Health and Fitness

क्‍या स्विमिंग से टैनिंग हो गई चेहरे पर

Friday, October 20 2017

क्‍या स्विमिंग से टैनिंग हो गई चेहरे पर

स्विमिंग वेटलॉस करने का सबसे अच्‍छा तरीका है, लेकिन तैराकी के जितने फायदें हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। तैराकी से जहां कुछ संक्रमण होते है वहीं इससे टैनिंग की समस्‍या से सबसे ज्‍यादा होती हैं। ज्‍यादा टैनिंग से आपकी त्वचा खराब हो सकती हैं। हालांकि टैनिंग के कारण कई और भी हो सकते हैं, लेकिन मुख्य कारणों में तैराकी को ही माना जाता है। तैराकी के दौरान त्वचा पर टेनिन ना हो इसके लिए आपको कुछ उपाय अपनाने होंगे। आइए जानें तैराकी के दौरान त्वचा पर टैनिन से बचने के उपाय।

टैनिंग और सर्न बर्न

आमतौर पर टैनिंग का मतलब है सूर्य की किरणों से त्वचा का किन्हीं कारणों से डार्क होना। यानी आपकी त्वचा का गोरा रंग काला पड़ गया है। कई बार टैनिंग तेज धूप के कारण भी पड़ जाती है, जिसे आप सन बर्न भी कहते हैं, हालांकि सन बर्न से त्वचा जलती है और एकदम लाल हो जाती है, इसमें कई बार रेशेज या लाल दाने भी हो जाते हैं, लेकिन टैनिन में त्वचा दिन-प्रतिदिन काली पड़ती जाती है। टैनिंग किसी भी उम्र में हो सकती है और इसके होने के कारण भी अलग-अलग हो सकते हैं। टैनिंग आमतौर पर नियमित रूप से स्वीमिंग करने और तेज धूप में निकलते से होती है। स्विमिंग से पहले इन बातों का ध्‍यान रखें टैनिंग से बचने के लिए जरूरी है कि आप अपनी त्वचा की सही से देखभाल करें। आपको चाहिए कि आप जब भी स्वीमिंग करने जाएं तो बॉडी पर अच्छी तरह से मॉश्चराइजर लगाएं। जब स्वीमिंग करके बाहर आएं तो आपको अच्छी तरह से साफ पानी से नहाना चाहिए और त्वचा पर टैनिंग को दूर करने के लिए मॉश्चराइजर लगाना चाहिए। इसे आपकी त्वचा स्वस्थ और टैनिंग मुक्त‍ रहेगी। टैनिंग को दूर करने के लिए आप सन स्क्रीन का लोशन का इस्तेमाल नहीं कर सकते क्योंकि इससे आपको कोई लाभ नहीं होगा। टैनिंग से बचने के लिए आपका स्वीमिंग पूल से आने के बाद तो नहाना जरूरी है ही, इसके लिए आपको स्वीमिंग पूल में जाने से पहले भी नहाना जरूरी है। टैनिंग से बचने के लिए आप अखरोट की गिरी का पाउडर और चावल का आटा लें और इसमें मूली का रस, छाछ और कुछ गुलाबजल की बूंदे मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को त्वचा की उस जगह पर लगाएं जहां आपको टैनिंग हुआ है, इसके बाद पेस्ट सूखने पर ठंडे पानी से इसे धोएं। इस प्रक्रिया को नियमित रूप से दोहराएं। आप पाएंगे कि टैनिंग कम हो गया है और आपकी त्वचा पहले से अधिक निखार पाने लगी है। धूप में निकलने से पहले अपनी त्वचा को पूरी तरह से ढक कर निकलें। जब भी बाहर जा रहे हों तो अपने आपको को कवर करें और स्वीमिंग पूल से आने के बाद तैयार होकर जब बाहर जाएं तो पूरी तरह से कवर होकर जाएं। दरअसल, स्वीमिंग पूल को साफ करने के लिए उसमें कई केमिकल मिलाएं जाते हैं जो कि हमारी त्वचा के लिए नुकसानदायक होते हैं। आपको चाहिए कि स्वीमिंग पूल में बहुत अधिक देर तक ना रहें और ध्यान रखें कि स्वीमिंग पूल की समय-समय पर सफाई होती रहे जिससे आपकी त्व्चा को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो और आप स्वस्थ भी रहें।

सर्दियों में रूसी की समस्‍या सताए तो करें ये घरेलू उपचार

Friday, October 20 2017

सर्दियों में रूसी की समस्‍या सताए तो करें ये घरेलू उपचार

रूसी की समस्‍या देश की आधी आबादी को घेरे हुए है। यह एक आम बीमारी है जो किसी को भी हो सकती है। यदि आपका सिर बुरी तरह से खुजला रहा है और उसमें सफेद रग की मृत कोशिकाएं झड़ रही हैं तो यह रूसी ही है। रूसी यानी डैंड्रफ की समस्‍या आपको लोंगो के सामने शर्मिंदा भी कर सकती है। रूसी के अधिकांश मामलों में लोग इसका घरेलू इलाज करना ही ज्‍यादा सही समझते हैं। वैसे तो इसे दूर करने के लिये बाजार में ढेर सारे शैंपू उपलब्‍ध हैं, लेकिन वह भी बेकार ही होते हैं। आइये जानते हैं रूसी को दूर करने के लिये कौन कौन से घरेलू उपचार काम आते हैं।

गरम तेल से मालिश

यदि आप नियमित तौर पर सिर में गरम तेल से मालिश करेंगी तो आपके बालों से रूसी दूर होगी। अपनी उंगलियों से अपनी बालों की जड़ो में मसाज करें और हां, ज्‍यादा प्रेशर ना दें। अगर तेल बालों में लगाते लगाते ठंडा हो जाए तो उसे फिर से गरम कर दें। उसके बाद अपने बालों को तौलिये से ढंक दें और रातभर के लिये यूं ही छोड़ दें। दूसरे दिन किसी हल्‍के शैंपू से सिर को धोएं और कंडीशनर लगाएं। आप ऐसा हफ्ते में दो या तीन दिन कर सकती हैं।

टी ट्री ऑइल

सर्दियों में टी ट्री ऑइल से रूसी की दिक्‍कत को खतम किया जा सकता है। हालाकि इसे आप यूं ही नहीं प्रयोग कर सकते बल्‍कि इसे किसी अच्‍छे तेल के साथ मिक्‍स कर के लगाना होगा। रात को सोने से पहले इस तेल का मिश्रण सिर पर लगा कर मसाज करें और दूसरे दिन सिर को धो लें।

दही और नींबू

नींबू में लैक्‍टिक एसिड होता है जो कि सिर की खाल के pH level को बैलेंस करता है और रूसी से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। दही से बाल नरम बनते हैं इसलिये सर्दियों में इसे जरुर लगाएं। 5 टीस्‍पून नींबू के रस के साथ आधा कप दही मिलाएं और फिर 20 मिनट तक सिर पर लगाए रखें। इस विधि को हर 2-4 दिन पर फॉलो करें।

नीम

नीम का हेयर मास्‍क बालो के लिये किसी जादू से कम नहीं है। बस कुछ नीम की ताजी पत्‍तियो को ग्राइंड कर लीजिये और उसमें 1 चम्‍मच शहद मिला लीजिये। इस गाढ़े पेस्‍ट को सिर पर लगा कर 20 मिनट छेाड़ दजिये। फिर इसे नॉर्मल पानी से धो लें।

