को मजबूत और स्वस्थ बनाता है। शहद बालों के लिए एक नेचुरल कंडीस्नर का काम करता है जो बालों की नमी बनाए रखता है। इस्तेमाल करने का तरीका: पपीते को छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें। इसमें शहद मिलाकर ब्लेंडर में मिक्स कर लें। फिर इसे अपने बालों में 30 मिनट तक लगाए रखें। और फिर पानी से धो लें। 4- पपीता और केले का मास्क: केले में बायोटिन होता है जो बालों को बढ़ने में मदद करता है और उसे मुलायम और चमकदार बनाता है। केला और पपीता बालों को मजबूत बनाने के लिए एक उत्प्रेरक का काम करते हैं। इस्तेमाल करने का तरीका: इसके लिए आप एक केले को लें और उसे अच्छे से छील लें। और फिर इसे आधा कटे पपीते के साथ मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को अपने बालों में लगाकर 30 मिनट तक छोड़ दें। और फिर इसे पानी से धो लें। 5- पपीता और अंडे का हेयर मास्क: अंडे में ढेर सारे न्यूट्रीयेंट्स और विटामिन पाए जाते हैं जो बालों को बढ़ने में मदद करते हैं। इस्तेमाल करने का तरीका: इसके लिए एक बाउल में अंडे को फोड़कर लें। दूसरे बाउल में पपीते का पेस्ट बना लें। फिर इन दोनों को एक साथ मिला दें और अपने बालों में लगाएं। इसे 30 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। और फिर शैम्पू से धो लें। इस प्रक्रिया को आप हफ्ते में एक बार जरुर इस्तेमाल करें। 6- पपीता, करी पत्ता और दही का हेयर मास्क: करी पत्ता बालों को तेजी से बढाता है और साफ़ भी करता है और वहीँ दही बालों के लिए कंडीस्नर का काम करता है जिससे आपके बाल मजबूत और स्वस्थ रहते हैं। इस्तेमाल करने का तरीका: इसके लिए आप एक मुट्ठी करी पत्ता और एक कच्चे पपीते को लेकर ब्लेंडर में पेस्ट बन लें। फिर इस मिश्रण में 2 से 3 चम्मच दही मिला दें। इसको सिर में लगाकर आधा घंटे के लिए बैठ जाएँ। फिर इसे शैम्पू से धो लें। अच्छा रिजल्ट पाने के लिए इस मास्क को हफ्ते में दो बार इस्तेमाल करें। 7- पपीता, एवोकैडो और शहद का हेयर मास्क: एवोकैडो बालों के बढ़ने में मदद करता है क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में विटामिन और मिनरल्स होते हैं। यह एक अच्छा कंडीस्नर होता है जो बालों को मुलायम और सिल्की बनाता है। वहीँ दूसरी तरफ शहद बालों को नमी देने का काम करता है। इस्तेमाल करने का तरीका: आधे एवोकैडो के साथ कुछ पपीते के टुकड़ों को मसलकर इसका एक पेस्ट बना लें। इसमें एक चम्मच शहद मिला दें। इसे अपने बालों में लगाकर हल्के हाथों से मसाज करें। और फिर इसे 30 मिनट तक छोड़ दें। इसके बाद शैम्पू से इसे धो लें। अच्छे रिजल्ट के लिए इसे हफ्ते में एक बार जरुर अपनाएं। 8- पपीता, ऑलिव आयल और नारियल तेल का हेयर मास्क: ऑलिव आयल बालों को नमी देता है और नारियल तेल उनको बढाने का काम करता है और डैमेज बालों की मरम्मत करता है। इस्तेमाल करने का तरीका: एक कच्चे पपीते को मसलकर इसमें 2 चम्मच नारियल तेल और एक चम्मच ऑलिव आयल मिलाएं। इसको अच्छे से मिलाकर अपने बालों में लगाएं। इसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें। फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें और शैम्पू करें। इस प्रक्रिया को आप हफ्ते में कम से कम एक बार जरुर अपनाएं। 9- पपीता और नींबू जूस का हेयर मास्क: नींबू में सिट्रिक एसिड होता है जो सिर के pH को नियंत्रित करता है और उसे सूखने से बचाता है। यह बालों की रूसी को भी दूर करता है। इस्तेमाल करने का तरीका: एक साफ बाउल में कच्चे पपीते को मसलकर एक पेस्ट बना लें। इसमें एक चम्मच नींबू का जूस मिला दें। इस मिश्रण को अपने बालों में लगाकर धीरे धीरे मसाज करें। इसे 30 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। और फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें और शैम्पू करें। इस प्रक्रिया को आप हफ्ते में कम से कम दो बार इस्तेमाल करें। 10- पपीता और जोजोबा आयल का हेयर मास्क: जोजोबा में अधिक मात्रा में न्यूट्रीयेंट्स और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो बालो की रूसी को दूर करने का काम करते हैं। यह बालों के लिये एक कंडीस्नर का काम करते हैं जिससे आपके बालों में चमक आती है। इस्तेमाल करने का तरीका: एक कच्चे पपीते को मसलकर उसमें एक चम्मच जोजोबा आयल मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इसको अपने बालों में लगाकर 30 मिनट तक छोड़ दें। फिर इसे गुनगुने पानी और शैम्पू से धो लें। बेहतर परिणाम के लिए आप इसे हफ्ते में दो बार इस्तेमाल करें। 11- पपीता और कोकोनट मिल्क हेयरमास्क: कोकोनट मिल्क बालों को नमी देता है और उन्हें सूखने और टूटने से बचाता है। जिससे आपके बालो का विकास बढ़िया होता है। इस्तेमाल करने का तरीका: एक कच्चे पपीते को मसलकर इसमें दो चम्मच कोकोनट मिल्क मिला लें। इसे अपने बालों में लगाएं। धीरे धीरे बालों का मसाज करें और 30 मिनट तक छोड दें। फिर इसे शैम्पू और गुनगुने पानी से धो लें। इस हेयर मास्क को आप हफ्ते में दो बार इस्तेमाल करें।

