Latest Viral India

Watch: Girl students beat up professor in Patiala for sending obscene messages

Monday, May 7 2018

Watch: Girl students beat up professor in Patiala for sending obscene messages

Prabhas` Baahubali 2 fails to show any magic at Chinese Box Office, earns 35 crore in two days It was an unusual scene in a government college for women in Patiala in Punjab when the students were seen beating up a professor. The professor was beaten up by the students of the women’s college as he allegedly sent obscene messages to them on mobile phone. #WATCH : Professor of Government College for Girls in Patiala gets beaten up by students for allegedly sending obscene messages to the girls. (6.5.2018) pic.twitter.com/PVIT8In998 — ANI (@ANI) May 7, 2018 The incident, which occurred at Government College for Girls in Patiala, was caught on camera and the video was released by news agency ANI. However, the is not the first such case of a professor indulging in such activities. Earlier this year, a professor of the Jawaharlal Nehru University in the national capital was accused sexually harassing several women students. A number of students also staged protests seeking action against the accused professor. They demanded that the professor be suspended and barred from entering the JNU premises. The professor, Atul Johri, was later arrested by Delhi Police, following which he was released on bail. Launching a massive protest, the students had raised slogans against the university officials and Delhi Police. A scuffle had broken out when some of them had tried to break the barricades put up by the police. On the other hand, women rights organisations including All India Democratic Women's Association and All India Mahila Sanskritik Sanghatan had also held a protest on Tuesday outside the police station. Tags:

Todays Horoscope : todays horoscope 7 may 2018 by bejan daruwalla | राशिफल 07 मई: तुला राशि के लिए आज शुभ समय आपके लिए कैसा देखें - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

Todays Horoscope : todays horoscope 7 may 2018 by bejan daruwalla | राशिफल 07 मई: तुला राशि के लिए आज शुभ समय आपके लिए कैसा देखें - Navbharat Times Hindi Newspaper

बेजन दारूवाला मेष (Aries): गणेशजी कहते है कि आपका दिन मिश्र फलदायी रहेगा। परिजनों के साथ बैठकर आप महत्वपूर्ण चर्चा करेंगे। ऑफिस या व्यवसाय क्षेत्र में अधिकारियों के साथ भी महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा होगी। सरकारी लाभ मिलने की संभावना है। ऑफिस से संबंधित कार्य के लिए यात्रा करनी पड़ेगी। कार्यभार बढ़ सकता है। माता से लाभ होने की संभावना है। वृष (Taurus): नए कार्य की प्रेरणा मिलेगी और आप उन्हें प्रारंभ कर पाएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपका मन भक्तिमय हो जाएगा। लंबे प्रवास का योग है। स्नेहीजन या मित्रों के शुभ समाचार मिलेंगे। विदेश जाने की संभावनाएं हैं। व्यापार में आर्थिक लाभ हो सकता है। स्वास्थ्य मध्यम रहेगा। मिथुन (Gemini): नकारात्मक विचारों से दूर रहें। आज हो सके तो नए कार्य का प्रारंभ ना करें। उच्च अधिकारियों के साथ बहस से बचें। कार्य में सफलता प्राप्त होने में विलंब हो सकता है। खर्च अधिक हो सकता है। खान-पान पर ध्यान रखें। व्यावसायिक क्षेत्र में विघ्न उपस्थित हो सकता है। राशिफल 7 मई 2018 X कर्क (Cancer): आज आमोद-प्रमोद में अपने आपको भुला देने का दिन है। मनोरंजक प्रवृत्ति में आप खोए रहेंगे। व्यावसायिक क्षेत्र में आपको लाभ होगा। आरोग्य अच्छा रहेगा। मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। यात्रा या प्रवास का आयोजन कर सकेंगे। सामाजिक रूप से सम्मान प्राप्त होगा। साझेदारों से लाभ होगा। सिंह (Leo): आपका आज का दिन मध्यम फलदायी होगा। पारिवारिक सदस्यों के साथ वाणी में संयम बरतें। दैनिक कार्य में विघ्न आ सकते हैं इसलिए कार्य संपन्न होने में मदद मिलेगी। अधिक परिश्रम के बाद भी सफलता प्राप्ति कम होने से हताशा का अनुभव हो सकता है। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंता हो सकती है। कन्या (Virgo): आज के दिन किसी भी तरह की कलह और चर्चा से दूर रहें। आकस्मिक खर्च की आशंका है। विद्यार्थियों को पढाई में बाधाएं आएंगी। प्रियजन के साथ हुई मुलाकात से मन आनंदित होगा। पेट से संबंधित पीड़ा हो सकती है। शेयर-सट्टे में निवेश करने में सावधानी बरतें। तुला (Libra): आपके लिए समय शुभ है। मन में संवेदनशीलता की मात्रा अधिक रहेगी। परिवार में आनंद और उल्लासमय वातावरण रहेगा। व्यवसाय में लाभ होने की संभावना है। माता के स्वास्थ्य की चिंता हो सकती है। सम्बंधियो के साथ झगड़े या विवाद के कारण मानसिक परेशानी हो सकती है। वृश्चिक (Scorpio): आज पूरे दिन आप प्रसन्न रहेंगे। किसी नए कार्य का प्रारंभ कर पाएंगे। साथियों से सुख एवं आनंद की प्राप्ति होगी। मित्रों व स्वजनों से भेंट हो सकती है। किसी भी काम में आज आपको सफलता मिलेगी। आर्थिक लाभ एवं भाग्यवृद्धि के योग हैं। भाई-बहनों से लाभ होगा। प्रतिस्पर्धियों के समक्ष विजय मिलेगी। धनु (Sagittarius): आपका दिन मिश्रित फलदायी है। असमंजस के कारण निर्णय लेना कठिन होगा। परिजनों के साथ मनमुटाव न हो, इसका ध्यान रखें। निर्धारित कार्य संपन्न न होने के कारण हताशा का अनुभव हो सकता है। कार्यभार भी बढ़ सकता है। निरर्थक खर्च हो सकता है। मध्याह्न के बाद स्फूर्ति और उल्लास का अनुभव करेंगे। पारिवारिक वातावरण आनंदप्रद और शांत रहेगा। मकर (Capricorn): आज आपका प्रत्येक कार्य सरलता से पूर्ण होगा। कार्यालय तथा व्यावसायिक स्थल पर आपकी प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। प्रमोशन के योग हैं। गृहस्थजीवन में आनंद का वातावरण रहेगा। शारीरिक हानि के योग होने से संभल कर रहें तथा गिरने से बचें। मित्रो, स्नेहीजनों के साथ भेंट होगी। मानसिक रूप से शांति रहेगी। कुंभ (Aquarius): स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहें। मानसिक स्वस्थता की कम रह सकती है। कोर्ट-कचहरी की झंझट में न पड़े। अनुचित स्थान पर पूंजी निवेश न हो, इसका ध्यान रखें। परिवार के सदस्य विरोधी व्यवहार कर सकते हैं। क्रोध पर संयम रखें। स्वास्थ्य बिगड़ने की आशंका रहेगी, आवेशपूर्ण मन को संयम में रखें। धन अधिक खर्च न हो, ध्यान रखें। मीन (Pisces): गणेशजी कहते हैं कि आज आप पारिवारिक तथा सामाजिक बातों में विशेष लिप्त रहेंगे। मित्रों से भेंट होगी और उनके पीछे खर्च करना पड़ सकता है। रमणीय स्थान पर प्रवास पर्यटन की संभावना है। प्रत्येक क्षेत्र में आपको लाभ होगा। जीवनसाथी के इच्छुकों को अच्छा जीवनसाथी मिलने का योग है। राशिफल स्रोत

triple talaq | up brothers divorced wives for not having sex with another men | बीवी ने दूसरों से सेक्स को कहा न, मिला तीन तलाक - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

triple talaq | up brothers divorced wives for not having sex with another men | बीवी ने दूसरों से सेक्स को कहा न, मिला तीन तलाक - Navbharat Times Hindi Newspaper