सिरका

अगर सिर में रूसी की वजह से खुजली हो रही हो तो सिरका आपके काम आ सकता है। आपको बस एक सीमित मात्रा में सिरका और पानी लेना होगा और इसे मिला कर सिर को धोना होगा। फिर इसे आधे घंटे के बाद धो लेना होगा।

एलोवेरा

एलो वेरा के पौधे से कुछ पत्‍तियों में से जैल निकाल लें। फिर इसे सिर पर रगड़ें और कुछ देर के लिये छोड़ दें। बाद में इसे मेडिकेटेड शैंपू से धो लें। इससे सिर की खुजली भी खतम हो जाएगी।

लहसुन

हो सकता है कि आपको लहसुन की महक ना अच्‍छी लगे, लेकिन यह रूसी भगाने के लिये काफी अच्‍छी है। य एंटीफंगल गुणों से भरा है। लहसुन की 2-3 कलियों को पीस कर शहद में मिला लें। फिर इसे बालों की जड़ो में लगा लें और बाद में सिर धो लें। बेस्‍ट यूज़ के लिये ऐसा कई बार करें।

चेहरे पर ग्‍लो नहीं है? तो झट से आजमाएं ये 10 नेचुरल ब्‍यूटी टिप्‍स

Friday, October 20 2017

चेहरे पर ग्‍लो नहीं है? तो झट से आजमाएं ये 10 नेचुरल ब्‍यूटी टिप्‍स

चेहरा अगर साफ और चमकदार होता है तो अंदर से भी खुशी झलकती है। चेहरे पर ग्‍लो पाने के लिये भारतीय स्त्रियां सदियों पुराने 100 प्रतिशत प्राकृतिक और सुरक्षित तरीके अपनाती रही हैं। लेकिन ये बाजारू क्रीम्‍स और प्रोडक्‍ट आ जाने की वजह से हर कोई इनके पीछे ही भाग रहा है। चेहरे के पर लगाएं इमली और फिर देंखे रूप कैसे निखरता है पर क्‍या आप जानती हैं कि अगर आप नियमित रूप से प्राकृतिक प्राकृतिक चीजों को अपने चेहरे पर लगाएंगी तो चेहरे पर ना तो कोई साइड इफेक्‍ट होगा और चेहरे पर चार चांद लगेगा सो अलग। हमारी त्‍वचा प्रदूषण और तनाव की वजह से अपनी चमक खो बैठती है इसलिये इसकी नियमित देखभाल करना काफी जरुरी है। अगर आप इन प्राकृतिक सामग्रियों से अपनी त्‍वचा की देखभाल करेंगी तो आपका मेकअप करने की भी कोई जरुरत नहीं पड़ेगी। तो आइये देर किस बात की जानते हैं चेहरे पर घरेलू नुस्‍खे पाने के क्‍या हैं प्राकृतिक तरीके...

फेशियल स्‍टीमिंग करें

चेहरे को स्‍टीम देना एक पुराना तरीका है, जिसमें स्‍किन की गंदगी पोर्स से निकल जाती है और चेहरे पर ग्‍लो आ जाता है। अपने चेहरे को गरम पानी की भाप कम से कम 5-7 मिनट तक अवश्‍य दें।

कॉफी स्‍क्रब से चेहरे को स्‍क्रब करें

स्‍किन की कंडीशन सुधारनी है तो कॉफी से चेहरे को स्‍क्रब करें। बस 1 चम्‍मच पिसी कॉफी के साथ 2 टीस्‍पून कच्‍चा दूध मिक्‍स करें। इससे चेहरे को हल्‍के हल्‍के स्‍क्रब करें और बाद में पानी से धो लें। स्‍क्रब 5-10 मिनट तक करना है।

मुल्‍तानी मिट्टी का पैक लगाएं

अगर आपकी स्‍किन ऑइली है तो उस पर मुल्‍तानी मिट्टी का पैक लगाएं। इससे आपके चेहरे पर ग्‍लो आएगा। ½ चम्‍मच मुल्‍तानी मिट्टीमें 1 चम्‍मच टमाटर का रस मिक्‍स करें। इस पैक को चेहरे पर 15-20 मिनट तक लगाए रखने के बाद हल्‍के गरम पानी से धो लें। इस विधि को दिवाली पर ग्‍लो लाने के लिये अपनाएं।

रोज़ वॉटर स्‍प्रे करें

रोज़ वॉटर आपकी डल स्‍किन को और भी फ्रेश कर देता है। यह आपकी स्‍किन को हाइड्रेट करता है। रोज वॉटर यूज़ करने के कई तरीके हो सकते हैं। या तो आप इसको अपने फेस पैक में डाल सकती हैं या फिर इसे ऐसे ही चेहरे पर यूज़ कर सकती हैं।

नींबू का रस प्रयोग करें

नींबू में एसिडिक गुण होते हैं जो आपकी स्‍किन को बेहतर बनाने के काम आ सकते हैं। नींबू का रस निचोड़ें और उसमें रूई डुबो कर अपनी स्‍किन पर वहां लगाएं जहां पर कालापन या ब्‍लैकहेड है। 5-10 मिनट के बाद अपने चेहरे को पानी से धो लें। इससे चेहरे पर नेचुरल ग्‍लो आ सकता है। चेहरे पर लगाए जाने वाले तेल का प्रयोग करें लेवेंडर ऑइल, ऑलिव ऑइल या फिर अन्‍य तेल का प्रयोग कर सकती हैं। यह आपकी स्‍किन में ग्‍लो भर सकता है। अपने किसी भी फेस पैक में आप इन तेलों की 2-3 बूंद डाल सकती हैं। इससे आपको एक फ्रेश लुक प्राप्‍त हो सकता है।

रात भर एलोवेरा जैल लगाए रखें

चेहरे पर एक अलग सी चमक लाने के लिये रात में सोने से पहले मुंह पर एलो वेरा जैल लगाएं। चेहरे को सुबह धो लें। ऑलिव ऑइल ट्राई करें अपनी डल स्‍किन में अगर ग्‍लो भरना हो तो ऑलिव ऑइल को मत भूलिये। एक कॉटन पैड को थोड़े से ऑलिव ऑइल में डुबोइये और चेहरे तथा गर्दन पर लगाइये। 10-15 मिनट रखने के बाद चेहरे को हल्‍के गरम पानी से धो लीजिये।

खुद को हाइड्रेट रखिये

अपनी स्‍किन में ग्‍लो भरने के लिये आप को दिनभर पानी पीते रहना होगा। हम में से बहुत से लोग पानी कम पीते हैं जिससे स्‍किन का ग्‍लो चला जाता है। यह एक प्राकृतिक तरीका है स्‍किन में ग्‍लो भरने का।

फेशियल सीरम का प्रयोग करें

अपने चेहरे के लिये विटामिन सी या ई से भरपूर फेशियल सीरम का प्रयेाग करें। इसमे मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट आपके चेहरे के डलनेस को दूर करेगा और एक अलग सी ही चमक भरेगा। जब भी आप कोई मेकअप करें, तब यह फेशियल सीरम लगा लें।