भूल जाइए लेजर ट्रीटमेंट, इन घरेलू उपायों से करे अनचाहे बालों का इलाज

Monday, December 18 2017

भूल जाइए लेजर ट्रीटमेंट, इन घरेलू उपायों से करे अनचाहे बालों का इलाज

11:02 शरीर में आने वाले अनचाहे बालों से महिलाएं और लड़कियां काफी परेशान रहती है, चे‍हरे पर आए ये अनचाहे बाल लड़कियों के चेहरे की सुंदरता को धूमिल करती है। कई लड़कियां वैक्सिंग के जरिए इन बालों से कुछ समय के लिए निजात पा लेती हैं। हाथ और पांव के बाल तो चलिए वैक्सिंग से चले जाएंगे, लेकिन कुछ लड़कियों के चेहरे, पीठ, ठुड्डी, नाक के ऊपर अनचाहे बालों की समस्‍या होती है उससे निजात पाना बहुत ही सिरदर्द वाला काम होता है। लड़कियों के चेहरे पर बालों की यह समस्‍या लड़कियों में हार्मोनल अनबैलेंस की वजह से होती है। कई लड़कियां तो इस समस्‍या से निजात पाने के लिए लेजर ट्रीटमेंट का सहारा लेती है, लेकिन यह जरुरी नहीं है कि इससे कोई फर्क भी पड़े। यह समस्‍या 18-45 उम्र तक की महिलाओं के साथ देखने को मिलती है। अगर बाल करवाएं हैं कलर, तो उनकी ऐसे करें केयर वैज्ञानिक रूप से इसको अतिरोमता (hirsutism) कहते हैं। वैसे इसका कोई परमानेंट ईलाज नहीं है लेकिन हम आपको कुछ घरेलू उपाय बता रहे है, जिनकी मदद से आप काफी हद तक इस समस्‍या से निजात पा सकते है। ये होते है कारण रक्त में पुरूष हॉर्मोन (androgen) का स्तर बढ़ जाता है। अनचाहे बालों के विकास में आनुवांशिकता भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। पी.सी.ओ.एस. यानि पोलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (सेक्स हॉर्मोन में असंतुलन) के कारण भी अतिरोमता की बीमारी हो सकती है। वैसे तो इसका इलाज बहुत दर्द देने वाला होता है मगर प्राकृतिक तरीके से बिना दर्द के भी इसका उपचार घर पर भी किया जा सकता है। 1. पुदीना या पहाड़ी पुदीने की चाय पुदीना का चाय पीने से टेस्टास्टरोन (पुरूषों का यह हार्मोन अतिरिक्त अवांछित उत्तरदायी होता है) का स्तर कम हो जाता है। अतिरोमता को कम करने के लिए दूसरे विकल्प के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। एक छोटा चम्मच पुदीना चाय का पत्ता कप में लें और उस पर गर्म पानी डालकर दस मिनट तक भिगने दे। उसके बाद चाय को पी सकते हैं। हफ़्ते में पाँच दिन तक इसका सेवन करना चाहिए। आयुर्वेद में जानें कैसे बताया गया है बालों में तेल लगाना 2. हल्दी और बेसन का पैक बेसन और हल्दी में दही डालकर पैक बनाकर उसका इस्तेमाल करने से अवांछित बालों