शामली जनपद शामली के झिंझाना थाना क्षेत्र में क्रिकेट पर सट्टा लगाने वाले दो भाइयों ने कर्ज चुकाने के लिए अपनी बीवियों को दूसरों से शारीरिक संबंध बनाने को कहा। इसका विरोध करने पर दोनों भाइयों ने अपनी बीवियों को तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया। शनिवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय दोनों सगी बहनों ने इसकी शिकायत की। एएसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस को आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। चैसाना निवासी एक व्यक्ति ने करीब आठ महीने पहले अपनी दो बेटियों की शादी जनपद सहारनपुर में नकुड़ क्षेत्र निवासी दो सगे भाइयों से की थी। अपर पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार को शिकायती पत्र देते हुए दोनों महिलाओं ने आरोप लगाया है कि उनके पति सगे भाई हैं और क्रिकेट के सट्टे के शौकीन हैं। रीब 15 दिन पहले दोनों भाई सट्टे में लाखों रुपये हार चुके थे। जिसके बाद जीतने वाले लोगों ने अपने पैसे के लिए तकाजा किया। रकम न चुकाने पर जीतने वालों ने पैसे के बदले उनकी पत्नियों से शारीरिक संबंध बनाने की मांग की। आरोप है कि इस पर दोनों भाइयों ने अपनी बीवियों को इनसे शारीरिक संबंध बनाने को कहा, जिसे उन्होंने इनकार कर दिया। इसके बाद 30 अप्रैल को दोनों भाइयों ने अपनी पत्नियों को तलाक देकर घर से निकाल दिया।

PM Modi : karnataka elections 2018 pm modi using obc and dalit card to herd in ahinda vote base of siddaramaiah | कर्नाटक चुनाव: अहिंदा वोट बैंक में मोदी लगा पाएंगे सेंध? दलित 'नायकों' के बहाने सिद्धारमैया पर निशाना - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

PM Modi : karnataka elections 2018 pm modi using obc and dalit card to herd in ahinda vote base of siddaramaiah | कर्नाटक चुनाव: अहिंदा वोट बैंक में मोदी लगा पाएंगे सेंध? दलित 'नायकों' के बहाने सिद्धारमैया पर निशाना - Navbharat Times Hindi Newspaper

दीप्ति संजीव, बेंगलुरु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी भी चुनाव प्रचार अभियान में पूरे होमवर्क के साथ आते हैं। यही वजह है कि उनके हर संबोधन में विशिष्ट स्थानीयता का पुट दिखता है। छोटी-छोटी बातों से बड़ा निशाना मारने की उनकी शैली हर कैंपेन के दौरान दिखती है । कर्नाटक का चुनाव भी इससे अछूता नहीं है। राज्य में विधानसभा चुनाव का प्रचार अंतिम दौर में है। इन सबके बीच पीएम मोदी ने रविवार को हुई अलग-अलग चुनावी रैलियों में भाषण के जरिए ओबीसी (अन्य पिछड़ी जाति) कार्ड खेलते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला। रविवार को कई चुनावी रैलियों के दौरान पीएम मोदी ने बार-बार कहा कि कांग्रेस एक ओबीसी नेता को केंद्र की सत्ता के शीर्ष पर नहीं रहने देना चाहती और यही वजह है कि अक्सर उन पर व्यक्तिगत हमले किए जाते हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि पीएम मोदी ने ओबीसी कार्ड के बहाने सीधे तौर पर सीएम सिद्धारमैया के अहिंदा वोट बैंक में सेंध लगाने की कोशिश की है। माइनॉरिटीज, बैकवर्ड क्लासेज और दलितों को कन्नड़ में शॉर्ट फॉर्म के रूप में अहिंदा कहा जाता है। सिद्धारमैया के लिंगायत कार्ड के बाद दबाव में आई बीजेपी की तरफ से ऐसी रणनीति की पहले ही उम्मीद जताई जा रही थी। यह भी पढ़ें: सिद्धारमैया के 'लिंगायत कार्ड' के जवाब में अमित शाह का 'अहिंदा कार्ड' रविवार को चित्रदुर्ग में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने टीपू जयंती के आयोजन को लेकर सीएम सिद्धारमैया को कठघरे में खड़ा किया। पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस का चरित्र देखिए कि जिसकी जयंती मनानी चाहिए, उसकी तो मनाते नहीं हैं। कांग्रेस के नेताओं को यह भी नहीं पता कि किसे याद रखना है और किसका उत्सव मनाना है। वीर मडकरी और ओनेक ओबव्वा जैसे नायकों को भुला दिया गया। कांग्रेस ने कर्नाटक के लोगों खास तौर पर चित्रदुर्ग के लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है। वोटों की राजनीति करने के लिए वीर मडकरी नायक के बजाए कांग्रेस ने टीपू सुल्तान की जयंती मनाई।' 'दलित वीरों का हुआ अपमान' इस दौरान पीएम मोदी ने दलित कार्ड खेलते हुए एक दलित महिला ओनेक ओबव्वा की तारीफ की। ओबव्वा ने 1779 में टीपू सुल्तान के पिता हैदर अली के सैनिकों के आक्रमण का अकेले दम पर जमकर मुकाबला किया था। पीएम ने इस दौरान कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि जो पार्टी गरीबों का वेलफेयर नहीं कर सकती, उसका फेयरवेल कर देना चाहिए। कांग्रेस पार्टी न तो दिलवाली है और न ही दलितवाली, यह तो डीलवाली पार्टी है।' यह भी पढ़ें: मोदी का सोनिया पर हमला- दलित मां का बेटा राष्ट्रपति बना, मिलने की फुर्सत नहीं पीएम मोदी ने इस दौरान कहा, 'मैं दलित मां की कोख से पैदा हुई उस वीरांगना वीर मडकरी को नमन करता हूं, जिसने अक्रांताओं को मुंहतोड़ जवाब दिया था। साहस और शौर्य क्या होता है, यह हम उस दलित वीरांगना से सीख सकते हैं।' यह भी पढ़ें: मोदी की तारीफ के बाद देवगौड़ा ने कहा- पीएम हैं स्मार्ट पीएम मोदी ने कहा कि यहां के सपूत अधुनिक कर्नाटक के निर्माता, कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और कर्नाटक के पूर्व सीएम एस. निजलिंगप्पा को अपमानित करने का कोई मौका कांग्रेस ने नहीं छोड़ा। मोदी ने कहा, 'निजलिंगप्पा का इतना ही अपराध था कि नेहरू की गलत नीतियों पर सवाल उठाया।' बता दें कि कर्नाटक में विधानसभा की 223 सीटों पर 12 मई को मतदान होगा। बीजेपी के उम्मीदवार के निधन की वजह से एक सीट पर मतदान टल गया है। 15 मई को वोटों की गिनती होगी। इस खबर को अंग्रेजी में यहां पढ़ें