त्वचा के रोमछिद्रो के लिए नेचुरल 'बॉडीगार्ड' है नींबू रस और नारियल का तेल

Friday, October 20 2017

त्वचा के रोमछिद्रो के लिए नेचुरल 'बॉडीगार्ड' है नींबू रस और नारियल का तेल

मुंहासे, ब्लैकहेड्स और दाग भरी त्वचा इन सभी स्किन प्रॉब्लम्स का मुख्य कारण है बढ़ता 'पॉल्युशन'। जिसके चलते त्वचा बेजान होकर डेड हो जाती है और स्किन के रोमछिद्र तक बंद हो जाते है। इससे न सिर्फ त्वचा को नुकसान उठाना पढ़ रहा है बल्की सेहत भी खतरें में है। ऐसे में यह अहम मुद्दा बन गया है कि त्वचा के रोमछिद्रों को कैसे खुला और साफ रखा जाए। हालांकि मार्केट में इन दिनों त्वचा संबंधी हर समस्या के उपाय के तौर पर कोई न कोई कॉस्मेटिक प्रॉडेक्ट आसानी से मिल जाता है। लेकिन इस बात से भी नहीं मुकरा जा सकता कि इन सभी बाजारू चीजों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल के कारण त्वचा को बहुत से साइड इफेक्ट्स भी झेलने पड़ते है। ऐसे में बेहतर है कि हम त्वचा के लिए दादी मां के प्राकृति नुस्खों को ही अपनाएं। आज बोल्डस्कई पर हम आपसे शेयर कर रहें है, नींबू का रस और नारियल के तेल जैसे दो चमत्‍कारी प्रकृति चीजें, जिनके मिश्रण को लगाने से स्किन का ग्लो एक बार फिर से निखर उठेगा और बेजान हो चुकी आपकी त्वाचा में रंगत आ जाएगी। साथ ही साथ जानेंगे कि कैसे इस मिश्रण को बनाएं और कैसे इसे लगाएं, ताकि आपकी स्किन चमक उठें। बैक्‍टेरिया का भी खात्मा माना कि पॉल्युशन से घिरे इस वातावरण में स्किन केयर बहुत मुशिकल काम हो चुका है, लेकिन हमारी प्रकृति के पास आज भी ऐसी बहुत सी चीजे है। जिनके इस्तेमाल से हम त्वचा का बेहतर ख्याल रख सकते है। जैसे कि त्वचा को निखरी और एक बार फिर से जंवा बनाने के इस मिशन में आपके बेस्ट नेचुरल हथियार है नींबू का रस और नारियल का तेल। क्योंकि नींबू के पॉवरफूल एंटीऑक्सिडेंट और नारियल के तेल का मॉइश्चराइजर स्किन को फिर से एक बार तरोताजा कर देता है। इतना ही नहीं इन दोनों में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टिरियल एजेंट्स भी पाए जाते है, जिससे त्वचा को नुकसान होने के चांस कम हो जात है। साथ ही साथ इन दोनों के मिक्सचर से इंफेक्शन फैलाने वाले बैक्ट्रिया का भी खात्मा हो जाता है।

ऐसे करें अप्लाई

- सबसे पहले, चेहरे पर माइल्ड फेशियल कर, गुनगुने पानी से मुंह धो लें। - फिर एक टी स्पून एक्स्ट्रा वर्जिन नारियल का तेल लेकर, उसमे 1 टेबिल स्पून नींबू का ज्यूस मिलाएं। - इस मिक्सचर को चेहरे के डेमिज ऐरिया पर लगाए। - अब 5-10 मिनिट के लिए र्सक्यूलर मोशन में इससे मसाज करें। - अब गुनगुने पानी में डूबें हुए कपड़े से चेहरा साफ करें। - इस मिक्सचर को हफ्ते में 3-4 बार लगाएं। घर पर इस ब्युटी ट्रिटमेंट से आपको बहुत जल्द असर दिखेगा। सावधानी: नारियल के तेल और नींबू के रस से बने इस मिक्सचर को अप्लाई करने से पहले चेहरे के छोटे से पैच पर लगा कर टेस्ट कर लें।

एक राजा जिसने भारत को बनाया सोने की चिड़िया

Thursday, October 19 2017

एक राजा जिसने भारत को बनाया सोने की चिड़िया

आपने बचपन से कई बार एक बात जरूर सुनी होगी की भारत पहले सोने की चिड़िया था और भारत को सोने कहा जाता था। परह पर क्या आप ये जानते है कि भारत को सोने कि चिड़िया आखिर किसने बनाया था। नहीं ना तो हम बताते है कि वो राजा थे विक्रनादित्य। बड़े ही शर्म की बात है कि महाराज विक्रमदित्य के बारे में देश को लगभग शून्य बराबर ज्ञान है, जिन्होंने भारत को सोने की चिड़िया बनाया था, और स्वर्णिम काल लाया था उज्जैन के राजा थे गन्धर्वसैन , जिनके तीन संताने थी , सबसे बड़ी लड़की थी मैनावती , उससे छोटा लड़का भृतहरि और सबसे छोटा वीर विक्रमादित्य। बहन मैनावती की शादी धारानगरी के राजा पदमसैन के साथ कर दी , जिनके एक लड़का हुआ गोपीचन्द , आगे चलकर गोपीचन्द ने श्री ज्वालेन्दर नाथ जी से योग दीक्षा ले ली और तपस्या करने जंगलों में चले गए। विक्रमादित्य का इतिहास भारत के स्वर्णिम इतिहास का प्रतीक है आइए जानते हैं विक्रमादित्य के बारे में.

ऐसे देश बना सोने की चिड़िया

विक्रमादित्य के समय में हमारे देश की आर्थिक दशा काफी अच्छी थी। वो ऐसा समय था जिसने भारत को सोने की चिड़िया बनाया और सबसे आगे लाकर खड़ा कर दिया था। महाराज विक्रमदित्य ने केवल धर्म ही नही बचाया उन्होंने देश को आर्थिक तौर पर सोने की चिड़िया बनाई, उनके राज को ही भारत का स्वर्णिम राज कहा जाता है।

विदेश जाता था कपड़ा

विक्रमदित्य के काल में भारत का कपडा, विदेशी व्यपारी सोने के वजन से खरीदते थे भारत में इतना सोना आ गया था की, विक्रमदित्य काल में सोने की सिक्के चलते थे। इसी कारण वो कपड़े का व्यापार और सोने के सिक्कों के टलन ने भारत को सोने की चिड़िया का नाम दिया गया था।

न्याय के लिए प्रसिद्ध था ये काल

आपने शुरु से ही किताबों में राजा विक्रमादित्य के न्याय की कहानियां जरूर सुनी होंगी। ऐसा माना जाता है कि उनके न्याय से प्रसन्न होकर कई बार तो देवता भी उनसे न्याय करवाने आते थे, विक्रमदित्य के काल में हर नियम धर्मशास्त्र के हिसाब से बने होते थे, न्याय, राज सब धर्मशास्त्र के नियमो पर चलता था विक्रमदित्य का काल राम राज के बाद सर्वश्रेष्ठ माना गया है, जहाँ प्रजा धनि और धर्म पर चलने वाली थी। इसी कारण राजा विक्रमादित्य को न्याय का प्रतीक माना जाता है। क्या आप जानते है कि कुछ काम उनके समय में ऐसे हुए जो कि ना होते तो आज रामायण और महाभारत जैसे महान ग्रंथ आपके पास ना होते। रामायण, और महाभारत जैसे ग्रन्थ खो गए थे, महाराज विक्रम ने ही पुनः उनकी खोज करवा कर स्थापित किया विष्णु और शिव जी के मंदिर बनवाये और सनातन धर्म को बचाया।

राजा के नौरत्नों में एक थे कालिदास

विक्रमदित्य के 9 रत्नों में से एक कालिदास ने अभिज्ञान शाकुन्तलम् लिखा, जिसमे भारत का इतिहास है अन्यथा भारत का इतिहास क्या मित्रो हम भगवान् कृष्ण और राम को ही खो चुके थे हमारे ग्रन्थ ही भारत में खोने के कगार पर आ गए थे। विक्रमादित्य के इतिहास को सदा के लिए याद किया जाता रहेगा। जनता भूलती जा रही है इस समय तो ऐसा देखने को मिल जाएगा कि जनता विक्रमादित्य को भूलती जा रही है। जिसने भारत को सोने की चिड़िया बनाने के लिए इतना संघर्ष किया आज उसी राजा का नाम हमारी पीढी नहीं जानती है। किताबों से उनका नानम मिटता जा रहा है। जो कि आने वाली पीढ़ी के लिए चिंता का विषय है।