का आना कुछ हद तक कम किया जा सकता है। एक कटोरी में एक चम्मच बेसन और एक चुटकी हल्दी लें और उसमें एक बड़ा चम्मच दही डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पैक बना लें। चेहरे और गर्दन पर पैक को लगायें। शरीर के दूसरे अंगों में भी लगाना चाहते हैं तो उसके अनुसार पैक की चीजों की मात्रा बढ़ा लें। इस पैक से अच्छी तरह से मालिश करें और सूखने के बाद पानी से धो लें। 3. प्‍यूमिक स्‍टोन प्‍यूमिक स्‍टोन से अवांछित बाल कुछ हद तक दूर होते हैं। इससे रगड़ने पर बालों का आना कुछ हद तक तो कम हो जाता है मगर पूरी तरह से आना बंद नहीं हो जाता है। शरीर के जिस जगह पर इसका इस्तेमाल किया जाता है उसको पहले भिंगा लेना चाहिए। उसके बाद धीरे-धीरे इससे रगड़कर बाल को निकालना चाहिए ताकि कुछ बाल तो निकल जाय साथ ही बाल का आना रूक जाए। 4. चीनी और नींबू का पैक चीनी और नींबू का पैक लगाकर कुछ देर तक मालिश के रूप में रगड़ने से अवांछित बालों का निकलना धीरे-धीरे कम होने लगता है। चीनी में ताजा नींबू का रस पानी में डालकर अच्छी तरह से मिला लें। अच्छी तरह से मिलाने के बाद चेहरे पर बालों के उगने के दिशा में लगायें। उसके बाद पंद्रह मिनट के लिए छोड़ दें। फिर पानी से धो लें। इस पैक का इस्तेमाल सप्ताह में एक बार करें। 5. नींबू और शहद का पैक शहद और नींबू का पैक एक ऐसा पैक है जो न सिर्फ त्वचा को मॉश्चराइज़ करता है बल्कि त्वचा को निखारता भी है। एक कटोरी में जूस लें और उसमें शहद लेकर दोनों का अच्छी तरह से मिश्रण बना लें। इस मिश्रण में रूई का फाँक डुबोकर अवांछित बालों के जगह पर लगायें। उसके बाद बालों के उगने के दिशा में धीरे-धीरे रगड़े। पंद्रह मिनट के बाद मिश्रण को धो लें। हफ़्ते में दो बार इसका इस्तेमाल करें और इसका इस्तेमाल दो हफ़्ते तक करें। 6. अंडा अंडे के मास्‍क को आप वैक्‍स की तरह इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए एक अंडे के सफेद भाग को फेंटकर अपने चेहरे पर लगाये और सूखने पर गुनगुने पानी से धो लें। इससे अनचाहे बाल निकलने के साथ झुर्रियों की समस्‍या से भी निजात मिल जाता है। इन तरीकों के द्वारा अनचाहे बालों के आने की समस्या को कुछ हद तक कम किया जा सकता है। English summary How To Naturally Remove Unwanted Body Hair Permanently So many people are looking for a permanent hair removal method, one that will eliminate body hair once and for all. Please Wait while comments are loading...