india News | isro develops indigenous atomic clock, to be used in navigation satellites | इसरो ने बनाई देसी परमाणु घड़ी, नैविगेशन सैटलाइट्स में होगी इस्तेमाल - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

india News | isro develops indigenous atomic clock, to be used in navigation satellites | इसरो ने बनाई देसी परमाणु घड़ी, नैविगेशन सैटलाइट्स में होगी इस्तेमाल - Navbharat Times Hindi Newspaper

सुरेंद्र सिंह, नई दिल्ली भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ( ISRO ) ने एक परमाणु घड़ी विकसित की है जिसका इस्तेमाल नैविगेशन सैटलाइट्स में किया जा सकता है ताकि सटीक लोकेशन डेटा मिल सके। फिलहाल इसरो को अपने नैविगेशन सैटलाइट्स के लिए यूरोपियन ऐरोस्पेस मैन्युफैक्चरर ऐस्ट्रियम से परमाणु घड़ी खरीदनी पड़ती है। अहमदाबाद स्थित स्पेस ऐप्लिकेशन सेंटर (SAC) के डायरेक्टर तपन मिश्रा ने कहा, 'SAC ने स्वदेशी ऐटमिक क्लॉक बनाया है और फिलहाल इस घड़ी को परीक्षण के लिए रखा गया है। एक बार यह सारे परीक्षण पास कर ले, तो यह देशी परमाणु घड़ी नैविगेशन सैटलाइट्स में भी प्रायोगिक तौर पर इस्तेमाल हो सकती है ताकि पता लग सके कि अंतरिक्ष में यह कब तक टिक सकती है और कितना सटीक डेटा मुहैया करवा सकती है।' SAC डायरेक्टर ने कहा, 'इस देसी परमाणु घड़ी के निर्माण के साथ ही इसरो उन चुनिंदा अंतरिक्ष संगठनों में शामिल हो गया है जिनके पास यह बेहद जटिल तकनीक है। लेकिन यह देसी घड़ी हमारे डिजाइन और स्पेसफिकेशन के अनुरूप पर बनाई गई है। यह घड़ी भी आयात की जाने वाली घड़ियों सी ही काम करती है। हमें उम्मीद है कि यह घड़ी पांच साल से ज्यादा काम करेगी।' भारत के रीजनल नैविगेशन सैटलाइट सिस्टम (IRNSS) के तहत लॉन्च किए गए सभी सातों सैटलाइट में तीन-तीन आयात किए हुए रुबिडियम ऐटमिक क्लॉक हैं। इन ऐटमिक घड़ियों के काम पर तपन मिश्रा कहते हैं, 'पहले लॉन्च किए गए सातों सैटलाइट में लगे ऐटमिक क्लॉक्स को सिंक्रनाइज किया गया है। अलग-अलग ऑर्बिट में सैटलाइट्स में लगी इन घड़ियों के बीच समय अंतर नैविगेशन रिसीवर या पृथ्वी पर किसी वस्तु की सटीक पोजिशनिंग बताने में मदद करते हैं।' अगर ऐटमिक क्लॉक में खराबी आती है, तो इसके और अन्य घड़ियों के बीच समय के अंतर ठीक से पता नहीं लगेगा, जिसके परिणामस्वरूप यह किसी भी वस्तु की गलत पोजिशनिंग बताएगा। ऐटमिक क्लॉक्स के अलावा नैविगेशन सैटलाइट्स में क्रिस्टल क्लॉक्स भी होते हैं लेकिन ये परमाणु घड़ियों की तरह सटीक जानकारी नहीं देते। यही वजह है कि अगर किसी सैटलाइट की तीन परमाणु घड़ियां खराब होती हैं, तो नए ऐटमिक क्लॉक के साथ बैकअप सैटलाइट लॉन्च करना पड़ता है। इसरो में एक विश्वस्त सूत्र ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि 7 नैविगेशन सैटलाइट्स में इस्तेमाल हुई 21 ऐटमिक घड़ियों में से 9 खराब हो गई हैं। इसलिए इसरो 4 बैकअप नैविगेशन सैटलाइट लॉन्च करने की योजना बना रहा है। सूत्र ने यह भी बताया कि बैकअप सैटलाइट्स भेजने के लिए इसरो को पहले सरकार से वित्तीय मंजूरी की जरूरत है। बीते महीने, 12 अप्रैल को इसरो ने IRNSS-1I लॉच्न किया था, जिसने भारत के पहले नैविगेशन सैटलाइट IRNSS-1A की जगह ली थी। पहले सैटलाइट की तीनों परमाणु घड़ियों ने काम करना बंद कर दिया था। इस पर तपन मिश्रा कहते हैं, 'परमाणु घड़ियां काफी जटिल तकनीक से बनती हैं। ये कई कारणों से बंद हो सकती हैं। सिर्फ भारतीय नैविगेशन सैटलाइट की ही नहीं बल्कि गैलिलियो (यूरोपिय संघ का नैविगेशन सिस्टम) की भी परमाणु घड़ियां पहले बंद पड़ चुकी हैं।'

Thunderstorm Today : spectacular solar storm in coming 48 hrs mobile cable network might stop working | अगले 48 घंटे में सूरज फेंकेगा गर्म तूफान, सारे सिग्नल हो सकते हैं बंद - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

Thunderstorm Today : spectacular solar storm in coming 48 hrs mobile cable network might stop working | अगले 48 घंटे में सूरज फेंकेगा गर्म तूफान, सारे सिग्नल हो सकते हैं बंद - Navbharat Times Hindi Newspaper