अगर आपके भी बालों में आए हैं ये बदलाव, तो चमक सकती है आपकी किस्मत in Hindi

Wednesday, October 11 2017

अगर आपके भी बालों में आए हैं ये बदलाव, तो चमक सकती है आपकी किस्मत in Hindi

1

सामुद्रिक शास्त्र में व्यक्ति के अंग-लक्षणों का पूरा विश्लेषण किया गया है। बाल भी आपके शरीर का एक हिस्सा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि सिर पर बालों का कम या ज्यादा होने से लेकर, इसके सिल्की-स्ट्रेट, कर्ली, चमकदार या चमकहीन होने तक हर बात अपने आप में आपके आने वाले कल के लिए कुछ भविष्यवाणियां करती हैं।

2

इन्हें समझकर आप अपने भविष्य को समझ सकते हैं और उसके अनुसार काम करते हुए इसके अच्छे या बुरे संकेतों को अपने अनुसार परिवर्तित भी कर सकते हैं। आगे हम बालों से जुड़े इन संकेतों की चर्चा कर रहे हैं...

3

इसमें दो तरह की स्थितियां होती हैं...पहला, व्यक्ति के सिर पर जन्मजात ही बाल ना होना या कम होना। ऐसी स्थिति अच्छी नहीं मानी जाती। ऐसे लोग अक्सर बीमार रहते हैं और कभी कोई भी काम पूरा करने के लिए इन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ता है।

4

लेकिन सिर पर कम बाल होने की दूसरी स्थिति व्यक्ति को सौभाग्यशाली बनाता है। बालों का गिरना-झड़ना या अचानक कम होना आपको परेशान कर सकता है लेकिन यह जानकर जरूर आपको थोड़ा रिलैक्स महसूस होगा कि....

5 सिर पर बाल कम होना

गंजापन आना आपके धनी होने की निशानी है। इसलिए अगर आपके सिर पर बाल कम होने लगें और गंजापन आने लगे तो समझें कि आने वाले वक्त में आपको बड़ी कामयाबी मिलेगी और आपका अच्छा वक्त आने वाला है।

6

सिर के बीच से बाल कम होना या पूरी तरह चला जाना निकट भविष्य में आपको होने वाले धन लाभ का संकेत हैं। सबसे बड़ी बात यह होती है यह धन आपके जीवन में स्थायी तौर पर रहता है और लाफस्टाइल में में पॉजिटिव बदलाव भी लाता है। ऐसे लोग हर प्रकार से सुखी-संपन्न जीवन जीते हैं।

7

लेकिन अगर सिर के टॉप पर बाल हों और दोनों किनारों से बाल जाने लगें तो ऐसे लोगों को सफलता मिलती तो है लेकिन देर से मिलती है। जीवन में इन्हें भी सफलता और सम्मान मिलता अवश्य है लेकिन उसका लाभ ये खुद बहुत कम ही उठा पाते हैं।

8

इनके कमाए धन और सम्मान का लाभ इनके परिवार को मिलता है और यह सिर्फ एक पीढ़ी तक सीमित नहीं रहता, पल्कि पीढियों तक होता है। कई पीढ़ियां इसके लिए इनकी शुक्रगुजार होती हैं।

9

बालों का टेक्सचर भी आपके बारे में बहुत कुछ कहता है। बालों का अचानक रूखा, उलझा हुआ और चमकहीन हो जाना आने वाले वक्त में परेशानियां आने का इशारा करते हैं। इसके ठीक विपरीत चमकदार और सिल्की बाल आपको जल्द ही मिलने वाली सफलता और सम्मान का संकेत हैं।

जानिये अपनी स्‍किन को सर्दियों के लिये कैसे तैयार करें

Wednesday, October 18 2017

जानिये अपनी स्‍किन को सर्दियों के लिये कैसे तैयार करें

» जानिये अपनी स्‍किन को सर्दियों के लिये कैसे तैयार करें जानिये अपनी स्‍किन को सर्दियों के लिये कैसे तैयार करें Skin Care Published: Wednesday, October 18, 2017, 14:00 कभी सोंचा है कि इन दिनों आपकी स्‍किन इतनी रूखी रूखी क्‍यूं नज़र आने लगी है? ऐसा इसलिये हो रहा है क्‍योंकि मौसम ठंडा होने लगा है और सर्दियां नज़दीक आने लगी है। ऐसे में जब बाहर की हवा रूखी और ठंडी होती है, तो जो आपके शरीर का पानी हेाता है वह काफी जल्‍दी सूख जाता है जिससे स्‍किन रूखी, टाइट और छिलने लगती है। सर्दियों में हमारी स्‍किन को नमी सोखने में काफी परेशानी होती है। इसलिये आपको चाहिये कि आप सर्दियों से जुड़ी स्‍किन केयर अपनी से करना शुरु कर दें, जिससे आगे चल कर आपको कोई दिक्‍कत ना आए। इस मौसम में देर तक नहाने से बचना चाहिए। साथ ही साबुन का प्रयोग कम से कम करना चाहिए और स्क्रब का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए। सर्दी के मौसम में त्वचा को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में त्वचा को कोमल बनाए रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। हम आपको बता रहे हैं सर्दियों में कैसे रखें करें अपनी त्वचा की देखभाल। साबुन का इम इस्‍तेमाल करें साबुन कम इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि साबुन त्वचा की शुष्कता को और बढ़ा देता है। बाजार में ऐसे भी साबुन उपलब्‍ध हैं जो ऑइल बेस्‍ड होते हैं, आप उनका प्रयोग करें। चेहरे की नमी बनाए रखने के लिये चेहरे की नमी को बनाए रखने के लिये नियमित रूप से कोकोआ बटर, दूध की मलाई, मक्‍खन, कोल्‍ड क्रीम, मॉइश्चराइजर आदि से मालिश करती रहें। इससे त्‍वचा की नमी खोएगी नहीं और बरकरार रहेगी। सही आहार लें आपको इन दिनों ऐसी डाइट लेनी चाहिये जिसमे ओमेगा 3 फैटी एसिड हो। इसके साथ ही मुठ्ठीभर मेवे रोज़ खाने चाहिये क्‍योकि इनमें विटामिन ई पाया जाता है। यह अंदर से आपके शरीर को और स्‍किन को पोषण पहुंचाएगा। काजू और बादाम तो आपको रोज ही लेने हैं साथ में काशिा करें कि घी और बटर भी खाएं। गरम पानी से नहाने से बचें इस मौसम में ज्‍यादा देर गरम पानी से ना नहाएं। स्नान करते समय पानी में कुछ बूँदें बेबी ऑइल, ऑलिव ऑइल या बॉडी ऑइल भी डालें। इससे त्‍वचा हर वक्‍त मुलायम बनी रहेगी और फटेगी नहीं। आप चाहें तो स्‍टीम बाथ भी ले सकती हैं। रूखा फेस पैक ना लगाएं मुल्‍तानी मिट्टी या ऐसे फेस पैक जो स्‍किन को ड्राई बनाते हैं, उसे ना लगाएं। इसके बदले क्‍लीजिंग मिल्‍क और ऐसे पैक लगाएं जिनमें तेल मिला हो। नारियल या सरसों के तेल से मालिश रोज़ नहाने के पहले और बाद में अपने शरीर की अच्‍छी तरह से तेल की मालिश करे। अगर तेल सरसों या नारियल का है तो और भी अच्‍छी बात है। तेल की मालिश करने के बाद 15-20 मिनट तक धूप सेंकना और भी फायदेमंद रहता है। ऐसा करने से त्‍वचा की नमी बनी रहेगी। ढेर सारा पानी पिएं जब स्‍किन से नमी छिनती है तो हमारी त्‍वचा रूखी हो जाती है। इसलिये हमेशा त्‍वचा को हाईड्रेट रखें। इसके लिये आपको दिन में कम से कम 3 लीटर पानी पीना होगा। मॉइस्‍चराइजर लगाना ना भूलें नियमित शरीर पर मॉइस्‍चराइजर लगाएं। ऐसा माइस्‍चाराइजर लगाएं जिसमें तेल मिला हो ना कि वह वॉटर बेस हो। उदाहरण के तौर पर आप नाइट क्रीम का प्रयोग कर सकती हैं। यदि स्‍किन बहुत ज्‍यादा ड्राई है तो ऐसा मॉइस्‍चराइजर लगाए जिसमें लैक्‍टिक एसिड मिला हो। अपनी स्‍किन को हफ्ते में एक बार स्‍क्रब करना ना भूलें। आप पपीते या पाइनएप्‍पल से स्‍क्रब तैयार कर सकती हैं। English summary Tips to Prepare and Care for Winter Skin Ever wondered why your skin looks dry and flaky? There is something to be said for prepping your skin to take on seasonal changes and we tell you how. Story first published: Wednesday, October 18, 2017, 14:00 [IST] Oct 18, 2017 कीअन्यखबरें Please Wait while comments are loading...