कान के वैक्स से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये तरीके

Monday, December 18 2017

कान के वैक्स से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये तरीके

» कान के वैक्स से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये तरीके कान के वैक्स से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये तरीके Wellness Published: Monday, December 18, 2017, 11:00 [IST] Subscribe to Boldsky आपके कान में मौजूद वैक्स जिसे वैज्ञानिक सेरुमेन कहते हैं, एक पीले रंग का पदार्थ होता है जो अक्सर हमारे कानों में पाया जाता है। यह कान की ग्रंथियों द्वारा स्रावित होता है। कान मे मौजूद वैक्स कान की रक्षा करता है और इसमें मौजूद घटक कान की नली को धूल, बैक्टीरिया और यहाँ तक की पानी से होने वाली उलझन भी बचाने का काम करते हैं। यदि आपको सुनने में कोई दिक्कत हो रही है तो यह संभव है कि इसकी वजह आपके कान में मौजूद वैक्स ही है जिसे साफ़ करने की जरुरत है। यहाँ हम आपको कान के वैक्स को साफ़ करने के कुछ नेचुरल तरीके बताने जा रहें हैं। 1. हाइड्रोजन पेरोक्साइड: आपके कान के वैक्स को बाहर निकालने के लिए यह एक नेचुरल तरीका है। इसके लिए आप कॉटन बॉल को हाइड्रोजन पेरोक्साइड में भिगोकर अपने कान को साफ़ कर सकते हैं। 2. नारियल तेल: नारियल तेल में मौजूद फैटी एसिड की वजह से यह वैक्स को साफ़ करने का महत्वपूर्ण तरीका है। यह इन्फेक्शन और बैक्टीरिया को दूर रखता है। इसके लिए आप नारियल तेल को गर्म करके ड्रॉपर की मदद से कुछ बूंदे कान में डालें और 5 मिनट बाद इयर बड द्वारा इसे साफ़ कर लें। 3. एल्कोहल: एल्कोहल और सिरके का मिश्रण वैक्स को घुलनशील बनाने में मदद करता है। एल्कोहल वैक्स को सूखने नहीं देता है जबकि सिरका इन्फेक्शन से बचाता है। इसके लिए इन दोनों को मिलाकर कॉटन बड की मदद से आप कान को साफ़ कर सकते हैं। 4. बादाम का तेल: बादाम का तेल भी एक सुरक्षित तरीका है वैक्स को बाहर निकालने के लिए। यह वैक्स को मुलायम बनाता है जिससे वह आसानी से निकल जाता है। इसके लिए आप इसकी कुछ बूंदे अपने कान में डालें और कुछ देर बाद इसे बड द्वारा साफ़ कर लें। 5. बेबी आयल: बेबी आयल द्वारा कान के वैक्स को साफ़ करने को लेकर आप थोडा आश्चर्य चकित जरुर होंगे। इसके लिए आप इसकी कुछ बूंदे अपने कानों में डालकर उसे कुछ देर के लिए छोड़ दें। यह आयल अपने आप ही कान में मौजूद वैक्स को साफ़ कर देगा। बेबी आयल एक पेट्रोलियम पदार्थ होता है जो कान के वैक्स को साफ़ करने में मदद करता है। 6. बेकिंग सोडा: बेकिंग सोडा एक प्राकृतिक तरीका माना जाता है कान में मौजूद वैक्स को साफ़ करने के लिए। यह एक तरह का एंटी-सेप्टिक होता है जो कान में मौजूद वैक्स को मुलायम बनाता है और इसे दोबारा बनने से भी रोकता है। इसके लिए आधा चम्मच बेकिंग सोडा और पानी को मिलाकर कुछ बूंदे कान में डालें। इसको साफ़ करने से पहले इसे कुछ देर के लिए छोड़ दें। 7. खारा पानी: खारा पानी वैक्स को निकालने के लिए उतना ही असरदार होता है जितना किसी डॉक्टर द्वारा लिखे गये इअर ड्राप होते हैं। इसके लिए आप एक चम्मच नमक को पानी के साथ मिला दें। इसके बाद इसमें कॉटन बॉल को भिगोकर कान में कुछ बूंदे डालें। इसके बाद अपने सिर को थोडा झुकाकर इस पानी को नकाल दें। 8. ऑलिव आयल: ऑलिव आयल कान मे मौजूद वैक्स को मुलायम बनाने में मदद करता है जिससे यह आसानी से बाहर निकल जाता है। ऑलिव आयल में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जिसकी वजह से यह कान को स्वस्थ रखता है। 9. लहसुन का तेल: जिन लोगों को कान में मौजूद वैक्स की वजह से दर्द का एहसास होता है उनके लिए लहसुन का तेल बहुत ही ज्यादा असरदार होता है क्योंकि इसमें एलीसिन नामक पदार्थ होता है जो एक तरह का एंटी-बायोटिक होता है। यह उन लोगों को कई तरह के इन्फेक्शन से बचाता है। लहसून के तेल को बनाने के लिए आप सबसे पहले 3 से 4 लहसुन की कलियाँ लें और उसे फ्राई करें जब तक की वह सारे आयल को सोख ना ले। इसके बाद रात में सोने से पहले इस आयल को निचोड़कर कान में डालें जिससे आपको बेहतर परिणाम मिलेगा। 10. ग्लिसरीन : कान में मौजूद वैक्स को साफ़ करने का यह सबसे पुराना तरीका है। यह वैक्स को सॉफ्ट और नम बनाता है जिससे वह आसानी से बाहर निकल जाता है। बेहतर रिजल्ट पाने के लिए आप रात में सोने से पहले इसकी कुछ बूंदे अपने कान में डालकर रातभर ऐसे ही छोड़ दें। अगली बार जब भी आपको कान में मौजूद वैक्स की वजह से कोई दिक्कत हो तो इन बताये गये नेचुरल तरीकों का इस्तेमाल करना ना भूलें। English summary How To Get Rid Of Ear Wax Quickly Here are a few useful tips that show how to get rid of ear wax quickly using pure and natural methods at home. Story first published: Monday, December 18, 2017, 11:00 [IST] Dec 18, 2017 कीअन्यखबरें Please Wait while comments are loading...