नई दिल्ली अगले 48 घंटे में पृथ्वी से सोलर स्टॉर्म टकराने की आशंका है। वैज्ञानिक मानते हैं कि इससे कुछ समय के लिए ब्लैकआउट + हो सकता है। आम लफ्जों में कहें, तो यह टेक ब्लैकआउट की स्थिति होगी। तमाम उपग्रह आधारित सेवाएं यानी मोबाइल सिग्नल, केबल नेटवर्क , जीपीएस नैविगेशन और सैटेलाइट आधारित तकनीक प्रभावित हो सकती है। इसके अलावा रेडिएशन के खतरे की भी आशंका है। एक्सप्रेस यूके की रिपोर्ट के मुताबिक सूर्य में एक कोरोनल होल खुलेगा। इसके कारण सूरज से भारी मात्रा में ऊर्जा निकलेगी। इसमें कॉस्मिक कण भी मौजूद होंगे। स्पेश वेदर की एक रिपोर्ट में कहा गया, 'सोलर डिस्क के लगभग आधे हिस्से को काटते हुए एक बड़ा सा छेद बनेगा, जिसके कारण सूर्य के वातावरण से पृथ्वी की ओर बेहद गर्म हवा का एक तूफान आएगा। नासा की ओर से जारी की गई तस्वीर में गैस के इस तूफान को देखा जा सकता है।' 'आर्ट्स फॉर ऑल' और सोनालिका ग्रुप ने 'नेचर कनेक्ट' शीर्षक से इंटरैक्टिव नेचर आर्ट प्रॉजेक्ट और ऐग्जिबिशन का आयोजन किया। हंगेरियन इंटरनैशनल कल्चरल सेंटर में आयोजित इस 3 दिवसीय (27-29 सितंबर) एग्जिबिशन में देश के अलग-अलग हिस्से से आए कलाकारों के 8 आर्ट इंस्टलेशन शामिल किए गए। देखिए: मिट्टी, बांस और कपड़े की मदद से अभिनव ने इस इंस्टलेशन को तैयार किया है। इसके जरिये उन्होंने भूमि की उर्वरा शक्ति नष्ट करने के लिए जिम्मेदार कॉर्पोरेट ऐग्रिकल्चर के गैरजिम्मेदाराना रवैये की तरफ ध्यान खींचने की कोशिश की है। इस इंस्टलेशन में स्थानीय बायॉड्रिग्रेडबल मटीरियल का उपयोग किया गया है। इस संकरे रास्ते से गुजरने पर विजिटर को जो असहजता महसूस होगी, उसके जरिये साइनस जैसी बीमारी और शरीर को होने वाली दूसरी तकलीफों की तरफ इशारा करने की कोशिश की गई है। अनूप ने 2 पेड़ों के बीच सूती धागों की मदद से एक मकड़ी के जाले जैसा स्ट्रक्चर तैयार किया और इसके बीच बांबियों की तस्वीर लगाई। इसके जरिये उन्होंने इस तरफ ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की कि प्रकृति के छोटे-छोटे जीवों को इंसान किस कदर नजरअंदाज करता है। बालगोपालन के स्कल्पचर इंस्टलेशन के जरिये मानव और प्रकृति के बीच संबंध को जानने-समझने की कोशिश की गई है। शहरों की दौड़ती-भागती जिंदगी के बीच यह प्रॉजेक्ट थोड़ा रुककर आराम से कुछ सोचने की बात करता है। अंधाधुंध निर्माण का पर्यावरण पर क्या प्रभाव पड़ता है, इस सवाल का जवाब देता यह इंस्टलेशन देविका स्वरूप ने तैयार किया है। एक पुराने इंस्टलेशन को रिसाइकल करके पूजा बाहरी ने इस दुनिया और प्रकृति को हो रहे उस नुकसान की तरफ इशारा किया है जिसके लिए इंसान जिम्मेदार है। आर्टिस्ट राहुल मोदक ने इनइस इंस्टलेशन के जरिये मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ाने में बायॉडिग्रेडबल वेस्ट की अहमियत के साथ-साथ उसकी खूबसरती की तरफ लोगों का ध्यान खींचने की कोशिश की है। इस इंस्टलेशन का पूरा नाम है- 'टु डू ऑर नॉट टु, टु राइज ऑर नॉट टु, टु फाल ऑर नॉट टु, टु ऐश ऑर नॉट टु...'। इसे शुभांगी त्यागी और हरिंदर ने तैयार किया है। फोम और गैस सिलिंडर की मदद से तैयार किए गए इस इंस्टलेशन के जरिये आने वाली पीढ़ियों के लिए हम जो भविष्य छोड़कर जा रहे हैं और उपभोक्तावाद की तरफ लोगों का ध्यान खींचने की कोशिश की गई। औद्योगीकरण के प्रकृति पर खतरनाक प्रभाव को दर्शाता यह इंस्टलेशन सोमू देसाई ने तैयार किया है। भारी नुकसान नहीं होगा नैशनल ओशन ऐंड अटमॉस्फियर असोसिएशन ने कहा है कि जब यह तूफान आएगा तो उत्तर और दक्षिण में तेज रोशनी नजर आएगी। हालांकि नैशनल ओशन ऐंड अटमॉस्फियर असोसिएशन ने इसे जी-1 या हल्का सौर तूफान + ही करार दिया है। असोसिएशन फोरकास्ट का कहना है कि जी-1 श्रेणी का जियोमैग्नेटिक तूफान रविवार या सोमवार को उस वक्त आ सकता है, जब सौर हवाएं चलेंगी। बता दें कि चुंबीय तूफान को सौर तूफान कहते हैं, जो सूर्य की सतह पर आए क्षणिक बदलाव से उत्पन्न होते हैं। इन्हें पांच श्रेणी जी-1, जी-2, जी-3, जी-4 और जी-5 में बांटा गया है। ऐसा माना जाता है कि जी-5 श्रेणी का तूफान पृथ्वी को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। सोलर स्टॉर्म को लेकर स्काईमेट के साइंटिस्ट डॉ. महेश पलावत ने चेताया कि कॉस्मिक पार्टिकल सूर्य से धरती पर पहुंचेंगे और इसके नतीजे काफी गंभीर हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि जी-1 कैटिगरी में पावर ग्रिड पर सबसे अधिक असर होता है। माइग्रेटरी बर्ड्स पर भी गंभीर असर पड़ता है। इस आंधी का व्यापक असर यूएस और यूके में ज्यादा पड़ने की आशंका है। जानें क्यों आया उत्तर भारत में 'महा-तूफान' X

india News | naxalites innovate, rambo arrows and poop laced bombs to distract security personnel | सुरक्षाबलों को चकमा देने को नक्सलियों ने खोजे नए पैंतरे, बनाया 'अग्निबाण' - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

india News | naxalites innovate, rambo arrows and poop laced bombs to distract security personnel | सुरक्षाबलों को चकमा देने को नक्सलियों ने खोजे नए पैंतरे, बनाया 'अग्निबाण' - Navbharat Times Hindi Newspaper