10 निशानियां जो बताती हैं कि शैतानी सोच का है आपके साथ रहने वाला in Hindi

Monday, October 16 2017

10 निशानियां जो बताती हैं कि शैतानी सोच का है आपके साथ रहने वाला in Hindi

स्लाइड शो 10 निशानियां जो बताती हैं कि शैतानी सोच का है आपके साथ रहने वाला 10 निशानियां जो बताती हैं कि शैतानी सोच का है आपके साथ रहने वाला Om , Oct 17, 2017 12:44pm 23K आध्यात्मिक डायरी में जोड़ें। 1/20 1 कलियुग एक कहावत है “आप भला,तो जग भला”... तात्पर्य यह कि अगर व्यक्ति स्वयं अच्छा हो, तो उसके सामने वाले का स्वभाव कितना बुरा ही क्यों ना हो लेकिन उसका बुरा नहीं कर पाता। नीतिगत चलें तो बहुत हद तक यह सही भी है लेकिन शास्त्रों में यह भी कहा गया है कि कलियुग में किसी का विश्वास नहीं किया जा सकता। 2/20 2 शैतानी दिमाग ऐसे में जरूरी नहीं कि अगर आप किसी शैतानी दिमाग के व्यक्ति के साथ खुले मन से व्यवहार करते हैं तो वह आपके लिए कब बुरा कर जाता है, आपको समझ ही नहीं आता। जब तक आप इसे समझ पाते हैं, पता चलता है कि आप उसकी सोच का टार्गेट बन चुके हैं। तो कैसे समझें कि आपके साथ का व्यक्ति भी आपके लिए भी उतना ही अच्छा है जितना कि आप उसके लिए? 3/20 3 शैतानी दिमाग हालांकि हर किसी के स्वभाव को लक्षणों के आधार पर आंका नहीं जा सकता लेकिन जो शैतानी या कहें खुराफाती दिमाग लोग होते हैं उनकी कुछ खास आदतें होती हैं। यह एक बार नहीं, बल्कि बार-बार आपको दिखती है। 4/20 4 शैतानी दिमाग ये वे लोग हैं जो अपने अलावा कभी किसी और का अच्छा नहीं सोच पाते, दूसरों का फायदा उठाकर आगे बढ़ना इनकी आदत होती है और इसके लिए कभी भी इन्हें किसी भी प्रकार का खेद नहीं होता। आगे हम आपको ऐसे ही 12 लक्षणों के बारे में बता रहे हैं। 5/20 5 सच को हमेशा नकारने की आदत शैतानी या कहें खुराफाती दिमाग के लोगों की सोच वास्तविकता से काफी दूर होती है। ये आसानी से किसी बात से सहमत नहीं होते जबकि वास्तविकता वही होती है। इनका सच दुनिया के सच से बिल्कुल अलग होता है। इनके आदर्श और उससे जुड़ी व्याख्या दुनिया की वास्तविकता से बिल्कुल परे होती है। 6/20 6 हकीकत को मोड़-तरोड़ कर पेश करना इस प्रकार के लोग सच के समानांतर एक और सच की रचना कर देते हैं जो केवल उनके उद्देश्यों की पूर्ति के लिए होता है। कह सकते हैं कि ये बस अपने ही लाभ के लिए सोचते हैं। अपना मकसद पूरा करने के लिए ये बातों का एक भ्रमजाल तैयार करते है। वे बातें कहीं से भी हकीकत से मेल नहीं खातीं, लेकिन इनकी कोशिश यही रहती है कि वो आपको पूरी तरह से सच लगे। 7/20 7 हकीकत को मोड़-तरोड़ कर पेश करना इस कोशिश में कई बार ये ऐसे हालात भी पैदा कर देते हैं कि आपका खुद पर से ही भरोसा उठ जाता है। उदाहरण के लिए जब आप अपनी काबिलियत के आधार पर किसी चीज पर अच्छा काम करते हैं तो आपको उम्मीद होती है कि उसका श्रेय आपको ही मिलेगा। लेकिन अगर ऐसे किसी इंसान के साथ आप काम कर रहे हों, तो हर संभव कोशिश करेंगे कि बिना मेहनत उसका श्रेय उन्हें मिल जाए। 8/20 8 हकीकत को मोड़-तरोड़ कर पेश करना उस काम की सफलता का श्रेय लेने के लिए परिस्थितियों को इस प्रकार तोड़-मरोड़ कर पेश करते हैं कि आपको तक लगने लगता है कि आप कभी उतने काबिल ही नहीं थे कि उस काम को सफलतापूर्वक कर सकें। 9/20 9 किसी बात से इंकार करना या लगातार झूठ बोलना शैतानी दिमाग के लोग जानकारी छिपाने में माहिर होते हैं और इस कोशिश में पूरे दिन ये हजारों झूठ बोलते हैं। कई बार आस-पास के लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए या अपना काम निकालने के लिए भी ये झूठ बोलते हैं। अगर कभी गलती से आपने उनका झूठ पकड़ लिया तो ये झट से उस बात से इंकार कर देते हैं या फिर सच्चाई को एक अलग ही रंग दे देते हैं। 10/20 10 किसी बात से इंकार करना या लगातार झूठ बोलना वे आपको यह जतायेंगे कि उन्होंने झूठ नहीं बोला बल्कि आपने ही उन्हें गलत समझ लिया है। अगर झूठ प्रमाणित हो जाता है तो भी उसे मानने के बजाय ये आपको यह एहसास दिलाने की कोशिश करेंगे कि उन्हें उस झूठ को बोलने के लिए मजबूर किया गया था। कई बार वे आपको ही दोषी बना देंगे कि उन्होंने तो सच बोला है लेकिन आप ही उनपर भरोसा नहीं कर रहे हैं। 11/20 11 लोगों को गुमराह करना इस प्रकार के लोग शब्दों को हथियार की तरह इस्तेमाल करते हैं और उन शब्दों की मदद से अपने फायदे के लिए ये आपके मन में एक डर या नफरत का भाव पैदा करते हैं। वो अपनी बातों से आपको यकीन दिला देते हैं कि कौन आपका दुश्मन है और कौन दोस्त। 12/20 12 लोगों को गुमराह करना उन्हें पता होता है कि उनकी कौन सी बात आपको कब और किस प्रकार प्रभावित करेगी। इसका परिणाम यह होता है कि एक समय के बाद आपको उनकी बातें सच्ची लगने लगती है और आप पूरी तरह से उनपर भरोसा करने लगते हैं। 13/20 13 कुटिल सोच शैतानी फितरत के लोग सबका फायदा उठाने में माहिर होते हैं। उनके लिए हर व्यक्ति उनकी कुटिल सोच का केवल एक मोहरा होता है। ये लोगों की कमजोरी का भरपूर फायदा उठाते हैं। अगर उनको आपमें कोई अच्छाई दिखती है तो वो आपकी अच्छाई का प्रयोग अपना मतलब निकालने में करेंगे और फिर काम हो जाने पर आपको एक कचरे की तरह फेंक देते हैं। 14/20 14 नैतिकता का अभाव इनमें किसी भी प्रकार की नैतिकता नहीं होती और ना ही ऐसे लोग अपनी किसी गलती की जिम्मेदारी लेते हैं। बजाय इसके ये लोगों पर ही अपनी गलती का दोष मढ़ने में माहिर होते हैं। ये कभी भी लोगों को तकलीफ देने पर उनसे माफी नहीं मांगते। कई बार तो ये खुद को अपनी गलतियों से इस तरह बचा ले जाते हैं कि आपको ही उनकी गलती की माफी मांगनी पड़ जाती है। 15/20 15 मीठे जहर की तरह होती है इनकी दोस्ती ऐसे लोग मीठे जहर की तरह होते हैं जिनकी जुबान पर कुछ अलग और मन में कुछ अलग होता है। ये दोस्ती में भी आपको एक मोहरे की तरह ही इस्तेमाल करते हैं और हमेशा आपकी क्षमताओं का फायदा उठाते हैं। 16/20 16 मीठे जहर की तरह होती है इनकी दोस्ती आपके दोस्त होने के बावजूद उन्हें कभी ये बर्दाश्त नहीं होता कि आप इनसे आगे रहें। आप इनसे किसी भी प्रकार के सहारे या मदद की उम्मीद नहीं कर सकते। हांलाकि ये ऐसा जरूर जतायेंगे कि उनको आपकी सबसे ज्यादा चिंता है। 17/20 17 आपके कीमती वक्त को नष्ट करना ऐसे लोग समय की अहमियत समझते हैं और इसलिये कई कमियां होने के बावजूद ये अपने आस-पास के लोगों से अक्सर आगे रहते हैं। इन्हें पता होता है कि आपके कीमती समय को कैसे नष्ट किया जा सकता है। ये ऐसी परिस्थितियां पैदा करते हैं कि आप कभी भी अपना काम समय पर पूरा नहीं कर पाएंगे। 18/20 18 दोहरी जिंदगी जीना ऐसे लोग दोहरी जिंदगी जीते हैं और अपनी वास्तविकता सबसे छिपा कर रखते हैं। इनका व्यवहार हर व्यक्ति के साथ एक समान नहीं रहता। ऐसे लोगों को जान पाना सबके बस की बात नहीं होती और इस कारण ये अपने अतीत से लेकर वर्तमान तक की जिंदगी अपनी सहूलियत के हिसाब से लोगों के सामने पेश करते हैं जिसमें कई झूठ भी होते हैं। 19/20 19 अपनी पहचान छुपाने वाले ऐसे लोग दिमाग से पूरी तरह कपटी होते हैं लेकिन परिस्थिति पर इनका पूरा नियंत्रण होता है। ये हर परिस्थिति का ताना-बाना बहुत सोच-विचार कर बुनते हैं। इन्हें पता होता है कि किसी भी कारण अगर इन्होंने नियंत्रण खोया तो इनका सच सबके सामने आ सकता है। फिर ये हर किसी को मोहरे की तरह इस्तेमाल नहीं कर पायेंगे। 20/20 20 अपनी पहचान छुपाने वाले इस लक्षणों के आधार पर आप ऐसे लोगों की पहचान कर सकते हैं। अगर आपकी दोस्ती भी ऐसे किसी शैतानी दिमाग के व्यक्ति से है तो जल्द से जल्द उस रिश्ते से बाहर निकलने का रास्ता ढ़ूंढ़ लें। ऐसे लोगों के लिए आपकी दोस्ती या अच्छाई कोई मायने नहीं रखती और ना ही ये आपके लिए कभी बदलेंगे। 0 कमेंट Write संबंधित लेख

चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय in Hindi

Tuesday, October 3 2017

चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय in Hindi

स्लाइड शो चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय Om , Oct 03, 2017 04:44pm 115K आध्यात्मिक डायरी में जोड़ें। 1/11 1 शनि की दशाएं शनि हमेशा बुरे प्रभाव नहीं देता लेकिन अगर यह शुभ भाव में ना हो तो अक्सर इसके दुष्परिणाम व्यक्ति को भुगतने पड़ते हैं। लेकिन अपने दंड का पात्र बनाने से पूर्व कुछ संकेत देकर शनिदेव इसकी सूचना आपको पहले दे देते हैं। इसलिए अगर इसे समझकर इसके उपाय कर लें तो अपनी बदकिस्मती से आप बहुत हद तक बच सकते हैं। क्या हैं वो बुरे प्रभाव आगे जानें... 2/11 2 चप्पल का टूटना या खोना शनि का प्रभाव पैरों पर होता है, इसलिए अहानक अगर चप्पल टूटने लगे तो समझें कि शनि का ही कुप्रभाव है और आने वाले जीवन में आपको एक नहीं कोई समस्याएं झेलनी पड़ेंगी। इसके अलावा चप्पल का खोना भी आपके भविष्य के लिए बुरा संदेश देता है। 3/11 3 चप्पल का टूटना या खोना इसलिए अगर आपकी चप्पल बार-बार खोने लगे या चोरी हो जाए तो यह शनि के कुप्रभाव और भविष्य में आने वाले संकटों का सूचक है। ऐसे में जितना संभव हो शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय जरूर करें। 4/11 4 उपाय इसमें सबसे प्रभावशाली होता है गरीबों-जरूरतमंदों की मदद करना। आप कितने भी शनि को शांत करने के उपाय करें, यह उन सबसमें सबसे ज्यादा प्रभावशाली और जल्दी प्रभाव दिखाने वाला होता है। 5/11 5 उपाय इसके अलावा शमी और पीपल के पेड़ की नियमित पूजा औक संध्या काल में इसके नीचे सरसों तेल का दीपक जलाना भी आपको भविष्य की परेशानियों से बचाने में कारगर होगा। शनिवार के दिन किसी पात्र में सरसों का तेल रखकर उसमें अपना मुख देखकर दान करना भी शनि को जल्दी प्रसन्न करता है। आगे की स्लाइड्स में हम आपको अशुभ शनि के कुछ अन्य संकेत बता रहे हैं। 6/11 6 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां अगर नौकरी, व्यापार या जिस भी क्षेत्र में आप कार्यरत हैं, अचानक उसमें सबकुछ आपके विपरीत होने लगे तो समझें कि शनिदेव आपसे प्रसन्न नहीं हैं और निकट भविष्य में आपको और भी बुरी परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा। 7/11 7 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां इन विपरीत परिस्थितियों में कुछ भी हो सकता है जैसे अचानक जॉब बदलने या छोड़ने की स्थिति आना, नौकरी में कहीं ऐसी जगह ट्रांसफर होना जहां आप बिल्कुल जाना ना चाहते हों, किसी ऐसे अधिकारी या कर्मचारी का आना जो आपकी परेशानी का कारण बन रहा हो आदि। 8/11 8 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां शनि को न्याय का देवता माना जाता है, इसलिए शनि के कुपित होने के कारण कुछ भी बुरा होने का अर्थ है कि आपके किसी अन्य बुरे कर्म का फल इस प्रकार मिल रहा है। इसलिए अपने कार्यों का विश्लेषण करते हुए शनिदेव से अपनी भूलों-गलतियों के लिए क्षमा प्रार्थना करें और शास्त्रीय उपाय भी करें। 9/11 9 कर्ज शनिदेव के कृपापात्र आर्थिक रूप से संपन्न भी रहते हैं और आर्थिक नुकसान से भी बचे रहते हैं। इसलिए अगर किसी भी प्रकार से अचानक आर्थिक नुकसान की स्थिति पैदा हो जैसे व्यापार में घाटा होना, परिवार में किसी का बीमार पड़ना, आक्समिक दुर्घटना, किसी से धोखा मिलना, चोरी होना आदि तो समझें आपके जीवन में शनि की बुरी दशाओं का दौर शुरु हो चुका है। 10/11 10 कर्ज ऐसे में आपको बार-बार कर्ज लेने की भी जरूरत पड़ेगी और जल्दी कर्ज भी चुका पाने की स्थिति में आप नहीं होंगे। परिस्थितियां आपको मानसिक रूप से परेशान करेंगी और इस कारण आप शारीरिक अस्वस्थता के शिकार भी हो सकते हैं। 11/11 11 कर्ज शनि की यह बुरी दशा कुछ ऐसी होती है कि आप अपनी मुश्किलों से निकलने का रास्ता ढूंढेंगे भी, तो उसमें भी परेशानियां ही आएंगी। अगर आप कर्ज चुकाने का प्रयास करेंग़े तो वह भी किसी ना किसी कारण चुका पाने में सफल नहीं हो सकेंगे, वे कारण कुछ ऐसे होंगे कि आपने कभी ऐसा होने की कल्पना भी नहीं की होगी। 1 कमेंट Read Write संबंधित लेख

