चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय in Hindi

स्लाइड शो चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय चप्पल टूटना या खोना बदकिस्मत भविष्य का इशारा है, तुरंत करें ये उपाय Om , Oct 03, 2017 04:44pm 115K आध्यात्मिक डायरी में जोड़ें। 1/11 1 शनि की दशाएं
शनि हमेशा बुरे प्रभाव नहीं देता लेकिन अगर यह शुभ भाव में ना हो तो अक्सर इसके दुष्परिणाम व्यक्ति को भुगतने पड़ते हैं। लेकिन अपने दंड का पात्र बनाने से पूर्व कुछ संकेत देकर शनिदेव इसकी सूचना आपको पहले दे देते हैं। इसलिए अगर इसे समझकर इसके उपाय कर लें तो अपनी बदकिस्मती से आप बहुत हद तक बच सकते हैं। क्या हैं वो बुरे प्रभाव आगे जानें... 2/11 2 चप्पल का टूटना या खोना
शनि का प्रभाव पैरों पर होता है, इसलिए अहानक अगर चप्पल टूटने लगे तो समझें कि शनि का ही कुप्रभाव है और आने वाले जीवन में आपको एक नहीं कोई समस्याएं झेलनी पड़ेंगी। इसके अलावा चप्पल का खोना भी आपके भविष्य के लिए बुरा संदेश देता है। 3/11 3 चप्पल का टूटना या खोना
इसलिए अगर आपकी चप्पल बार-बार खोने लगे या चोरी हो जाए तो यह शनि के कुप्रभाव और भविष्य में आने वाले संकटों का सूचक है। ऐसे में जितना संभव हो शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय जरूर करें। 4/11 4 उपाय
इसमें सबसे प्रभावशाली होता है गरीबों-जरूरतमंदों की मदद करना। आप कितने भी शनि को शांत करने के उपाय करें, यह उन सबसमें सबसे ज्यादा प्रभावशाली और जल्दी प्रभाव दिखाने वाला होता है। 5/11 5 उपाय
इसके अलावा शमी और पीपल के पेड़ की नियमित पूजा औक संध्या काल में इसके नीचे सरसों तेल का दीपक जलाना भी आपको भविष्य की परेशानियों से बचाने में कारगर होगा। शनिवार के दिन किसी पात्र में सरसों का तेल रखकर उसमें अपना मुख देखकर दान करना भी शनि को जल्दी प्रसन्न करता है। आगे की स्लाइड्स में हम आपको अशुभ शनि के कुछ अन्य संकेत बता रहे हैं। 6/11 6 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां
अगर नौकरी, व्यापार या जिस भी क्षेत्र में आप कार्यरत हैं, अचानक उसमें सबकुछ आपके विपरीत होने लगे तो समझें कि शनिदेव आपसे प्रसन्न नहीं हैं और निकट भविष्य में आपको और भी बुरी परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा। 7/11 7 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां
इन विपरीत परिस्थितियों में कुछ भी हो सकता है जैसे अचानक जॉब बदलने या छोड़ने की स्थिति आना, नौकरी में कहीं ऐसी जगह ट्रांसफर होना जहां आप बिल्कुल जाना ना चाहते हों, किसी ऐसे अधिकारी या कर्मचारी का आना जो आपकी परेशानी का कारण बन रहा हो आदि। 8/11 8 कार्यक्षेत्र में अचानक की परेशानियां
शनि को न्याय का देवता माना जाता है, इसलिए शनि के कुपित होने के कारण कुछ भी बुरा होने का अर्थ है कि आपके किसी अन्य बुरे कर्म का फल इस प्रकार मिल रहा है। इसलिए अपने कार्यों का विश्लेषण करते हुए शनिदेव से अपनी भूलों-गलतियों के लिए क्षमा प्रार्थना करें और शास्त्रीय उपाय भी करें। 9/11 9 कर्ज
शनिदेव के कृपापात्र आर्थिक रूप से संपन्न भी रहते हैं और आर्थिक नुकसान से भी बचे रहते हैं। इसलिए अगर किसी भी प्रकार से अचानक आर्थिक नुकसान की स्थिति पैदा हो जैसे व्यापार में घाटा होना, परिवार में किसी का बीमार पड़ना, आक्समिक दुर्घटना, किसी से धोखा मिलना, चोरी होना आदि तो समझें आपके जीवन में शनि की बुरी दशाओं का दौर शुरु हो चुका है। 10/11 10 कर्ज
ऐसे में आपको बार-बार कर्ज लेने की भी जरूरत पड़ेगी और जल्दी कर्ज भी चुका पाने की स्थिति में आप नहीं होंगे। परिस्थितियां आपको मानसिक रूप से परेशान करेंगी और इस कारण आप शारीरिक अस्वस्थता के शिकार भी हो सकते हैं। 11/11 11 कर्ज
शनि की यह बुरी दशा कुछ ऐसी होती है कि आप अपनी मुश्किलों से निकलने का रास्ता ढूंढेंगे भी, तो उसमें भी परेशानियां ही आएंगी। अगर आप कर्ज चुकाने का प्रयास करेंग़े तो वह भी किसी ना किसी कारण चुका पाने में सफल नहीं हो सकेंगे, वे कारण कुछ ऐसे होंगे कि आपने कभी ऐसा होने की कल्पना भी नहीं की होगी। 1 कमेंट Read Write संबंधित लेख