नई दिल्ली एक तरफ जहां सरकार नक्सलियों पर नकेल कसने का दावा कर रही है तो दूसरी तरफ नक्सली धीरे-धीरे नए हथियार विकसित कर रहे हैं। इनमें 'रैंबो ऐरो (तीर)' और जानवर के मल से लिपटे बम शामिल हैं। यह खुलासा गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में हुआ है। नक्सलियों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले असली तीर स्टील के बने होते थे और यह एक हेलिकॉप्टर तक को गिरा सकते हैं, लेकिन अभी जिस तरह के तीर का इस्तेमाल किया जा रहा है उनमें विस्फोटक होते हैं। हालांकि, यह विस्फोटक ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला नहीं होता लेकिन इससे बहुत ज्यादा गर्मी और धुआं निकलता है जो कि सुरक्षा कर्मियों को चकमा देने के लिए काफी है। गृह मंत्रालय की एक रिपोर्ट में कहा गया है ,'तीर के ऊपरी हिस्से में बेहद कम ताकत वाला गनपाउडर या फायरक्रैकर पाउडर होता है जो अपने लक्ष्य से टकराते ही फट जाता है। यह ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाता लेकिन सुरक्षाबलों को चकमा देता है।' कुछ अफसरों ने इस रिपोर्ट की पुष्टि करते हुए बताया कि माओवादी इन दिनों बड़ी संख्या में खतरनाक विस्फोटकों की जगह इन तकनीकों का इस्तेमाल कर रहे हैं। बीते साल 24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों ने इसी तकनीक से हमला किया था, जिसमें CRPF के 25 जवान शहीद हो गए थे और उनके हथियार भी लूट लिए गए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, इस खास तरह के तीर के अलावा माओवादियों ने पहले से बेहतर मोर्टार और रॉकेट भी विकसित कर लिए हैं। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि माओवादियों ने क्रूड बम को छिपाने का भी एक स्मार्ट तरीका खोज लिया है। अब इन बमों को जानवर के मल में छिपा दिया जाता है ताकि सुरक्षा टीमों के खोजी कुत्ते भी इसे सूंघ कर पता न लगा सकें।

ms dhoni : ipl 2018 mahendra singh dhoni one stump away from creating record | IPL: स्टंप्स का रेकॉर्ड बनाने से एक कदम दूर धोनी, की रॉबिन उथप्पा की बराबरी - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

ms dhoni : ipl 2018 mahendra singh dhoni one stump away from creating record | IPL: स्टंप्स का रेकॉर्ड बनाने से एक कदम दूर धोनी, की रॉबिन उथप्पा की बराबरी - Navbharat Times Hindi Newspaper

पुणे दुनिया के सबसे चुस्त और फुर्तीले विकेटकीपर्स में शुमार महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ( आरसीबी ) के खिलाफ खेले गए मैच में मुरुगन अश्विन को स्टंप आउट कर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सबसे ज्यादा स्टंप आउट करने के रेकॉर्ड की बराबरी कर ली। अब यह रेकॉर्ड संयुक्त रूप से उनके और रॉबिन उथप्पा के नाम है। दोनों ने आईपीएल में अब तक 32-32 बल्लेबाजों को स्टंप आउट किया है। चूंकि उथप्पा इस सीजन विकेटकीपिंग नहीं कर रहे हैं, लिहाजा धोनी जल्द ही यह रेकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं। हाल में धोनी की तारीफ करते हुए माइक हसी ने कहा था कि स्टंपिंग के मामले में उनका कोई सानी नहीं है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर के खिलाफ आईपीएल-11 के मुकाबले में चेन्नै की छह विकेट से जीत के बाद हसी ने कहा था, ‘स्पिनरों के खिलाफ विकेटकीपिंग के दौरान स्टंपिंग करने के मामले में धोनी दुनिया के सबसे कुशल विकेटकीपर है। वह अविश्वसनीय रूप से तेज हैं।’ देखें, डगआउट में फैन ने छुए महेंद्र सिंंह धोनी के पैर हसी ने कहा था, ‘धोनी टीम के काफी अहम खिलाड़ी हैं। वह शानदार विकेटकीपर है, बल्लेबाजी में भी शानदार फॉर्म में है। पिछले कुछ वर्षों में मैंने उन्हें ऐसी शानदार फॉर्म में नहीं देखा है।' बता दें कि इस आईपीएल में धोनी का अलग ही रूप देखने को मिल रहा है। धोनी उस अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे हैं जैसे के लिए उन्हें जाना जाता था। आईपीएल में रनों के मामले में वह टॉप 5 में बने हुए हैं। अबतक सीएसके के कुल 10 मुकाबलों में वह 360 रन बना चुके हैं।

Karnataka Assembly polls : why jds and bsp confident to win in alliance in karantaka assembly polls | जानें, किस गणित के चलते कर्नाटक में जीत की आस लगाए हैं जेडीएस और बीएसपी - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

Karnataka Assembly polls : why jds and bsp confident to win in alliance in karantaka assembly polls | जानें, किस गणित के चलते कर्नाटक में जीत की आस लगाए हैं जेडीएस और बीएसपी - Navbharat Times Hindi Newspaper

रोहन दुआ, चामराजनगर राष्ट्रीय पार्टी के तौर पर पहचान रखने वाली बीएसपी ने बीते 25 सालों में कर्नाटक में एक भी सीट नहीं जीती है, जबकि क्षेत्रीय पार्टी जनता दल सेक्युलर भी अपना वजूद बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रहा है। फिर भी दोनों दलों को यकीन है कि वे गठबंधन में चुनाव लड़कर विधानसभा चुनावों में बड़ी जीत हासिल कर सकते हैं। इसकी वजह दोनों दलों की अपनी ताकत नहीं है बल्कि साथ आने के पीछे का गणित है। 2013 के विधानसभा चुनाव में जेडीएस को 14 सीटों पर महज 500 वोटों के करीबी अंतर से हार झेलनी पड़ी थी। PM का कांग्रेस पर हमला, जमानत पर हैं मां-बेटे यही नहीं 24 सीटों पर जेडीएस की हार का अंतर 5,000 से 10,000 वोटों तक का था। इन्हीं में से सीटों पर बीएसपी को 17,000 वोट मिले थे। माना जा रहा है कि उसे मिले यह वोट जेडीएस के हिस्से के ही थे। कभी चुनाव न जीत पाने वाले कोल्लेगाला विधानसभा सीट से बीएसपी के कैंडिडेट एन. महेश को उम्मीद है कि इस बार गठबंधन उनके लिए बड़ा असर दिखाएगा। कांग्रेस और बीजेपी ने इस सीट पर कद्दावर उम्मीदवार उतारे हैं, इसलिए यह सीट भी प्रतिष्ठा की हो चुकी है। पढ़ें: दलित राष्ट्रपति के बहाने PM का सोनिया पर हमला मौजूदा चुनाव में इस सीट के महत्व को इस बात से समझा जा सकता है कि नरेंद्र मोदी पहले पीएम हैं, जिन्होंने कोल्लेगाला और चामराजनगर का दौरा किया है। यहां तक कि उन्होंने कर्नाटक के चुनाव प्रचार की शुरुआत ही यहां से की। बीएसपी ने कर्नाटक में आखिरी बार 1994 में सीट हासिल की थी, जब बीदर में उसके कैंडिडेट को जीत मिली थी। लेकिन महेश कहते हैं, 'कांग्रेस और बीजेपी दोनों इस बात से डरे हुए हैं कि दलितों और वोक्कालिगा एवं अन्य ओबीसी जातियों के साथ आने से उनका चुनावी खेल बिगड़ जाएगा।' पीएम मोदी ने जेडीएस नेता एचडी देवेगौड़ा की सराहना करते हुए सीक्रट पैक्ट के संकेत दिए थे। पीएम मोदी की इस रणनीति को लेकर महेश ने कहा कि जहां पर जेडीएस मजबूत है, वहां पीएम मोदी उसकी तारीफ कर रहे हैं और जहां बीजेपी उन्हें ताकतवर नजर आती है, वहां जेडीएस के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं। यूपी में बीजेपी के खिलाफ उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को समर्थन देने वाली बीएसपी ने कर्नाटक में देवेगौड़ा की पार्टी से गठबंधन कर अपने 18 कैंडिडेट मैदान में उतारे हैं। महेश का मानना है कि बीएसपी के 11 दलित, 4 लिंगायत, एक मराठा, एक कुरुबा और एक मुस्लिम कैंडिडेट चुनाव के गणित में बाजी मार सकते हैं।