संजय दत्त ने क्यों छोड़ी ‘द गुड महाराजा’

Tuesday, October 17 2017

संजय दत्त ने क्यों छोड़ी ‘द गुड महाराजा’

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्मकार उमंग कुमार ने संजय दत्त का उस वक्त साथ दिया, जब जेल से सजा काटकर वापस आने के बाद संजय दत्त की हर फिल्म शुरू होने से पहले ही बंद हो रही थी. ऐसे वक्त में उमंग कुमार ने संजय दत्त व उनकी प्रतिभा पर यकीन कर उनका हौसला बढ़ाते हुए संय दत्त व अदिति राव हादरी को एक साथ लेकर फिल्म ‘भूमि’ बनायी. इतना ही नहीं फिल्म ‘भूमि’ के प्रदर्शन से पहले ही उमंग कुमार ने अपनी नई फिल्म ‘द गुड महाराजा’ में शीर्ष भूमिका निभाने के लिए संजय दत्त को अनुबंधित किया. संजय दत्त इस फिल्म को लेकर काफी उत्साहित भी थे. उन्होंने इस फिल्म के लिए लुक टेस्ट भी कराया था और इस फिल्म में संजय दत्त के लुक की तस्वीर भी जारी हुई थी. लेकिन अब अचानक संजय दत्त ने इस फिल्म से खुद को अलग कर लिया है. इससे बौलीवुड से जुड़े लोग काफी आश्चर्यचकित हैं. वास्तव में उमंग कुमार की फिल्म ‘द गुड महाराजा’, जामनगर के महाराजा जाम साहेब दिग्विजय सिंह जडेजा के जीवन पर आधारित है, जिन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के समय यूरोपीय देश पोलैंड की 640 महिलाओं व बच्चों की जान बचायी थी. खैर, संजय दत्त ने साफ साफ कह दिया है कि वह अब ‘द गुड महाराजा’ नहीं कर रहे हैं. संजय दत्त के इस कबूलनामे के बाद बौलीवुड में अफवाहों का बाजार गर्म हो चुका है. संजय दत्त के उमंग कुमार की फिल्म ‘द गुड महाराजा’ को छोड़ने पर कई तरह की बातें की जा रही हैं. बौलीवुड से जुड़े एक सूत्र का मानना है कि उमंग कुमार निर्देशित फिल्म ‘भूमि’ के बौक्स आफिस पर बुरी तरह से असफल होने के बाद संजय दत्त का उमंग कुमार से मोहभंग हो गया. इसलिए वह ‘द गुड माहाराजा’ से अलग हो गए. जबकि एक सूत्र का दावा है कि संजय दत्त अब किसी भी विवाद में नहीं फंसना चाहते. इसलिए वह इस फिल्म से अलग हुए हैं. क्योंकि फिल्म ‘द गुड महाराजा’ ,जामनगर के महाराजा जाम साहेब दिग्विजय जडेजा के जीवन पर बन रही है. कुछ दिन पहले ही राजा के परिवार के सदस्यों ने उमंग कुमार को कानूनी नोटिस भेजते हुए फिल्म न बनाने के लिए कहा है. यूं तो उमंग कुमार का दावा है कि वह यह फिल्म बनाएंगे. पर इस विवाद से खुद को दूर रखने के लिए ही संजय दत्त ने यह फिल्म छोड़ दी. जबकि संजय दत्त के अति करीबी लोग इन दोनों अफवाहों को गलत बताते हुए कहते हैं कि, ‘‘संजय दत्त ने फिल्म ‘द गुड महाराजा’ छोड़ी है, क्योंकि उनके पास वक्त की कमी है. वह सबसे पहले तिग्मांशु धुलिया की फिल्म ‘साहेब बीबी और गैंगस्टार 3’ की शूटिंग करना चाहते हैं. इसके अलावा वह अपनी होम प्रोडक्शन की फिल्म शुरू कर रहे हैं, जिसके लिए उन्हें काफी समय देना है. इसके अलावा उन्हें ‘तोबरेज’, मुकेश भट्ट की ‘सड़क 2’ करने वाले हैं.’’ पर बौलीवुड से जुड़े ज्यादातर लोग संजय दत्त के नजदीकी की इस सफाई से संतुष्ट नहीं हैं. क्योंकि सभी जानते हैं कि संजय दत्त ने ‘भूमि’ की शूटिंग के दौरान ही ‘द गुड महाराजा’ अनुबंधित की थी. इसके लिए लुक टेस्ट वगैरह भी दिया था. जबकि उन्हें ‘साहेब बीबी और गैंगस्टर 3’ तथा ‘सड़क 2’ तो ‘द गुड महाराजा’ का उनका लुक बाजार में आने के बाद औफर हुईं. वैसे अब सबसे बड़ा सवाल यही है कि ‘द गुड महाराजा’ बनेगी या नहीं. फिलहाल उमंग कुमार ने चुप्पी साध रखी है. आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं

क्‍या आपकी स्‍किन तैयार है दिवाली के लिये

Monday, October 16 2017

क्‍या आपकी स्‍किन तैयार है दिवाली के लिये

फेस्‍टिवल का टाइम आ चुका है, जिसमें कई सारी महिलाएं खुद को खूबसूरत दिखाने के लिये रोजाना ढेर सारा मेकअप करती हैं। इसी चक्‍कर मे वह मात खा जाती हैं क्‍योकि कॉस्‍मैटिक चाहे जितनी भी अच्‍छी ब्रांड की क्‍यूं ना हो, रोज़ रोज़ इसे चेहरे पर लगाने से चेहरे का ग्‍लो चला ही जाता है। इस दिवाली आंखों की खूबसूरती बढ़ा देगा यह आईमेकअप लुक यही नहीं जब दिवाली खतम हो जाती है तब भी स्‍किन वैसी की वैसी ही खराब दिखती है। आज हम आपको बताएंगे कि दिवाली पर स्‍किन में ग्‍लो कैसे लाया जा सकता है। साथ ही दिवाली खतम हो जाने के बाददुबारा स्‍किन में कैसे ग्‍लो भरा जा सकता है। तो अगर आप मेकअप की शौकीन हैं और दिवाली पर नेचुरल ग्‍लो पाना चाहती हैं वह भी स्‍किन बिना खराब किये, तो यह आर्टिकल आपके लिये ही है।

1. जलते हुए पटाखों से रखें दूरी

अधिकांश आतिशबाजी में उच्च मैग्नीशियम और कॉर्डीइट सामग्री होती है जिससे पर्यावरण में भारी धुआं उत्सर्जन होता है, इसलिए आपको अतिरिक्त सावधानी बरतें की जरुरत है। जैसे कि जलते हुए पटाखे से कम से कम छह से सात फुट दूर रहना। यदि आप चाहें तो अपने स्कार्फ या दुपट्टे से अपने चेहरे को भी कवर कर सकती हैं, ताकि ना ही आपका चेहरा जले और ना ही प्रदूषण से चेहरा खराब हो सके।

2. चेहरे की सफाई करें

वातावरण में धुंए और पदूषण की वजह से चेहरा बहुत डल हो जाता है इसलिये दिवाली खतम होने के बाद चेहरे को फेसवॉश से साफ करें और त्‍वचा पर मॉइस्‍चराइजर लगाएं। इससे आपके चेहरे के पोर्स में गंदगीनहीं बैठेगी और चेहरा खराब नहीं होगा।

3. रोजाना करें क्‍लीनिंग, टोनिंग और मॉइस्‍चराइजिंग

दिवाली के समय आप अपने चेहरे पर काफी मेकअप लगाती होंगी। ऐसे में मेकअप आपकी स्‍किन को खराब ना कर पाए, इसलिये जरुरी है कि आप चेहरे की रेगुलर क्‍लीनिंग, टोनिंग और मॉइस्‍चराइजिंग करें। ऐसादिन में एक बार जरुर करें।

4. पोषण युक्‍त आहार खाएं

मौसम में अचानक बदलाव और दिवाली पर भारी प्रदूषण होने की वजह से स्‍किन पर सबसे ज्‍यादा प्रभाव पड़ता है। इससे स्‍किन की कंडीशन खराब होने लगती है। इसलिये आपको अपनी स्‍किन पर ग्‍लो बनाए रखनेके लिये रोजाना डाइट में फल, हरी पत्‍तेदार सब्‍जियां और ढेर सारा पानी शामिल करना पड़ेगा। इसके अलावा योग और व्‍यायाम करें जिससे पसीने दृारा शरीर से गंदगी बाहर निकल सके। इसके अलावा ना तो ज्‍यादा तला भुना और मसालेदार खाना खाएं और ना ही मीठे का सेवन करें। कुछ ही दिनों में आपकी स्‍किन बेहद सुंदर दिखने लगेगी।

5. स्‍क्रब कर के गंदगी हटाएं

दिवाली में मेकअप लगाने से पहले जरुरी है कि आप अपनी स्‍किन को डीप क्‍लींज कर लें और फिर स्‍क्रब कर लें। आप चाहें तो घर पर ही नेचुरल स्‍क्रब तैयार कर सकती हैं।

6. दिवाली खतम होने के बाद

दिवाली खतम होने के बाद जब आप अपनी स्‍किन को साफ करें तो इसे लेकर आप बिल्‍कुल भी आलस ना करें। क्‍योकि आप चेहरे से ना केवल मेकअप को साफ कर रही हैं बल्‍कि स्‍किन पर जमी हुई गंदगी को भी निकाल रही हैं। इसलिये पूरी ईमानदारी के साथ मेकअप साफ करे। मेकअप साफ करने के बाद क्‍लीनिंग, टोनिंग और मॉइस्‍चराइजिंग करना ना भूलें। उसके बाद रात मे एक अच्‍छी नाइट क्रीम लगाना ना भूलें।

रातभर के लिये लगा कर छोड़ दें ये चीज़ें.... फिर देंखे त्‍वचा का कमाल

Monday, October 16 2017

रातभर के लिये लगा कर छोड़ दें ये चीज़ें.... फिर देंखे त्‍वचा का कमाल

दिवाली का सीज़न अपने चरम पर पहुंच चुका है। हो सकता है कि ऐसे में आपने कहीं पार्टी करने का भी मन बना लिया हो, खास कर की कार्ड पार्टी जिसमें बहुत से रिश्‍तेदार और दोस्‍त शामिल होते हैं। पार्टी के दौरान हर किसी की नज़रें शायद आप पर ही हों इसलिये खुद की स्‍किन का दिवाली से पहले ही ख्‍याल रखना शुरु कर दें। लगातार मेकअप और कैमिकल बेस्‍ड कॉस्‍मैटिक लगाने की वजह से चेहरे की रंगत बिगड़ सकती है और चेहरा डल दिख सकता है। यदि आपकी स्‍किन अंदर से अच्‍छी नहीं है, तो आप चाहे कितना भी मेकअप कर लें आप अच्‍छी नहीं दिख पाएंगी क्‍योंकि कोई भी मेकअप आपके चेहरे की खराबी को नहीं छुपा सकता। आज हम आपको ओवरनाइट ट्रीटमेंट के बारे में बता रहे हैं, जिसमे काफी सारे पैक दिये हुए हैं। इसे रातभर लगाने के बाद जब सुबह आपक अपना चेहरा धोएंगी तो आपको उसमें फर्क जरुर दिखेगा। इन 6 तरीको से चावल का पानी करता है बालों और त्‍वचा का इलाज आपको यह सब चीज़ें आराम से घर पर ही मौजूद मिल जाएंगी। तो तैयार हो जाइये दिवाली पार्टी को और भी यादगार बनाने के लिये क्‍योंकि हमारा दावा है कि आप इस रात बिल्‍कल सितारों की तरह चमकने वाली हैं।

1. एलो वेरा और नींब का रस

सामग्री- 1 चम्‍मच ताजा एलो वेरा आधे नींबू का रस विधि - एलो वेरा जेल और नींबू के रस को एक साथ मिलाएं और सही लेप बनाएं। चेहरे को साफ कर के इस पेस्‍ट को लगाएं। मिश्रण को चेहरे पर कुछ देर तक मसाज करे, जिससे स्‍किन इसको पूरी तरह से सोख ले। फिर सो जाएं और दूसरे दिन चेहरा धो लें।

2. पीच और टमाटर पैक

सामग्री- आधा टमाटर विधि - दोंनो ही सामग्रियो को एक साथ ब्‍लेंडर में डाल कर पीस लें। फिर इसे छान कर जूस नकाल लें। फिर इस जूस को चेहरे पर ले कर मसाज करें और सुखा लें। दूसरी सुबह चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।