Gynecologist के पास जा रही हैं तो कभी ना छुपाएं उनसे ये 11 बातें

Sunday, December 17 2017

Gynecologist के पास जा रही हैं तो कभी ना छुपाएं उनसे ये 11 बातें

» Gynecologist के पास जा रही हैं तो कभी ना छुपाएं उनसे ये 11 बातें Gynecologist के पास जा रही हैं तो कभी ना छुपाएं उनसे ये 11 बातें Women Published: Monday, December 18, 2017, 1:00 स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास लड़कियां अक्सर जाने से घबराती हैं। यही नहीं अगर उन्हें कोई समस्या है तो वह भी बताने से कतराती हैं और कई बार अपनी समस्या छुपाने के चाक्‍कर में झूठ भी बोल देती हैं जिससे उन्हें ही नुक्सान होता है। इसलिए अपनी बात को अच्छे से कहें क्योंकि वो एक डॉक्टर हैं और उन्हें इन सब समस्याओं के बारे में आपसे ज्‍यादा पता है। अगर आप उन्हें सब सच-सच बता देंगी तो इससे आपको ही फ़ायदा होगा क्योंकि इससे वो आपको सही सलह दे पाएंगी। प्राइवेट पार्ट में खुजली 1 मिनट में दूर करने के घरेलू उपाय जिससे आपको आगे चल कर कोई परेशानी नहीं होगी। इसीलिए आज हम आपको कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहें हैं जिन्हे आपको अपनी गायनोकोलॉजिस्ट को जरुरी बातना चाहिए। आइये जानते हैं। 1. आपका कितने लोंगो के साथ रहा है शारीरिक संबन्‍ध अपनी गायनोकोलॉजिस्ट को यह जरूर बताएं कि आपने कितनों के साथ पहले शारीरिक संबन्‍ध स्‍थापित किया है। अगर वो ना भी पूछें फिर भी, इससे उन्हें आपकी मेडिकल हिस्ट्री का पता चलेगा। और वो आपकी समस्या का इलाज कर पाएंगी। 2. असुरक्षित संभोग तो नहीं किया यह बताने में शर्मिंदा होने की कोई जरूरत नहीं है कि आपने सेक्स करते वक़्त कोई भी प्रोटेक्शन का इस्तेमाल नहीं किया। क्योंकि इससे आपको यौन संबंधि समस्या, यौन संक्रमण या आप गर्भवती हो सकती है। और इन सब की जांच होना बहुत जरुरी है। 3. अगर शारीरिक संबन्‍ध बनाने के बाद खून आता है यदी ऐसा केवल एक बार हुआ है तो कोई दिक्‍कत नहीं है। लेकिन अगर यह आपके साथ एक से ज्यादा बार हुआ है तो आप अपने डॉक्टर को तुरंत दिखाएँ क्योंकि यह किसी संक्रमण की वजह से भी हो सकता है या फिर सर्विकल कैंसर की शुरूआती संकेत भी हो सकते हैं। इसलिए इसे नज़र अंदाज़ ना करें। 4. अगर आपके पीरियड्स देर से हो रहें हैं अगर आप गर्भवती नहीं हैं और आपके पीरियड्स देर से हो रहें हैं या फिर बहुत ही कम मात्रा या ज्‍यादा मात्रा में ब्‍लीडिंग हो रही है तो इसका साफ मतलब है कि आपको डॉक्टर को दिखने की जरुरत है। क्योंकि यह असंतुलित हार्मोन या किसी संक्रमण की वजह से हो सकता है। 