weather today : haryana schools closed, 13 states on storm alert for 2 days | देश के कई राज्यों में अगले 48 घंटे भारी, 13 राज्यों में बारिश और आंधी-तूफान की चेतावनी, हरियाणा में स्कूल बंद - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

weather today : haryana schools closed, 13 states on storm alert for 2 days | देश के कई राज्यों में अगले 48 घंटे भारी, 13 राज्यों में बारिश और आंधी-तूफान की चेतावनी, हरियाणा में स्कूल बंद - Navbharat Times Hindi Newspaper

नई दिल्ली उत्तर और पूर्वी भारत के कई राज्यों के लिए अगले 48 घंटे काफी भारी पड़ने वाले हैं। इन राज्यों को आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश का सामना करना पड़ सकता है। मौसम विभाग ने आज देश के कई राज्यों में भारी बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की है। इस अलर्ट के कारण हरियणा सरकार ने सोमवार और मंगलवार को सभी स्कूल बंद करने का फैसला किया है। दिल्ली में आज हल्की बारिश के साथ धूल भरी आंधी चल सकती है। 13 राज्यों में अलर्ट देश के कम से कम 13 राज्यों और दो केन्द्र शासित प्रदेशों में आंधी-तूफान और भारी बारिश की आशंका है। गृह मंत्रालय के अनुसार जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कुछ स्थानों पर आंधी-तूफान और ओलावृष्टि के साथ बारिश हो सकती है जबकि उत्तराखंड और पंजाब के कुछ स्थानों पर गरज के साथ बारिश आ सकती है और तेज हवाएं चल सकती हैं। मौसम विभाग के की चेतावनी का उल्लेख करते हुए गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ स्थानों पर आज भारी बारिश हो सकती है। अधिकारी के मुताबिक जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ , दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर भी गरज के साथ बारिश हो सकती है और तेज हवाएं चल सकती हैं। अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान के कुछ स्थानों पर धूल भरी आंधी चल सकती है और गरज के साथ बारिश हो सकती हैं। बता दें कि पिछले सप्ताह भी पांच राज्यों में धूल भरी आंधी और तेज बारिश हुई थी जिसके कारण 124 लोगों की मौत हो गई थी और 300 से अधिक लोग घायल हो गए थे। जानें क्यों आया उत्तर भारत में 'महा-तूफान' X हरियाणा में दो दिन स्कूल बंद भयंकर तूफान और बारिश की आशंकाओं के बीच हरियाणा सरकार ने इन दोनों दिनों के लिए प्रदेश के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों की छुट्टियां घोषित कर दी हैं। राज्य के शिक्षा मंत्री प्रफेसर रामविलास शर्मा ने इसकी पुष्टि की है। हरियाणा के करीब 350 प्राइवेट औ 575 सरकारी स्कूलों को 2 दिनों तक बंद रखने का आदेश दिया गया है। गरज के साथ बारिश और धूल भरी आंधी चल सकती है मौसम विभाग के अनुसार इस दौरान गरज के साथ बारिश और तेज हवाएं चल सकती हैं। विभाग के अनुसार इस दौरान 50 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से हवा चल सकती है। मौसम विभाग के अनुसार राजधानी दिल्ली में सोमवार को हल्की बारिश के साथ धूल भरी आंधी चल सकती है। मंगलवार को भी कुछ ऐसी ही संभावना जताई गई है। 4 मई के तूफान जैसा शक्तिशाली होने की उम्मीद नहीं: मौसम विभाग मौसम विभाग ने बताया कि इस तूफान के 4 मई को आए विनाशकारी तूफान जैसा शक्तिशाली होने की उम्मीद नहीं है। विभाग के अनुसार उत्तरपूर्व राजस्थान और उसके पड़ोसी राज्यों के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ बनने के कारण उत्तर भारत में आंधी-तूफान और बारिश होगी। चेतावनी बताया गया है कि आंधी-तूफान के इस दौर का असर बुधवार तक रह सकता है। मंगलवार को ज्यादा बारिश हो सकती है। आंधी-तूफान के दौरान बरतें ये सावधानियां -घरों में ही रहें, जरूरत पड़ने पर ही बाहर निकलें। -गाड़ियों को पेड़ों के नीचे न खड़ी करें। आंधी-तूफान आने के दौरान पेड़ों का सहारा न लें। -तेज आंधी-तूफान आने पर घरों से बाहर सुरक्षित स्थान पर बैठ जाएं। -चक्रवात और तूफान कुछ ही घंटों में दिशा और गति बदल सकता है। अलर्ट को लेकर अपडेट रहें। -खुले पड़े तख्तों, लोहे की नाली, चादरों, कूड़े के डिब्बों या ऐसे अन्य सामान को कसकर बांध दे या स्टोर में रखें। -बड़ी खिड़कियों को टेप लगाकर बंद कर दें। -मकान के मजबूत हिस्से की ओर घर के अंदर रहें। -छत उड़ने लगे तो घर की ओट वाली खिड़कियों को खोल दें। -यदि खुले में हैं तो बचने के लिए ओट लें, तूफान शांत होने पर ही बाहर निकलें। -वाहन से सफर कर रहे हैं तो पेड़ के नीचे वाहन न रोकें। -गैस, बिजली और पानी का कनेक्शन बंद कर दें। -पालतू जानवरों को बांधकर न रखें। बिजली के पोल से दूर रहें।

Burhan Wani : burhan wani gang is cleaned by security forces know who they are | बुरहान वानी गैंग के सभी 11 आतंकियों का हुआ सफाया, जानें, कौन थे ये - Navbharat Times Hindi Newspaper

Monday, May 7 2018

Burhan Wani : burhan wani gang is cleaned by security forces know who they are | बुरहान वानी गैंग के सभी 11 आतंकियों का हुआ सफाया, जानें, कौन थे ये - Navbharat Times Hindi Newspaper

श्रीनगर/नई दिल्ली जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों की ओर से रविवार को 5 आतंकियों को ढेर किए जाने के बाद बुरहान वानी गैंग का सफाया हो गया है। मुठभेड़ में मारा गया हिजबुल मुजाहिदीन का कमांडर सद्दाम पैडर बुरहान वानी गैंग का आखिरी मेंबर था। 2015 में बुरहान संग 11 आतंकियों की तस्वीर सोशल मीडिया में आई थी, जिससे समूची घाटी में सनसनी फैल गई थी। बुरहान 8 जुलाई 2016 को एनकाउंटर में मारा गया था। इसके बाद से ही ये आतंकी सेना और अन्य सुरक्षा बलों के निशाने पर थे। 5 घंटे चली मुठभेड़ में ढेर हुए पांचों करीब पांच घंटे चली मुठभेड़ में पांचों आतंकी मारे गए। सेना और एसओजी के एक-एक जवान भी घायल हुए हैं। सद्दाम पर 15 लाख का इनाम था। मारे गए अन्य आतंकी तौसीफ शेख, आदिल मलिक और बिलाल उर्फ मौलवी हैं। बिलाल पुलवामा का इनचार्ज और आदिल आतंकी संगठन के लिए फंड जुटाता था। जानें, कौन थे ये 11 आतंकी बुरहान वानी गैंग में शामिल 11 लोगों में से 10 लोग मारे गए हैं, जबकि एक अन्य तारिक पंडित ने सुरक्षा बलों के समक्ष सरेंडर कर दिया था। मारे गए आतंकियों के नाम हैं- सद्दाम पैडर, बुरहान वानी, आदिल खांडे, नसीर पंडित, अफ्फाक बट, सब्जार बट, अनीस, अश्फाक डार, वसीम मल्ला और वसीम शाह। 36 घंटे ही आतंकी रहा प्रफेसर कश्मीर यूनिवर्सिटी में सोशल साइंस का असिस्टेंट प्रफेसर मोहम्मद रफी बट अचानक शुक्रवार दोपहर लापता हो गया था। गंदरबल के चुनडिना इलाके के रहने वाले बट ने उस दिन आखिरी बार मां से बात की थी, लेकिन अपने आतंकी मंसूबों की भनक नहीं लगने दी। रविवार सुबह बट ने शोपियां से पिता को फोन कर उन्हें दुख पहुंचाने के लिए माफी मांगी। पुलिस टीम के कहने पर परिवार वाले उन्हें सरेंडर के लिए मनाने आए, पर तब तक मौत हो चुकी थी। नैशनल कॉन्फ्रेंस के उमर अब्दुल्ला ने कहा कि यह उन लोगों के लिए जवाब है, जो घाटी की हिंसा के हल के रूप में नौकरी और विकास को देखते हैं। मसखरा सद्दाम पहले पत्थरबाज था, फिर आतंकी बना शोपियां के हेफ गांव का सद्दाम पैडर स्कूल छोड़ने के बाद पिता के साथ भेड़ों की देखभाल करता था। किसी की नकल उतारने में वह बहुत माहिर था। बचे समय में गांव के चौराहे पर वह इसके जरिए लोगों को हंसाता या फिर मैदान में विकेट कीपिंग करता नजर आता था। धीरे-धीरे वह पत्थरबाजों के साथ आया और आतंकियों को लिए काम करने लगा। साल 2014 में वह देशविरोधी प्रदर्शन में पकड़ा गया। अचानक एक दिन वह गायब हो गया और फिर उसकी तस्वीर बुरहान के साथ नजर आई। बुरहान के बाद सद्दाम ने शोपियां, पुलवामा, अवंतीपुरा में हिजबुल के काडर को संभालने, नए लड़कों की भर्ती और नए ठिकाने तैयार करने में अहम भूमिका निभाई।

Karnataka SSLC 2018 results to be declared today at 11 am; check your score at karresults.nic.in

Monday, May 7 2018

Karnataka SSLC 2018 results to be declared today at 11 am; check your score at karresults.nic.in

Tweet The Karnataka Secondary Education Examination Board is likely to release the Karnataka SSLC Results 2018 for Class 10 today, according to media reports. Candidates can check the results at — kseeb.kar.nic.in and karresults.nic.in . The results are likely to be declared at 11 am, reported News18 . Representational image. PTI According to The Indian Express , a meeting is scheduled to be held on Friday to decide the exact date and time of the results. About 8.35 lakh students have appeared for the SSLC exams. A total of 51 candidates were debarred from examinations for indulging in malpractices. A total of 2.73 percent students did not appear in the examinations, as per the state education board, the report added. According to NDTV , the Karnataka Secondary School Leaving Certificate or SSLC exam was concluded on 6 April 2018. The exams were conducted smoothly across 2,817 examination centres in the state. The NDTV report also quoted state Primary and Secondary Education Minister Tanveer Sait saying that starting next year, a separate examination board will conduct the SSLC and the second PU exams. According to News18 , here are the steps to check the Karnataka SSLC results: 1) Log on to official websites kseeb.kar.nic.in or karresults.nic.in. 2) Click on the notification on the home page for the Kerala SSLC results 2018. 3) Enter your roll number in the fields provided. 4) Click to submit. 5) Download the Karnataka SSLC Class 10 Results 2018 and take a print for future reference. 09:29 AM Tags : #Class 10th #Exams #Karnataka #Karnataka Secondary Education Examination Board #Karnataka SSLC Results 2018 #NewsTracker #Results #SSLC Exams Also Watch IPL 2018: Royal Challengers Bangalore eye revival against Chennai Super Kings as 'Cauvery Derby' comes back to life Thursday, April 26, 2018 In the Kanjarbhat community, a campaign against 'virginity tests' is slowly gaining ground Tuesday, April 24, 2018 It's A Wrap: Beyond the Clouds stars Ishaan Khatter, Malavika Mohanan in conversation with Parul Sharma Monday, April 9, 2018 48 hours with Huawei P20 Pro: Triple camera offering is set to redefine smartphone imaging Monday, April 16, 2018 Rajyavardhan Singh Rathore interview: Sports can't be anyone's fiefdom, we need an ecosystem to nurture raw talent Also Watch

BSE Odisha Class 10 (Matric) Result 2018 declared: Baleshwar records highest pass percentage; check score on bseodisha.nic.in

Monday, May 7 2018

BSE Odisha Class 10 (Matric) Result 2018 declared: Baleshwar records highest pass percentage; check score on bseodisha.nic.in

Tweet The Board of Secondary Education, Odisha declared the BSE Odisha Class 10 (Matric) Results 2018 today at 9 am. Students can check their score on board's official results portals bseodisha.nic.in, once the results go live at 12 pm, reports said. Results for the Class 10 Board exam will also be available on orissaresults.nic.in or results.nic.in . According to NDTV , Baleswar district has recorded the highest pass percentage of 88.25 percent, whereas the overall pass percentage stands at 76.23 percent. Odisha School and Mass Education Minister Badri Narayan Patra released the BSE Class 10 results from the Cuttack Central Office of the board, the report said. Over 6 lakh students appeared for the Class 10 Matriculation exams that were held between 23 February to 8 March, Zee News reported. The Board of Secondary Education, Odisha is a committee formed under the Odisha Secondary Education Act, 1953. The board regulates and develops secondary education in Odisha. Steps to check the result - Go to the websites bseodisha.nic.in or orissaresults.nic.in - Click on 'Class 10th Result 2018' and enter name and registration number - Click submit and take a printout of the result for future reference 09:45 AM Tags : #Board Of Secondary Education #BSE Odisha Class 10 (Matric) Results 2018 #Class 10 Matriculation Exams #NewsTracker #Odisha Board Of Secondary Education #Www.Bseodisha.Nic.In Also Watch IPL 2018: Royal Challengers Bangalore eye revival against Chennai Super Kings as 'Cauvery Derby' comes back to life Thursday, April 26, 2018 In the Kanjarbhat community, a campaign against 'virginity tests' is slowly gaining ground Tuesday, April 24, 2018 It's A Wrap: Beyond the Clouds stars Ishaan Khatter, Malavika Mohanan in conversation with Parul Sharma Monday, April 9, 2018 48 hours with Huawei P20 Pro: Triple camera offering is set to redefine smartphone imaging Monday, April 16, 2018 Rajyavardhan Singh Rathore interview: Sports can't be anyone's fiefdom, we need an ecosystem to nurture raw talent Also Watch