5. संभोग के दौरान दर्द होना संभोग के दौरान दर्द, योनि में सूखेपन की वजह से होता है या फिर उसे वाल्वोडिनिया और वैजिनिज़्मस जैसी स्थिति कही जाती है। यह सारी समस्या सिर्फ डॉक्टर के इलाज से या फिर पैल्विक फ्लोर व्यायाम से ही ठीक होती है। यही नहीं कभी कभी आपको मेडिकेटिड लुब की भी जरूरत पड़ती है। 6. क्‍या किसी दवा की वजह से ऐसा हो रहा है अगर आप कोई भी दवा ले रहीं है फिर चाहे वह बर्थ कंट्रोल हो या फिर आप गर्भवती होने के लिये कोई दवा का सेवन कर रही हैं तो अपने डॉक्‍टर को बताएं। वह चाहे कोई आयुर्वेद की भी दवा क्यों ना हो, इसे जरुर बताएं। 7. यदि आप धूम्रपान या ड्रग्स और शराब पीती हैं धूम्रपान करने से एचपीवी (मानव पेपिलोमावायरस जो यौन सम्बन्ध बनाने से सबसे ज्यादा फैलता है) ज्यादा बढ़ जाता है और कैंसर में तब्दील हो जाता है। यही नहीं धूम्रपान करने से रक्त के थक्के, दिल के दौरे और स्ट्रोक होने के सबसे ज्यादा चांसेस होते हैं। यह उन महिलाओं के साथ ज्यादा होता है जो 35 वर्ष की आयु को पार कर चुकी हैं और हार्मोनल गर्भनिरोधक लेती हैं। 8. अगर आपको पीरियड्स जैसा दर्द होता है तो पेट की ऐंठन, सिरदर्द, मूड स्विंगऔर ब्रैस्ट में टेंडरनेस होना पीरियड्स में आम बात है। लेकिन अगर आपके पीरियड्स नहीं होते हैं और वैसा ही दर्द होता है तो यह मायोमा या एंडोमेट्रियोसिस के लक्षण हो सकते हैं। 9. योनि में बदबू आना अगर आपकी योनि में से किसी तरह की अजीब सी गंध आने लगी है, जो आपसे बर्दाश नहीं होती है तो इससे यह पता चलता है कि आपको किसी तरह का संक्रमण हो गया है। 10. सेक्स ड्राइव में कमी होना अगर यह समस्या आपको है तो, आपका सेक्‍स हार्मोन कम हुआ है। यह इस बात की निशानी है कि आपको हार्मोनल इम्बैलेंस हुआ या फिर आपको कोई मनोवैज्ञानिक समस्या है। 11. जननांगों में किसी तरह कोई वृद्धि होना अगर आपके जननांगों पर किसी प्रकार के मस्‍से, पिंपल्स या कोई और संक्रमण हो रहा हो तो, इसे डॉक्‍टर से बताना ना भूलें। English summary 11 Things Every Woman Should Tell Her Gyno Here, 11 things you should definitely tell your gynecologist, even if you’d barely consider telling your best friend. Story first published: Monday, December 18, 2017, 1:00 [IST] Dec 18, 2017 कीअन्यखबरें