Thunderstorm, Rain Likely to Hit 13 States, 2 UTs Today; Schools in Haryana to Remain Closed Till May 8

Monday, May 7 2018

Thunderstorm, Rain Likely to Hit 13 States, 2 UTs Today; Schools in Haryana to Remain Closed Till May 8

> India Thunderstorm, Rain Likely to Hit 13 States, 2 UTs Today; Schools in Haryana to Remain Closed Till May 8 13 States, 2 UTs On Storm Alert Till May 8; Haryana Schools to Remain Shut For 2 Days Updated: May 7, 2018 6:42 AM IST IN PICS: Panchkula flooded with Gurmeet Ram Rahim Singh’s followers; high alert in Punjab and Haryana! New Delhi, May 7: The India Meteorological Department (IMD) has issued a fresh advisory stating that thunderstorm along with squall, hail and heavy rains is likely to hit 13 states including national capital, adjoining NCR and two Union Territories. Following the warning, schools in Haryana have been asked to remain closed over the next two days. State Education Minister Ram Bilas Sharma said the decision to keep schools closed on May 7 and 8 has been taken in view of the MeT Depatment’s warning. An advisory of the India Meteorological Departmen t said that thunderstorm and rain would occur over Faridabad, Ballabhgarh, Khurja, Greater Noida, Bulandshahr, Jammu and Kashmir, Uttarakhand, Himachal Pradesh, Punjab, Haryana, Chandigarh. Speaking about the possible weather situation, IMD director Manmohan Singh said, “Rainfall is expected in many regions of the state between 6 and 8 May, and a warning for thunderstorm and strong winds on 7 and 8 May has been issued for Shimla, Solan, Hamirpur, Mandi, Kangra and Una districts.” The IMD also stated that light rain to thunder showers might occur at isolated places during next 48-72 hours in Punjab. It also said that Rain/ thunder shower activity is likely to increase in intensity and spread between 7-8 May. “Thunderstorm accompanied with Squall is also likely at isolated places during this period,” the Indian Meteorological Department said. It also predicted that thunderstorm with rain to occur over and adjoining areas of Meerut, Hapur, Muzaffarnagar and Bijnor on Sunday. Dust storm along with thunderstorm is likely at Rajasthan. On the other hand northeastern states like Assam, Meghalaya, Nagaland, Manipur, Mizoram and Tripura may witness heavy rains today. Earlier on May 2, 124 people were killed while more than 300 injured due to thunderstorm and lightning in five states including West Bengal, Odisha, Bihar and Uttar Pradesh. The maximum casualty was reported in UP where 73 people were killed, while 91 others were injured. In Rajasthan, altogether 35 people were killed and 206 injured, while eight people were killed in Telangana, six in Uttarakhand and two in Punjab. Nearly 100 people were injured in Telangana, Uttarakhand and Punjab. 6:41 AM IST | Updated Date: May 7, 2018 6:42 AM IST Topics:

मॉम के साथ आलिया भट्ट ने देखी ‘राज़ी’, रणबीर कपूर समेत ये सब भी आये नज़र, देखें तस्वीरें

Monday, May 7 2018

मॉम के साथ आलिया भट्ट ने देखी ‘राज़ी’, रणबीर कपूर समेत ये सब भी आये नज़र, देखें तस्वीरें

मॉम के साथ आलिया भट्ट ने देखी ‘राज़ी’, रणबीर कपूर समेत ये सब भी आये नज़र, देखें तस्वीरें Publish Date:Tue, 08 May 2018 07:20 AM (IST) श्वेता बच्चन समेत और भी कई सेलेब्स ‘राज़ी’ के इस स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान नज़र आये.. मुंबई। आलिया भट्ट की आने वाले फ़िल्म ‘राज़ी’ को लेकर गहमागहमी शुरू हो गयी है। रविवार को इस फ़िल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गयी, जिसमें आलिया भट्ट अपनी मॉम सोनी राजदान के साथ पहुंची। यह फ़िल्म 11 मई को रिलीज़ हो रही है। गौरतलब है कि फ़िल्म का ट्रेलर लोगों को खूब पसंद आया है। फ़िल्म की कहानी ‘कॉलिंग सहमत’ नामक किताब पर आधारित है। स्क्रीनिंग के मौके पर आलिया भट्ट कुछ इस अंदाज़ में कैमरे में कैद हुईं। यह भी पढ़ें: सलमान ख़ान जोधपुर में, 5 साल की सजा को दी है चुनौती, देखें तस्वीरें मेघना गुलज़ार के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है। आलिया के मॉम के साथ मेघना की यह तस्वीर स्क्रीनिंग के दौरान की हैं। यह भी पढ़ें फ़िल्म ‘राज़ी’ में आलिया भट्ट के साथ विक्की कौशल भी हैं! विक्की एक पाकिस्तानी आर्मी ऑफिसर की भूमिका में हैं जो एक कश्मीरी लड़की से शादी करते हैं। विवाह के बाद वो अपनी बेगम के जरिए भारतीय सेना को ऐसी गुप्त सूचनाएं देता है जिससे भारतीय सेना के जवानों की जान बच जाती है। आलिया वही कश्मीरी लड़की के रोल में हैं। फ़िल्म ‘राज़ी’ को करण जौहर का धर्मा प्रोडक्शंस और जंगली पिक्चर्स बना रहा है। करण इस मौके पर कुछ इस अंदाज़ में नज़र आये! यह भी पढ़ें इनके अलावा रणबीर कपूर भी इस स्क्रीनिंग के दौरान पहुंचे। रणबीर और आलिया फ़िल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ में साथ काम कर रहे हैं। यह भी पढ़ें: बोनी कपूर ने बेटियों के साथ ग्रहण किया श्रीदेवी का नेशनल अवॉर्ड, देखें तस्वीरें श्वेता बच्चन समेत और भी कई सेलेब्स ‘राज़ी’ के इस स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान नज़र आये। बता दें कि ‘राज़ी’ के अलावा आलिया रणवीर सिंह के साथ फ़िल्म ‘गल्ली बॉय’ के लिए भी ख़बरों में हैं! By Hirendra J